पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बकरीद पर 6 सेक्टर में बांटा गया मुरादाबाद:शहर इमाम की अपील- घरों पर नमाज पढ़ें लोग, कोविड गाइड लाइन का करें पालन, प्रशासन ने कहा, सार्वजनिक स्थानों पर न करें कुर्बानी

मुरादाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बकरीद के मद्देनजर DM-SSP ने ईदगाह का निरीक्षण किया। कोविड महामारी के चलते बकरीद की नमाज ईदगाह में नहीं होगी। - Dainik Bhaskar
बकरीद के मद्देनजर DM-SSP ने ईदगाह का निरीक्षण किया। कोविड महामारी के चलते बकरीद की नमाज ईदगाह में नहीं होगी।

ईद उल जुहा के लिए शहर को 6 सेक्टर में बांटकर सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए गए हैं। DM-SSP ने ई्दगाह, जामा मस्जिद और अन्य स्थानों का दौरा करके सुरक्षा इंतजामों का जायजा भी लिया। प्रशासन की पहल पर शहर इमाम सैय्यद मासूम अली आजाद ने ऐलान किया है कि बकरीद की नमाज ईदगाह में नहीं होगी।

DM शैलेंद्र कुमार सिंह और SSP पवन कुमार ने मंगलवार को ईदगाह, जामा मस्जिद और शहर के मिश्रित इलाकों का दौरा किया। अधिकारियों ने धर्म गुरुओं से भी मुलाकात की। सुरक्षा के मद्देनजर सदर तहसील क्षेत्र को 6 सेक्टरों में बांटकर मजिस्ट्रेट और सीओ तैनात किए गए हैं।

शहर इमाम की अपील, घरों पर पढ़ें नमाज

शहर इमाम सैय्यद मासूम अली आजाद।
शहर इमाम सैय्यद मासूम अली आजाद।

शहर इमाम सैय्यद मासूम अली आजाद और नायब शहर इमाम मुफ्ती सैय्यद फहद अली ने लोगों से अपील की है कि कोविड गाइड लाइन का पूरी सख्ती से पालन करें। दोनों ने कहा है कि ईदगाह पर नमाज नहीं होगी। उन्होंने लोगों से अपने घरों पर ही नमाज पढ़ने की अपील की है। मस्जिदों में 50 से अधिक संख्या में लोग इकट्ठा नहीं होंगे। मस्जिदों में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ अधिकतम 50 लोगों को ही नमाज पढ़ने की अनुमति है।

प्रतिबंधित पशुओं की कुर्बानी न करने की हिदायत

DM-SSP ने शहर के मिश्रित आबादी वाले इलाकों का भी दौरा किया।
DM-SSP ने शहर के मिश्रित आबादी वाले इलाकों का भी दौरा किया।

जिला प्रशासन ने हिदायत दी है कि प्रतिबंधित पशुओं की कुर्बानी किसी भी सूरत में नहीं की जाए। इसके साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर कुर्बानी पर भी रोक लगाई गई है। लोग अपने घरों पर ही कुर्बानी करेंगे। एडीएम सिटी आलोक कुमार वर्मा ने बताया कि सुरक्षा के कड़े बंदोस्त किए गए हैं। लोगों से छोटी - छोटी मीटिंगें करके सभी को समझाया गया है। ADM सिटी ने बताया कि प्रतिबंधित पशुओं की कुर्बानी नहीं करने के लिए सभी को आगाह किया गया है। मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में खास तौर पर सतर्कता बरती जाएगी। पशुओं का औज आदि खुले में नहीं फेंकने के निर्देश दिए गए हैं।

खबरें और भी हैं...