योगी बोले- अखिलेश की सोच तालिबानी:मुरादाबाद में कहा- जिन्ना से पटेल की तुलना शर्मनाक; अपने बयान पर देश से माफी मांगें

मुरादाबाद3 महीने पहले

उत्तर प्रदेश में जिन्ना पर जुबानी जंग तेज हो गई है। सोमवार को मुरादाबाद पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश यादव पर तीखा हमला बोला। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की सोच तालिबानी है। योगी ने कहा- मैंने अखिलेश का भाषण सुना। वे राष्ट्र को जोड़ने वाले सरदार वल्लभभाई पटेल की तुलना देश तोड़ने वाले जिन्ना से कर रहे थे। यह बेहद शर्मनाक है। अखिलेश यादव को देश से माफी मांगनी चाहिए।

दरअसल, अखिलेश यादव ने रविवार को हरदोई में सरदार पटेल की तुलना जिन्ना से कर दी थी। उन्होंने कहा था कि सरदार पटेल, महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और जिन्ना एक ही संस्था में पढ़कर बैरिस्टर बनकर आए थे। एक ही जगह पढ़ाई-लिखाई की। वह बैरिस्टर बने और उन्होंने आजादी दिलाई।

सरदार पटेल का अपमान स्वीकार नहीं
मुरादाबाद में CM योगी ने कहा कि पूरा देश सरदार पटेल को लौह पुरुष मानता है। ऐसे समय में अखिलेश की सोच फिर से सामने आई है। उन्होंने देश को तोड़ने वाले जिन्ना को देश को जोड़ने वाले सरदार पटेल के समकक्ष रख दिया है। ये सोच हमेशा तोड़ने में विश्वास रखती है। पहले इन्होंने समाज को जाति के नाम पर तोड़ने की साजिशें रचीं, मंसूबे पूरे नहीं हुए तो महापुरुषों पर लांछन लगाकर पूरे समाज को अपमानित करने का प्रयास किया जा रहा है।

उन्हें (अखिलेश) तो पहले से ही समाज को बांटने से फुरसत नहीं थी। विभाजन की उनकी प्रवृत्ति अभी गई नहीं है। इन लोगों की मानसिकता ही समाज को तोड़ने की रही है। यह लोग शुरू से ही तुष्टिकरण की राजनीति करते रहे हैं। सरदार पटेल का अपमान देश हरगिज स्वीकार नहीं करेगा और प्रदेश व देश की जनता अखिलेश को हरगिज स्वीकार नहीं करेगी।

मुरादाबाद में आयोजित कार्यक्रम में लाभार्थी महिला को पीएम आवास की चाबी सौंपते योगी।
मुरादाबाद में आयोजित कार्यक्रम में लाभार्थी महिला को पीएम आवास की चाबी सौंपते योगी।

सीएम ने और क्या कहा?

  • उत्तर प्रदेश सर्वाधिक जनसंख्या वाला राज्य है। इसमें कानून व्यवस्था, अपराध नियंत्रण एक बड़ी चुनौती है।
  • हमारी सरकार अपराधियों के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति रखती है। पुलिस कठिन परिस्थितियों में भी रात-दिन अपने कर्तव्यों को सर्वोपरि मानकर काम करती है।
  • आज 1700 से अधिक परिवारों को मुरादाबाद के अंदर एक दिन में प्रधानमंत्री आवास योजना में अफोर्डेबल हाउसिंग स्कीम के अंतर्गत आवास योजना का लाभ प्राप्त हो रहा है।
  • वर्तमान समय में तकनीक की मदद से ही अपराध को रोक सकते हैं। इसको देखते हुए लखनऊ में उत्तर प्रदेश स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेंसिक साइंस की स्थापना की जा रही है।
  • इस संस्थान के बनने के बाद फॉरेंसिक साइंस प्रशिक्षण की गुणवत्ता में वृद्धि होगी।
  • सीएम योगी डॉ. भीमराव अंबेडकर पुलिस एकेडमी में प्रशिक्षु डिप्टी एसपी की पासिंग आउट परेड की सलामी लेने के बाद पुलिस लाइन पहुंचे थे।
  • यहां उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के आवंटियों को मकानों की चाबी सौंपी।

तुष्टिकरण के लिए जिन्ना का महिमामंडन

मुरादाबाद में पुलिस लाइन में आयोजित कार्यक्रम में सीएम योगी के भाषण को सुनते लोग।
मुरादाबाद में पुलिस लाइन में आयोजित कार्यक्रम में सीएम योगी के भाषण को सुनते लोग।

सरकार के अन्य मंत्रियों ने भी अखिलेश को घेरा
मंत्री मोहसिन रजा ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के बयान पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव को जिन्ना के रिश्तेदारों से वोट की आस है। विभाजनकारी जिन्ना की विचारधारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ,सरदार पटेल, जवाहर लाल नेहरू की विचारधारा है। ऐसा कह कर अखिलेश यादव ने देश के महापुरुषों का अपमान किया है। समय रहते देश को यह समझ लेना चाहिए कि 'जिन्ना वाली आजादी' की मांग करने वाले कौन-कौन लोग जिन्नावादी हैं, जिन्हें जिन्ना के रिश्तेदारों से वोटों की आस है।
मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि अखिलेश यादव के मुंगेरी लाल के सपने खत्म होते जा रहे हैं, इसलिए वे तुष्टीकरण के लिए जिन्ना को सरदार वल्लभभाई पटेल से जोड़ते हैं। ये सरदार पटेल का अपमान है।

मायावती बोलीं- दोनों पार्टियों की अंदरुनी मिलीभगत

खबरें और भी हैं...