पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विरोध प्रदर्शन में कोरोना को भूले:मुरादाबाद में सपा कार्यकर्ताओं ने निगम ऑफिस पर किया प्रदर्शन, नहीं दिखी सोशल डिस्टेंसिंग; दिखावे के लिए लगाया मास्क

मुरादाबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सपा कार्यकर्ताओं ने मेयर से पूछा कि एक सप्ताह में मासूम समेत दो लोग टूटी पुलिया और खुले पड़े नाले की भेंट चढ़ गए। प्रॉपर तरीके से मास्क न लगाकर कोरोना की आशंका को बढ़ावा देते नजर आए।  - Dainik Bhaskar
सपा कार्यकर्ताओं ने मेयर से पूछा कि एक सप्ताह में मासूम समेत दो लोग टूटी पुलिया और खुले पड़े नाले की भेंट चढ़ गए। प्रॉपर तरीके से मास्क न लगाकर कोरोना की आशंका को बढ़ावा देते नजर आए। 

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में सपा कार्यकर्ताओं ने नगर निगम दफ्तर पर प्रदर्शन कर महापौर और भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। सपा कार्यकर्ताओं ने मेयर से पूछा कि एक सप्ताह में मासूम समेत दो लोग टूटी पुलिया और खुले पड़े नाले की भेंट चढ़ गए। आखिर शहर को गड्ढों, गंदगी और जलभराव से मुक्ति कब मिलेगी। विरोध प्रदर्शन कर रहे सपाइयों ने कोरोना के नियमों को दरकिनार कर दिया। प्रॉपर तरीके से मास्क न लगाकर कोरोना की आशंका को बढ़ावा देते नजर आए।

समाजवादी पार्टी के महानगर अध्यक्ष शाने अली शानू के नेतृत्व में सपा कार्यकर्ताओं ने बुधवार को टाउन हाल स्थित नगर निगम दफ्तर पर प्रदर्शन किया। यहां सपा कार्यकर्ताओं ने भाजपा सरकार और मेयर विनोद अग्रवाल के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। महानगर अध्यक्ष ने कहा कि मानसून सिर पर खड़ा है। लेकिन शहर के नाले - नालियां सिल्ट से अटे पड़े हैं।

आरोप लगाया कि नाला सफाई के नाम पर लाखों रुपये का बजट सिर्फ फाइलों में ही खपा दिया गया। मेन हॉल जगह - जगह खुले पड़े हैं और सड़कों में सीवर के गहरे - गहरे गड्ढे हैं। जो बारिश में जलभराव होने पर नजर नहीं आएंगे और लोग हादसे का शिकार हो सकते हैं। शहर की बदहाल सफाई व्यवस्था पर भी सपा कार्यकर्ताओं ने निगम अफसरों को खरी खोटी सुनाई। प्रदर्शन करने वालों में धर्मेद्र यादव, अतहर हुसैन अंसारी, कैसर अली, नसीम पाशा, असीम आदि थे।

मुआवजा देने की मांग
टूटी पुलिया की वजह से जयंतीपुर में एक व्यक्ति की चार दिन पहले मौत हो गई थी। इसके अलावा संभल रोड पर खुले पड़े नाले में गिरने की वजह से एक नौ वर्ष के बच्चे उवैस की मौत हो गई थी। दोनों ही मामलों में सपा कार्यकर्ताओं ने मेयर से पीड़ित परिवारों को मुआवजा देने की मांग की है।