मुरादाबाद...फुफेरे भाई ने की थी बीटेक छात्र की हत्या:सौतेली बहन को पीटता था इसलिए गंडासे से काट दी गर्दन, 10 दिन पहले हाईवे किनारे मिला था शव

मुरादाबाद9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुरादाबाद पुलिस ने 10 दिन पहले हुई बीटेक छात्र सुधीर सैनी की हत्या का खुलासा कर दिया है। - Dainik Bhaskar
मुरादाबाद पुलिस ने 10 दिन पहले हुई बीटेक छात्र सुधीर सैनी की हत्या का खुलासा कर दिया है।

मुरादाबाद में दस दिन पहले बीटेक छात्र सुधीर सैनी की हत्या उसके फुफेरे भाई ने ही की थी। शनिवार को आरोपी शुभम के दोस्त परवेंद्र उर्फ परविंदर सिंह को पकड़ पुलिस ने इसका खुलासा कर दिया। पहले इस मामले में मृतक की प्रेमिका के परिजनों पर शक था। मुख्य अरोपी शुभम अभी तक फरार है।

बिलारी थाना क्षेत्र के गांव ढकिया नरू निवासी सुधीर सैनी पुत्र वीरेंद्र सिंह बरेली कॉलेज में बीटेक का छात्र था। 23 सितंबर, यानि गुरुवार को वह घर से कॉलेज जाने की बात कहकर निकला था। लेकिन, न तो अपने कॉलेज पहुंचा और न ही घर लौटा। 25 सितंबर को मूंढापांडे में दिल्ली - लखनऊ हाईवे के किनारे गणेशघाट में उसका शव मिला था। हत्यारों ने धारदार हथियार से हत्या करने के बाद उसके चेहरे को तेजाब से जला दिया था। जेब से मिले लाइब्रेरी कार्ड से उसकी शिनाख्त हुई थी।

सौतेली बहन को पीटने पर की हत्या

SP सिटी अमित कुमार आनंद ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि मृतक सुधीर अपनी सौतेली बहन से मारपीट करता था। सुधीर के फुफेरे भाई शुभम सैनी के मृतक की सौतेली बहन से अच्छे संबंध थे। इसलिए उसने सुधीर को ठिकाने लगाने की योजना बनाई। इसमें अपने दोस्त परवेंद्र उर्फ परविंदर सिंह पुत्र पुत्र चंद्र कुमार सैनी निवासी शिव नगर जयंतीपुर को भी शामिल कर लिया।

पहले शराब पिलाई फिर की हत्या

एसपी सिटी के मुताबिक शुभम और परवेंद्र दोनों सुधीर को जंगल में ले गए। जहां तीनों ने बैठकर शराब पी। इसी दौरान मौका पाकर शुभम ने गंडासे से उसकी गर्दन काट दी। पहचान मिटाने के लिए उसके चेहरे को जला दिया।

प्रेमिका के घर वालों को किया था नामजद

सुधीर सैनी के पिता ने बेटे की हत्या के बाद उसकी प्रेमिका के घर वालों को नामजद किया था। दरअसल, बीटेक छात्र सुधीर का मुरादाबाद के मझोला थाना क्षेत्र में रहने वाली एक युवती से प्रेम प्रसंग था। घटना से 3 दिन पहले प्रेमिका के परिजनों ने उसकी पिटाई भी कर दी थी। जिसकी वजह से उन्हें लगता था कि सुधीर की हत्या उसकी प्रेमिका के घर वालों ने ही की है। हालांकि पुलिस की जांच में प्रेमिका के घर वालों का इस घटना में कोई रोल नहीं मिला है।

खबरें और भी हैं...