2 साल के बच्चे के ऊपर गिरा उबलता हुआ दूध:दूध गैस पर रखकर काम में जुटी थी मां, बेटा खेलता हुआ पहुंचा और गैस का पाइप खींचने लगा

मुरादाबाद7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुरादाबाद में 2 साल के हिमांश के हिमांश के ऊपर गिरा उबलता हुआ दूध। - Dainik Bhaskar
मुरादाबाद में 2 साल के हिमांश के हिमांश के ऊपर गिरा उबलता हुआ दूध।

मुरादाबाद में 2 साल के एक बच्चे के ऊपर उबलते हुए दूध का भगौना पलट गया। खौलता हुआ दूध शरीर पर गिरने से बच्चा बुरी तरह झुलस गया। करीब 35 फीसदी झुलसी हालत में बच्चे को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दर्दनाक हादसा सिविल लाइंस थाना क्षेत्र में हरथला कालोनी का है। यहां रहने वाले जगवीर सिंह के 3 बच्चे हैं। छोटा बेटा हिमांश (2 साल) रविवार को सुबह करीब 11 बजे घर में खेल रहा था। जगवीर की पत्नी बबीता ने बच्चों के पीने के लिए एक लीटर दूध भगौने मे करके गैस पर गर्म होने काे रखा था। दूध उबलने लगा इसी दौरान हिमांश खेलता हुआ वहां पहुंचा। उसने गैस सिलेंडर से चूल्हे को कनेक्ट करने वाला गैस का पाइप खेल- खेल में खींचना शुरू कर दिया। जिसकी वजह से स्लैब पर चूल्हे पर रखा दूध से भरा भगौना पलट गया और उबलता हुआ दूध मासूम हिमांश के ऊपर गिर गया।

बच्चे की चीखों से कांप उठे मोहल्ले वाले
मासूम हिमांश के ऊपर उबलते दूध का भगौना पलटा तो उसकी चीख निकल पड़ी। दर्द से छटपटा रहे बच्चे ने जोर - जोर से चीखना शुरू किया तो बबीता दौड़ती हुई किचन में पहुंची। उसने आनन फानन बच्चे के कपड़े उतारे। कपड़ों के साथ बच्चे की खाल भी उतरने लगी। वह गंभीर रूप से झुलसा था। बच्चे की चीखों से आसपास के लोग भी मौके पर जमा हो गए। जगवीर तुरंत बेटे को लेकर जिला अस्पताल को दौड़े। जहां उसे बर्न वार्ड में भर्ती किया गया है।

3 महीने से बेरोजगार है जगवीर

जगवीर ने बताया कि वह मजदूरी करके अपने परिवार का पेट पालते हैं। लेकिन 3 महीने से काम नहीं मिल रहा इसलिए खाली बैठे हैं। बच्चों के लिए 2 वक्त की रोटी का इंतजाम करना भी मुश्किल हो रहा है। ऐसी तंगी में बेटा झुलस गया।

खबरें और भी हैं...