• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Moradabad
  • On Agra Highway, The Attackers Stopped The Bus By Putting The Truck Ahead, Beat The Students With Sticks, Pelted Stones And Broke The Glass Of The Bus.

मुरादाबाद ...TMU की बस पर हमला, स्टूडेंट्स को पीटा:आगरा हाईवे पर हमलावरों ने ट्रक आगे लगाकर रोकी बस, लाठी - डंडों से छात्र-छात्राओं को पीटा, पथराव कर तोड़े बस के शीशे, 20 घायल

मुरादाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुरादाबाद से स्टूडेंट्स को लेकर बदायूं के बजीरगंज कस्बे को जा रही TMU (तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी) की बस पर आगरा हाईवे पर हमलावरों ने पथराव कर दिया। लाठी - डंडों से स्टूडेंट्स और स्टाफ को पीटा। - Dainik Bhaskar
मुरादाबाद से स्टूडेंट्स को लेकर बदायूं के बजीरगंज कस्बे को जा रही TMU (तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी) की बस पर आगरा हाईवे पर हमलावरों ने पथराव कर दिया। लाठी - डंडों से स्टूडेंट्स और स्टाफ को पीटा।

आगरा हाईवे पर बुधवार शाम हमलावरों ने तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी (TMU) की बस पर हमला बोल दिया। TMU की बस 40 से अधिक छात्र - छात्राओं काे लेकर बदायूं जिले के बजीरगंज कस्बे को जा रही थी। ट्रक सवार लुटेरों ने फिल्मी स्टाइल में आगरा हाईवे पर बस को ओवरटेक करके ट्रक उसके आगे खड़ा कर दिया। इसके बाद ट्रक से उतरे 20 से अधिक हमलावरों ने बस में सवार छात्र - छात्राओं को बस से खींचकर उनकी लाठी-डंडों से पिटाई की। पथराव कर बस के शीशे तोड़ दिए। हमले में 20 से अधिक स्टूडेंट घायल हो गए।

घटना के बाद कुंदरकी थाने में पुलिस को जानकारी देते स्टूडेंट्स।
घटना के बाद कुंदरकी थाने में पुलिस को जानकारी देते स्टूडेंट्स।

कुंदरकी थाने से आधा किमी की दूरी पर हुई घटना

हमलावरों ने वारदात को मुरादाबाद के कुंदरकी थाने से महज 500 मीटर की दूरी पर अंजाम दिया। बताया जा रहा है कि घटना के समय बस में बिलारी, चंदौसी और बदायूं के 40 से अधिक छात्र - छात्राएं सवार थे। स्टूडेंट्स ने बताया कि बस आगरा हाईवे पर स्थित कुंदरकी थाने से बमुश्किल 500 मीटर दूर निकली थी, तभी पीछे से आए एक तेज रफ्तार ट्रक ने बस को ओवरटेक किया। ट्रक चालक ने ट्रक को काटकर बस के आगे लगा दिया और बस रोक ली।

सूचना पर कुंदरकी थाने पहुंचे TMU के सुरक्षा निदेशक आरपी गुप्ता।
सूचना पर कुंदरकी थाने पहुंचे TMU के सुरक्षा निदेशक आरपी गुप्ता।

हमले से बस में मची चीख पुकार

इससे पहले कि कोई कुछ समझ पाता। ट्रक से 20 से अधिक हमलावर उतरे। इनके हाथों में लाठी-डंडे थे। स्टूडेंट्स ने पुलिस को बताया कि हमलावरों ने बस से खींच खींचकर स्टूडेंट्स को पीटना शुरू कर दिया। बस के ड्राइवर और कंडक्टर से भी मारपीट की। इसके बाद बस पर पत्थर बरसाकर बस के शीशे चकनाचूर कर दिए। अचानक हुए इस हमले से स्टूडेंट्स में चीख पुकार मच गई।

हमलावरों ने बस पर पथराव कर बस के शीशे तोड़ दिए। पथराव में बस में सवार 20 छात्र- छात्राएं घायल हुए हैं।
हमलावरों ने बस पर पथराव कर बस के शीशे तोड़ दिए। पथराव में बस में सवार 20 छात्र- छात्राएं घायल हुए हैं।
हमलावरों ने बस पर पथराव कर बस के शीशे तोड़ दिए। पथराव में बस के शीशे टूटे
हमलावरों ने बस पर पथराव कर बस के शीशे तोड़ दिए। पथराव में बस के शीशे टूटे

ओवरटेक करने से खफा था ट्रक ड्राइवर
घटना की वजह अभी तक साफ नहीं है। लेकिन, माना जा रहा है कि बस और ट्रक ड्राइवर के बीच ओवरटेक करने को लेकर कुछ विवाद हुआ था। TMU की बस के कंडक्टर रामप्रसाद का कहना है कि घटनास्थल से थोड़ा पहले बस ने ट्रक को ओवरटेक किया था। इसके बाद ट्रक चालक तेजी से ट्रक लेकर आया और ट्रक को बस के आगे लाकर खड़ा कर दिया।

कुछ दिन पहले भी हुआ था स्टूडेंट्स की बस पर हमला

TMU की बस में सवार स्टूडेंट्स का कहना था कि कुछ दिन पहले भी इस रोड पर उनके साथ ऐसी घटना हुई थी। उस मामले में पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। जिसकी वजह से बुधवार को फिर से स्टूडेंट्स की बस पर हमला हो गया। छात्रों का कहना था कि छात्राओं पर ईंटें बरसाई गईं और अभद्रता की गई।

घटना के बाद कुंदरकी थाने में खड़े स्टूडेंट्स।
घटना के बाद कुंदरकी थाने में खड़े स्टूडेंट्स।

TMU के सुरक्षा निदेशक पहुंचे कुंदरकी थाने

TMU के डायरेक्टर सिक्योरिटी व रिटायर्ड पुलिस इंस्पेक्टर आरपी गुप्ता घटना की सूचना मिलते ही कुंदरकी थाने पहुंचे। इससे पहले हाईवे पर स्टूडेंट़स पर हमले की सूचना पर कुंदरकी पुलिस मौके पर पहुंच चुकी थी। पुलिस को देख आरोपी मौके से भाग खड़े हुए। पुलिस ट्रक के नंबर के आधार पर उनकी शिनाख्त करने की कोशिश में जुटी है। आरपी गुप्ता ने स्टूडेंट्स से घटना की जानकारी ली और दूसरे वाहन से उन्हें घरों को रवाना किया।

ट्रक चालक समेत 25 के खिलाफ FIR

TMU के सुरक्षा निदेशक आरपी गुप्ता ने बताया कि बस ड्राइवर की ओर से ट्रक ड्राइवर व 25 अज्ञात हमलावरों के खिलाफ FIR दर्ज कराई गई है। उन्होंने बताया कि प्रारंभिक छानबीन में यही पता चला है कि ओवरटेक करने को लेकर विवाद हुआ था। हालांकि सभी पहलुओं पर पड़ताल की जा रही है। आरपी गुप्ता ने बताया कि बस सवार छात्र - छात्राएं इस हमले में घायल हुए हैं। उन्हें प्राथमिक उपचार के बाद सुरक्षित उनके घरों तक पहुंचा दिया गया है।

यूनिवर्सिटी की बस पर हुए हमले से छात्र दहशत में हैं।
यूनिवर्सिटी की बस पर हुए हमले से छात्र दहशत में हैं।
खबरें और भी हैं...