मुस्लिम लीग का विवादित बयान:मुरादाबाद में राष्ट्रीय सह सचिव कौसर हयात ने कहा- डिप्टी CM केशव मौर्य से बड़ा आतंकी कोई नहीं; बर्खास्त करें

मुरादाबाद8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
6 दिसंबर को मुरादाबाद में कलेक्ट्रेट पर काला दिवस मनाने पहुंचे मुस्लिम लीग के पदाधिकारी। - Dainik Bhaskar
6 दिसंबर को मुरादाबाद में कलेक्ट्रेट पर काला दिवस मनाने पहुंचे मुस्लिम लीग के पदाधिकारी।

इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग ने डिप्टी CM केशव प्रसाद मौर्या को देश का सबसे बड़ा आतंकी कहकर संबोधित किया। लीग के राष्ट्रीय सह सचिव कौसर हयात ने उन्हें तुरंत बर्खास्त करने और गिरफ्तार करने की मांग की। वह केशव मौर्या के मथुरा पर दिए गए बयान से नाराज थे। मुस्लिम लीग के नेता 6 दिसंबर को बाबरी विध्वंस की बरसी के मौके पर काला दिवस मनाने कलेक्ट्रेट पहुंचे थे।

दरअसल, केशव मौर्या ने हाल में ट्वीट किया था कि अयोध्या और काशी में मंदिर निर्माण जारी है। अब मथुरा की बारी है। इसके अलावा उन्होंने अखिलेश सरकार के कार्यकाल में खराब कानून व्यवस्था के लिए लुंगी और जालीदार टोपी पहनने वालों को जिम्मेदार ठहराया था।

मुस्लिम लीग के राष्ट्रीय सह सचिव कौसर हयात खान।
मुस्लिम लीग के राष्ट्रीय सह सचिव कौसर हयात खान।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर भी उठाए सवाल
कौसर हयात खान ने राम मंदिर पर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि मौजूदा सरकार मनचाहे फैसलों के लिए अपने प्रशासन और अदालतों का इस्तेमाल कर रही है। उन्होंने कहा कि केशव प्रसाद मौर्या की भाषा किसी सड़कछाप गुंडे जैसी है। संविधान की शपथ लेकर सरकार चलाने वाले किसी जिम्मेदार व्यक्ति से ऐसी भाषा की उम्मीद नहीं की जा सकती। मुस्लिम लीग पदाधिकारियों ने राष्ट्रपति को संबोधित एक ज्ञापन प्रशासनिक अधिकारी को सौंपा।

खबरें और भी हैं...