पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Moradabad
  • The Amount Was Sought To Set Up A Separate Business, If Refused, 10.50 Lakhs Was Looted On The Highway, At The Time Of The Incident, He Himself Was Driving The Scooty.

भाई ने लिखी थी पशु व्यापारी से लूट की स्क्रिप्ट:अलग धंधा जमाने को मांगी थी रकम, इंकार किया तो हाईवे पर लुटवाए 10.50 लाख, वारदात के वक्त खुद चला रहा था स्कूटी

मुरादाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुरादाबाद में हाईवे पर 4 जुलाई को पशु व्यापारी से हुई लूट की घटना का माइस्टमाइंड उसका भाई ही निकला। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर घटना का खुलासा कर दिया है। - Dainik Bhaskar
मुरादाबाद में हाईवे पर 4 जुलाई को पशु व्यापारी से हुई लूट की घटना का माइस्टमाइंड उसका भाई ही निकला। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर घटना का खुलासा कर दिया है।

पुलिस ने 4 जुलाई को हाईवे पर पशु व्यापारी से हुई लूट का खुलासा कर दिया है। घटना की पटकथा पशु व्यापारी के तहेरे भाई नफीस ने ही लिखी थी। नफीस घटना के समय पशु व्यापारी के साथ मौजूद था। पुलिस ने नफीस और उसके दो साथियों को गिरफ्तार करके घटना का खुलासा कर दिया है। लूटी गई रकम से 6.14 लाख रुपये भी पुलिस ने बरामद किए हैं।

हाईवे पर दिनदहाड़े हुई वारदात से हरकत में थी पुलिस

मूंढापांडे थाना क्षेत्र में नरखेड़ा निवासी इमरान पुत्र इरशाद पशु व्यापारी है। वह अपने तहेरे भाई शकील के साथ मिलकर साझे में यह काम करता है। 4 जुलाई को इमरान पाकबडा से रकम लेने आया था। शकील का छोटा भाई नफीस भी उसके साथ था। पाकबड़ा से 10.50 लाख रुपये लेने के बाद इमरान स्कूटी से घर लौट रहा था।

स्कूटी नफीस चला रहा था। जबकि इमरान पैसों का बैग लेकर पीछे बैठा था। कटघर क्षेत्र में लुटेरों ने हाईवे पर दिनदहाड़े बाइक से टक्कर मारकर स्कूटी गिरा दी थी। इसके बाद तमंचे के बल पर 10.50 लाख रुपये, स्कूटी और इमरान व नफीस के मोबाइल लूट ले गए थे। हाईवे की घटना से पुलिस भी परेशान थी।

‘भाई से कई बार पैसे मांगे, नहीं दिए तो लुटवा दिया’

पुलिस ने लूटी गई रकम से 6.14 लाख रुपये बरामद किए हैं।
पुलिस ने लूटी गई रकम से 6.14 लाख रुपये बरामद किए हैं।

पुलिस पूछताछ में नफीस ने बताया कि उसके सभी भाई अपना अलग – अलग काम करते हैं। वह अकेला था जो अपने भाई शकील के यहां नौकरी करता था। शकील उससे नौकर की तरह काम कराता था। बदले में 10 हजार रुपये महीना देता था। नफीस ने पुलिस को बताया कि उसने कई बार शकील से कहा कि उसे कुछ रकम दे दे। ताकि वह भी अपना अलग धंधा कर सके। लेकिन उसने मना कर दिया। इसलिए उसने शकील के पार्टनर इमरान को लूटनी की योजना बनाई। ताकि रकम हाथ लगने के बाद अपना अलग धंधा कर सके।

शकील बिजी था इसलिए पार्टनर के साथ भाई भेज दिया

पशु व्यापारी इमरान के पिता मोहम्मद इरशाद ने बताया कि पेमेंट लेने तो इमरान और उसका पार्टनर शकील ही जाते थे। शकील उस दिन बिजी था। इसलिए उसने अपने छोटे भाई नफीस को पेमेंट लेने के लिए इमरान के साथ भेज दिया।

पाकबड़ा से ही बता दी थी साथियों को लोकेशन

एसपी सिटी अमित आनंद ने बताया कि नफीस ने पहले से पूरी फील्डिंग सजा रखी थी। वह पशु व्यापारी साथ खुद ही पेमेंट लेने गया था। इसलिए उसे पल – पल की जानकारी थी। पाकबड़ा से ही उसने अपने साथियों को पशु व्यापारी की लोकेशन दे दी थी। फिर खुद स्कूटी चलाने लगा और पेमेंट लेकर इमरान को पीछे बैठाया।

धोखा दिया, ऐसी उम्मीद नहीं थी

पशु व्यापारी इमरान के पिता व नरखेड़ा के पूर्व प्रधान इरशाद का कहना है कि नफीस ने पीठ में छुरा घोंपा है। उन्होंने बताया कि नफीस उनके तहेरे भाई का बेटा है। उसका सगा बड़ा भाई शकील उनके बेटे का पार्टनर है। इस घटना के बाद अब साझेदारी में शायद ही काम हो।

तीन गिरफ्तार, 6.14 लाख बरामद

नफीस ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया। वारदात से पहले हाईवे पर पहुंचकर पूरे इलाके की रेकी भी की। एसपी सिटी ने बताया कि घटना में शामिल शाहरूख पुत्र आरिफ निवासी नूरी मस्जिद के पास गली नंबर 9 अनवार नगर जाहिद नगर थाना कटघर, फरीद पुत्र खुर्शीद निवासी गली नंबर 9 जाहिद नगर करूला कटघर और नफीस पुत्र मोहम्मद जमील निवासी नरखेडा मूढापांडे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने इनके कब्जे से लूटी गई रकम से 6.14 लाख रुपये भी बरामद किए हैं।

फरार 4 लुटेरों की तलाश में छापे

एसपी सिटी ने बताया कि जीशान पुत्र अब्दुल कदीर निवासी आजाद नगर मझोला, फैजान पुत्र इस्लाम निवासी नरखेड़ा मूंढापांडे और राजू पुत्र इस्लाम व राजा पुत्र गोरे खां कुरैशी गली नंबर 9 जाहिद नगर कटघर अभी फरार हैं। यह चारों भी घटना में शामिल थे। इनकी तलाश में पुलिस टीमें छापामारी कर रही हैं।

खबरें और भी हैं...