सरकार पर सांसद शफीकुर्रहमान का निशाना:संभल में बर्क बोले- मैंने तालिबान की बात तो गद्दार हो गया, सरकार बात कर रही तो उस पर मुकदमा क्यों नहीं

मुरादाबाद/संभल3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
संभल में पत्रकारों से बात करते हुए डॉ. बर्क ने तंज कसा और कहा कि हमने तालिबान पर कुछ कहा तो गद्दार और मुजरिम बना दिया। अब सरकार के ओहदेदार खुद तालिबान से बात कर रहे हैं। - Dainik Bhaskar
संभल में पत्रकारों से बात करते हुए डॉ. बर्क ने तंज कसा और कहा कि हमने तालिबान पर कुछ कहा तो गद्दार और मुजरिम बना दिया। अब सरकार के ओहदेदार खुद तालिबान से बात कर रहे हैं।

तालिबान के समर्थन में दिए बयान पर मुकदमा दर्ज होने के बाद संभल से सपा के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि कौम की खातिर वह फांसी पर लटकने को भी तैयार हैं। सरकार चाहे तो उन्हें जेल में डाले या फांसी पर लटका दे। कहा कि क्या अब सरकार खुद तालिबान से बात कर रही है। क्या सरकार अब तालिबान से बात करने वाले भारत के विदेश मंत्री और राजदूत पर भी देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करेगी ?

बीते दिनों डॉ. शफीकुर्रहमान बर्क ने तालिबान का समर्थन करते हुए कहा था कि उन्होंने अपने देश को आजाद कराया है। ऐसा बयान देने पर उनके खिलाफ देशद्रोह का केस दर्ज हो गया है।

हम कहें तो गद्दार, खुद करें तो कुछ नहीं
संभल में पत्रकारों से बात करते हुए डॉ. बर्क ने तंज कसा और कहा कि हमने तालिबान पर कुछ कहा तो गद्दार और मुजरिम बना दिया। अब सरकार के ओहदेदार खुद तालिबान से बात कर रहे हैं।
बर्क ने सवाल उठाते हुए कहा कि तालिबान से बात करने वालों पर अभी तक मुकदमा क्यों नहीं दर्ज किया गया। अपने ऊपर दर्ज मुकदमें पर कहा कि वह जेल जाने को तैयार हैं। कौम की खातिर जेल तो क्या सरकार फांसी पर भी चढ़ाएगी तो चढ़ने को तैयार हैं। उन्होंने यह भी कहा कि मैं इन सबकी परवाह नहीं करता।

संविधान बदलना चाहती है भाजपा
डॉ. बर्क ने कहा कि भाजपा सरकार देश का संविधान बदलकर मुसलमानों और दलितों के अधिकारी छीनना चाहती है। जिसे किसी कीमत पर नहीं होने दिया जाएगा। चाहे जेल भरनी पड़े या जो चाहें कुर्बानी देनी पड़े, हम संविधान से छेड़छाड़ नहीं होने देंगे।

खबरें और भी हैं...