मुरादाबाद में भास्कर इंपैक्ट:पांच माह से रुका 1064 प्राइमरी शिक्षकों का वेतन जारी हुआ, 6000 शिक्षकों की मई की पगार भी खाते में पहुंची

मुरादाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बीएसए का कहना है कि पारस्परिक तबादले से आए 88 शिक्षकों का वेतन बिल भी वह पूर्व में ही साइन करके लेखाधिकारी को भेज चुके हैं। इस बारे में बात करके जल्द इन शिक्षकों का वेतन भी दिला दिया जाएगा। - Dainik Bhaskar
बीएसए का कहना है कि पारस्परिक तबादले से आए 88 शिक्षकों का वेतन बिल भी वह पूर्व में ही साइन करके लेखाधिकारी को भेज चुके हैं। इस बारे में बात करके जल्द इन शिक्षकों का वेतन भी दिला दिया जाएगा।

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में पांच माह से वेतन की बाट जोह रहे मुरादाबाद के 1064 शिक्षकों को वेतन मिल गया है। जिले के बाकी 6000 शिक्षक जिन्हें मई की पगार का इंतजार था, उनके खातों में भी सैलरी पहुंच गई है। हालांकि अभी पारस्परिक तबादले से आए 88 शिक्षकों का वेतन जारी नहीं हुआ है। बीएसए ने लेखाधिकारी से इनका वेतन भी अविलंब जारी करने को कहा है।

मुरादाबाद में बेसिक शिक्षा विभाग के 1152 शिक्षकों को पांच माह से वेतन नहीं मिला था। बीएसए ने इनके वेतन बिल साइन करके भेजे थे। लेकिन लेखाधिकारी द्वारा इस पर बार - बार ऑब्जेक्शन लगाया जा रहा था। जिले के अन्य 6000 प्राइमरी शिक्षकों की मई माह की सैलरी भी अटकी पड़ी थी। इसे लेकर शिक्षक आए दिन प्रदर्शन कर रहे थे। डीएम और कमिश्नर को भी शिक्षकों ने ज्ञापन देकर वेतन दिलाने की मांग की थी।

दैनिक भास्कर में इस मामले को प्रमुखता से उठाने के बाद बुधवार शाम को शिक्षकों का वेतन जारी कर दिया गया, जिन 1152 शिक्षकों को पांच माह से वेतन नहीं मिला था। उनमें से 1044 का वेतन बुधवार शाम को उनके खाते में पहुंच गया। पूरे जिले के शिक्षकों की मई माह की सैलरी भी उनके एकाउंट में भेज दी गई है।

बीएसए ने ट्रेजरी आफिस जाकर जारी कराया वेतन
बीएसए योगेंद्र कुमार ने बुधवार को ट्रेजरी आफिस जाकर चीफ ट्रेजरी आफिसर से मुलाकात की। कोविड महामारी के समय में पांच माह से सैलरी नहीं मिलने से शिक्षकों को आ रही दिक्कतों के बारे में अवगत कराया। इसके बाद बुधवार शाम शिक्षकों का वेतन ट्रेजरी से जारी कर दिया गया।

इन शिक्षकों को नहीं मिल रही थी पगार
करीब पांच माह पहले प्रदेश में हुई 69000 शिक्षकों की भर्ती से जिले को मिले 651 शिक्षक, दूसरे जनपदों से स्थानांतरित होकर आए 413 शिक्षकों और पारस्परिक तबादले से जनपद में आए 88 शिक्षकों का वेतन लेखाधिकारी कार्यालय ने रोका हुआ था।

बाकी बचे 88 शिक्षकों का वेतन जल्द: बीएसए
जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी योगेंद्र कुमार ने बताया कि पारस्परिक तबादले से आए 88 शिक्षकों को छोड़कर बाकी सभी शिक्षकों का रुका हुआ वेतन बुधवार को उनके खाते में पहुंच गया है। मई माह का वेतन भी जारी हो गया है। बीएसए का कहना है कि पारस्परिक तबादले से आए 88 शिक्षकों का वेतन बिल भी वह पूर्व में ही साइन करके लेखाधिकारी को भेज चुके हैं। इस बारे में बात करके जल्द इन शिक्षकाें का वेतन भी दिला दिया जाएगा

खबरें और भी हैं...