अमरोहा में पेड़ पर लटका मिला रेप पीड़िता का शव:पिता बोले- रेपिस्ट ने बेटी की हत्या कर पेड़ पर लटकाया, इंस्पेक्टर और 2 सिपाही सस्पेंड

अमरोहा/ मुरादाबाद7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अमरोहा में रेप पीड़िता का शव पेड़ पर लटका मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस। - Dainik Bhaskar
अमरोहा में रेप पीड़िता का शव पेड़ पर लटका मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस।

अमरोहा में एक रेप पीड़िता का शव पेड़ पर लटका मिला है। पीड़िता के साथ एक महीने पहले गांव के ही युवक ने घर में घुसकर दुष्कर्म किया था। पुलिस आरोपी को बचाने में जुटी थी। एक महीने से भी अधिक समय बीतने के बावजूद आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया था। परिजनों के कम पढ़े लिखे होने का फायदा उठाकर पुलिस ने तहरीर से रेप की बात हटाकर मामला छेड़खानी में दर्ज किया था। परिजनों का आरोप है कि रेपिस्ट ने अपने भाई के साथ मिलकर उनकी बेटी की हत्या की है। SP ने इंस्पेक्टर समेत 3 पुलिस कर्मियों को निलंबित किया है।

दबंग ने घर में घुसकर किया था रेप

16 वर्षीय लड़की के साथ रेप की यह घटना आदमपुर थाना क्षेत्र के एक गांव की है। घटना 25 सितंबर को उस समय घटी जब पीड़िता घर में अकेली थी। गांव का दबंग मोनू शर्मा घर में घुस आया और उसने लड़की से जबरन रेप किया। जाते समय लड़की को धमकी दी कि किसी को बताया तो उसे जान से मार देगा।

पुलिस ने FIR से गायब की रेप की धारा

लड़की ने परिजनों के लौटने पर घटना की जानकारी दी तो पिता और चाचा रिपोर्ट लिखाने आदमपुर थाने गए। लेकिन इंस्पेक्टर और सिपाही सुमित ने पीड़िता के परिजनों के कम पढ़े लिखे होने का फायदा उठाया। मनचाही तहरीर लिखकर साइन करा लिए। रिपोर्ट से रेप की बात गायब करके छेड़छाड़ की धाराओं में FIR दर्ज कर ली। पीड़िता की उम्र भी 19 वर्ष दर्शा दी ताकि आरोपी पर पॉक्सो एक्ट लगने से बचाया जा सके। परिजनों का कहना है कि सिपाही सुमित का आरोपी के घर खूब आना जाना है। इसलिए पुलिस ने रेप और पॉक्सो एक्ट के बजाए मामले को छेड़खानी में दर्ज किया।

तुझे मार देंगे तो कौन देगा गवाही

नाबालिग लड़की से घर में घुसकर रेप करने वाले मोनू शर्मा का इलाके में दबदबा बताया जाता है। पुलिस में भी उसकी ठीक पैठ है। यही वजह है कि उसके खिलाफ छेड़खानी का मुकदमा दर्ज होने के एक महीने बाद भी पुलिस उसे पकड़ नहीं सकी। पुलिस ने एक भी बार उसके घर दबिश भी नहीं दी थी।

यही वजह है कि मोनू और उसके घर वालों का दुस्साहस बढ़ता गया। उन्होंने पीड़ित पक्ष को मुकदमा वापस लेने के लिए धमकाना शुरू किया। परिजनों का कहना है कि 2 दिन पहले ही मोनू शर्मा की मां ने भी पीड़िता को धमकाया था। कहा था कि यदि तुझे ही मार देंगे तो फिर मुकदमे की पैरवी और गवाही कौन देगा।

परिजन बोले - बेटी के हाथ पैर बंधे थे

रेप पीड़िता का शव रविवार सुबह करीब 8 बजे गांव से बाहर जंगल में एक पेड़ पर लटका मिला। यह खेत पीड़िता के पिता का ही है। पीड़िता रविवार तड़के घर से निकली थी। परिजनों का कहना है कि उन्होंने बेटी को घर और घेर (बैठक) पर ढूंढा लेकिन वह नहीं मिली। इसके बाद पता चला कि उसका शव खेत पर एक पेड़ से लटका हुआ है।

मृतका के पिता का कहना है कि वह अपने परिवार के लोगों के साथ बदहवास हालत में दौड़कर मौके पर पहुंचे। पिता का कहना है कि उनकी बेटी के हाथ पैर बंधे हुए थे और उसका शव पेड़ पर लटक रहा था। उसे मारकर पेड़ पर लटकाया गया था। पिता ने बताया कि उन्होंने मौके से रेपिस्ट मोनू शर्मा और उसके भाई सोनू को मौके से भागते हुए देखा था।

SP ने इंस्पेक्टर और 2 सिपाही सस्पेंड किए

SP अमरोहा पूनम का कहना है कि 16 वर्षीय रेप पीड़िता की संदिग्ध हालात में मौत हुई है। एक महीना पहले उसने गांव के ही एक युवक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। आदमपुर पुलिस पर कुछ आरोप थे। इंस्पेक्टर और 2 सिपाहियों को निलंबित कर दिया गया है। परिजनों की तहरीर के आधार पर 3 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की जा रही है।

खबरें और भी हैं...