• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Moradabad
  • Three Children Of A Family Playing In The Field Drowned In A Pit Filled With Water, Chaos In The Family; Demand For Action Against Kiln Owner From SDM

संभल में भाई-बहन समेत 3 बच्चों की मौत:खेत में खेलने गए एक परिवार के तीन बच्चे पानी भरे गड्ढे में डूबे, परिजनों में कोहराम; SDM से भट्टा मालिक के खिलाफ कार्रवाई की मांग

संभल4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बच्चों की मौत के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। - Dainik Bhaskar
बच्चों की मौत के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

संभल में एक ही परिवार के तीन बच्चों की पानी भरे गड्ढे में डूबने से मौत हो गई। बच्चे खेत पर खेलने गए थे। काफी मशक्कत के बाद बच्चों को पानी से बाहर निकाला गया। पानी से निकालने के बाद परिजन बच्चों को लेकर अस्पताल गए लेकिन डॉक्टरों ने बच्चों को मृत घोषित कर दिया। हादसे में दो सगे भाई-बहन समेत एक ही परिवार के तीन बच्चों की मौत होने से परिवार में कोहराम मच गया। घटना की सूचना मिलते ही एसडीएम और सीओ परिवार से मिलने पहुंचे। घटना जिले के हजरतनगर गढ़ी थाना क्षेत्र के गांव शाहपुर मिलक की है।

क्या है पूरा मामला?
गांव शाहपुर मिलक गांव के निवासी भयंकर सिंह का बेटा निर्भय (12) अपनी छोटी बहन (10) बहन श्रद्धा अपने चचेरे भाई युग (8) पुत्र सर्वेंद्र सिंह के साथ खेत पर खेलने गए थे। काफी देर बाद जब बच्चे घर वापस नहीं लौटे तो परिजनों ने उनकी तलाश शुरू की। इस बीच खेत के पास बने हुए ईट भट्टे के गड्ढे के पास बच्चों की चप्पले पड़ी दिखी। भयंकर सिंह को अनहोनी की आशंका हुई वो उन्होंने गड्ढे में कूद गए। गड्ढे में पानी ज्यादा होने पर वो डूबने लगे। इस बीच पास के खेत में धान की रोपाई कर रहे लोगों ने उनको डूबता देखा तो उनकी ओर भागे और उनको गड्ढे से बाहर निकाला। इसके बाद गांव के एक तैराक को बुलाया गया। तैराक ने गहरे पानी में उतरकर बच्चों की तलाश शुरू की। काफी देर मशक्कत के बाद बच्चों को बाहर निकाला जा सका।

बच्चों को गड्ढे से बाहर निकलाने के बाद परिजनों ने बच्चों को मुरादाबाद के निजी अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने सगे भाई बहन निर्भया, श्रद्धा और चचेरे भाई युग समेत तीनो बच्चों को मृत घोषित कर दिया। एक ही परिवार के तीन बच्चों की मौत के बाद परिवार में कोहराम मच गया।

घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने परिजनों से की बात।
घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने परिजनों से की बात।

परिजनों ने की कार्रवाई की मांग
हादसे की सूचना मिलते ही एसडीएम दीपेंद्र यादव और सीओ अरुण कुमार सिंह हजरतनगर गढ़ी थाना प्रभारी सतीश यादव के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने परिजनों से घटना की जानकारी ली। उन्होंने परिजनों को मदद का आश्वासन दिया। इस बीच परिजनों ने भट्टे मालिक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। पुलिस ने तीनों बच्चों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

नहीं मिली पुलिस को तहरीर
एसडीएम दीपेंद्र यादव ने बताया कि, तीनों बच्चों के शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। जो भी मदद होगी वह दी जाएगी। वहीं, सीओ अरुण कुमार सिंह ने बताया कि, अभी तक परिजनों की ओर से तहरीर नहीं मिली है। परिजनों की ओर से तहरीर मिलने के बाद केस दर्ज कर भट्टे मालिक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...