मुरादाबाद के निजी अस्पताल में लगी आग:तड़के 4 बजे लपटों से घिरा जिज्ञासा हॉस्पिटल, मरीजों में मची चीख- पुकार, फायर ब्रिगेड ने किया रेस्क्यू

मुरादाबाद5 महीने पहले
मुरादाबाद मेंं जिज्ञासा नर्सिंग हाेग में मंगलवार तड़के आग लग गई।

मुरादाबाद में गांधी नगर कालोनी में स्थित एक निजी अस्पताल में मंगलवार तड़के आग लग गई। हादसे के समय अस्पताल में करीब 50 मरीज और उनके तीमारदार भी मौजूद थे। अचानक लगी आग से हड़कंप मच गया। घटना गांधीनगर में स्थित डॉ. सीपी सिंह के जिज्ञासा नर्सिंग होम की है। तीन मंजिला अस्पताल के भूतल पर तड़के करीब चार बजे अचानक आग लगी। आग का कारण शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है। फायर ब्रिगेड ने अस्पताल में फंसे मरीजों और उनके तीमारदारों को रेस्क्यू किया। आग की वजह से पूरा हॉस्पिटल जलकर राख हो गया है।

जब तक संभलते, सभी फ्लोर से उठने लगीं लपटें

जिज्ञासा नर्सिंग होम के संचालक डॉ. सीपी सिंह ने बताया कि तीन मंजिला अस्पताल के दरवाजे पर बिजली का मीटर लगा था। रात में ढाई बजे मीटर से कुछ चिंगारी निकलनी शुरू हुई थीं। रात में 3 बजे मीटर से निकली ये चिंगारी अस्पताल के दरवाजे पर खड़ी बाइकों पर गिरने लगीं। इसकी चपेट में आकर बाइकों में आग लग गई। रात होने की वजह से जब तक आग पर ध्यान गया तब तक अस्पताल का भूतल भी आग की चपेट में आ गया।

तड़के 4 बजे अस्पताल से आग की लपटें उठने लगीं। डॉ. सिंह ने बताया कि तुरंत फायर ब्रिगेड और पुलिस को सूचना दी। लेकिन आग इतनी तेज थी कि देखते ही देखते अस्पताल के बाकी फ्लोर पर भी फैल गई। उन्होंने बताया कि अस्पताल के फायर एक्जिट से मरीजों और उनके तीमारदारों को बाहर निकाला गया। डॉ. सिंह का कहना है कि किसी भी मरीज या उसके तीमारदार को आग से नुकसान नहीं पहुंचा है।

नींद में थे मरीज, लपटें देख हुए बदहवास
अस्पताल में तड़के 4 बजे जब आग की लपटें उठना शुरू हुईं, उस समय मरीज और उनके तीमारदार नींद में थे। अचानक अस्पताल को आग की लपटों से घिरा देख मरीजों और उनके तीमारदारों में हड़कंप मच गया। शोर गुल और चीख पुकार के बीच मरीजों को रेस्क्यू करने का काम फायर ब्रिगेड और पुलिस ने शुरू किया। एक - एक करके सभी मरीजों को अस्पताल से सकुशल रेस्क्यू कर लिया गया। इन सभी को एक अन्य नर्सिंग होम में शिफ्ट किया गया है।

मंगलवार तड़के गांधी नगर में जिज्ञासा नर्सिंग होम में आग लग गई।
मंगलवार तड़के गांधी नगर में जिज्ञासा नर्सिंग होम में आग लग गई।

हमने 28 मरीज और उनके तीमारदारों को रेस्क्यू किया
CFO (चीफ फायर ऑफिसर) मुकेश कुमार ने बताया अस्पताल में आग की सूचना पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने 28 मरीजों और तीमारदारों व हॉस्पिटल स्टाफ के 16 लोगों को रेस्क्यू किया है। सभी मरीजों और तीमारदारों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया।

खबरें और भी हैं...