ड्रग्स तस्करी में महिला को 10 साल की कैद:2.6 किलो चरस के साथ रेलवे स्टेशन पर पकड़ी गई थी राजकुमारी, एक लाख जुर्माना

मुरादाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ड्रग्स तस्करी की दोषी महिला को 10 साल की सजा हुई है। मुरादाबाद GRP ने महिला को 21 सितंबर 2018 को मुरादाबाद रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किया था। उसके पास से GRP ने ढाई किलो चरस बरामद की थी।

"ब्लाउज में छिपाकर ले जा रही थी चरस"
अभियोजन पक्ष की ओर से कोर्ट में पैरवी करने वाले अधिवक्ता वैभव अग्रवाल ने बताया, "महिला अपने ब्लाउज में चरस छिपाकर तस्करी करती थी। घटना वाले दिन उसे रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म नंबर-2 से गिरफ्तार किया गया था। महिला सप्त क्रांति एक्सप्रेस से चरस की इस खेप को ले जानकी फिराक में थी। मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर जीआरपी टीम ने उसे पकड़ लिया। तलाशी लेने पर महिला के पास से चरस बरामद हुई।"

GRP ने केस दर्ज करके महिला को गिरफ्तार करने के बाद कोर्ट में पेश किया। तभी से वह जेल में बंद है। मामले की सुनवाई विशेष न्यायाधीश एनडीपीएस एक्ट मनीष कुमार प्रथम की कोर्ट में हुई। सुनवाई के बाद अदालत ने अभियुक्ता राजकुमार पत्नी गंगासहाय को एनडीपीएस एक्ट का दोषी करार दिया। अदालत ने राजकुमार को 10 साल के कारावास और एक लाख रुपये के अर्थदंड की सजा सुनाई है।

खबरें और भी हैं...