पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Moradabad
  • The Robbers Ran Away After Snatching The Purse From The Sisters Standing Near The Police Post, Both Of Them Ran And Caught The Robbers, Handed Them Over To The Police After Beating Them

मुरादाबाद में लुटेरों से भिड़ीं दो बहनें:पुलिस चौकी के पास खड़ी बहनों से पर्स छीनकर भागे थे लुटेरे, दोनों ने दौड़ाकर लुटेरों को पकड़ा, पीटने के बाद किया पुलिस के हवाले

मुरादाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुरादाबाद में दो बहादुर बहनों ने पर्स छीनकर भाग रहे लुटेरों को दौड़ाकर पकड़ लिया। भीड़भरे इलाके में यह घटना बुधवार को दोपहर करीब दो बजे हुई। - Dainik Bhaskar
मुरादाबाद में दो बहादुर बहनों ने पर्स छीनकर भाग रहे लुटेरों को दौड़ाकर पकड़ लिया। भीड़भरे इलाके में यह घटना बुधवार को दोपहर करीब दो बजे हुई।

मुरादाबाद में दो बहादुर बहनों ने बुधवार को लुटेरों को अच्छा सबक सिखाया। रोडवेज पुलिस चौकी के पास खड़े होकर दोनों ऑटो का इंतजार कर रही थीं। तभी बाइक सवार दो लुटेरे झपट्टा मारकर इनका पर्स छीन ले गए। अचानक हुए हमले से घबराने के बजाए बहनों ने लुटेरों को दौड़ा लिया।

एक लुटेरे का हाथ पकड़कर खींचा तो उनकी बाइक गिर गई। इसके बाद दोनों बहनों ने पब्लिक की मदद से लुटेरों की जमकर पिटाई की। बाद में उन्हें पुलिस के हवाले कर दिया।

दवा लेने के बाद ऑटो का इंतजार कर रही थीं शाबिया और नगमा

घटना के बाद मौके पर भीड़ जुट गई और पुलिस भी पहुंच गई।
घटना के बाद मौके पर भीड़ जुट गई और पुलिस भी पहुंच गई।

मुगलुपरा थाना क्षेत्र में जामा मस्जिद गली नंबर एक निवासी शाबिया परवीन घटना के समय दवा लेने गई थीं। बुधवार को दोपहर करीब 2 बजे शाबिया ने रोडवेज बस अड्डे के पास एक डाक्टर से दवाई ली। साथ में उनकी मौसी की बेटी नगमा निवासी सिरसखेड़ा मूंढापांडे भी थीं।

दवा लेने के बाद दोनों बहनें रोडवेज पुलिस चौकी के पास खड़ी थीं। चौकी से चंद कदमों के फासले पर वह ऑटो का इंतजार कर रही थीं। तभी बाइकर्स ने झपट्टा मारकर पर्स छीन लिया।

बेखौफ लुटेरों में पुलिस का रत्तीभर डर नहीं

पब्लिक ने आरोपी को जमकर पीटा।
पब्लिक ने आरोपी को जमकर पीटा।

गलशहीद थाना क्षेत्र में जिस स्थान पर यह घटना हुई उसके पास में ही पुलिस चौकी है। चंद कदमों की दूरी पर थाने की पीआरवी भी खड़ी थी। लेकिन लुटेरों के मन में पुलिस का रत्तीभर खौफ नहीं था। उन्होंने दिनदहाड़े भीड़भरे इलाके में दुस्साहसिक ढंग से घटना को अंजाम दिया। यह तो दोनों बहनों की बहादुरी थी कि उन्होंने लुटेरों को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया।

रंगे हाथ पकड़े लुटेरों से पूछताछ कर रही पुलिस

पुलिस रंगे हाथ पकड़े गए लुटेरों से पूछताछ कर रही है।
पुलिस रंगे हाथ पकड़े गए लुटेरों से पूछताछ कर रही है।

गलशहीद इंस्पेक्टर कपिल कुमार का कहना है कि पकड़े गए युवकों ने अपने नाम दीपक और आलोक बताए हैं। दोनों ने अपना पता गांगन तिराहा बताया है। पुलिस दोनों का पता तस्दीक कर रही है। पूछताछ करके यह पता लगाने की भी कोशिश की जा रही है कि अब से पहले भी क्या दोनों किसी घटना में शामिल थे।

खबरें और भी हैं...