मुजफ्फरनगर.. पुलिस ने दबोचा दोस्त का हत्यारोपी सतीश:दीपावली की रात लेनदेन के विवाद में गोली मारकर कर दी थी मोहित की हत्या

मुजफ्फरनगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जानसठ के गांव तालड़ा में निवासी मोहित की दोस्त ने गोली मारकर की हत्या। - Dainik Bhaskar
जानसठ के गांव तालड़ा में निवासी मोहित की दोस्त ने गोली मारकर की हत्या।

मुजफ्फरनगर के जानसठ थाना क्षेत्र के गांव तालड़ा में दीपावली की रात गोली मारकर दोस्त की हत्या करने के मामले में आरोपी सतीश को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने सतीश के कब्जे से एक तमंचा व दो जिंदा कारतूस भी बरामद किये हैं।

मुजफ्फरनगर की जानसठ कोतवाली में पुलिस गिरफ्त में दोस्त का हत्यारा सतीश।
मुजफ्फरनगर की जानसठ कोतवाली में पुलिस गिरफ्त में दोस्त का हत्यारा सतीश।

पैसो के लेनदेन की रंजिश में की थी हत्या

पुलिस पूछताछ में हत्यारोपी सतीश ने बताया कि चार माह पूर्व पैसो के लेनदेन को लेकर दोनों दोस्तों में झगड़ा हो गया था। जिस कारण रंजिश के चलते उसने घटना को अंजाम दिया।

घर से बुलाकर कर दी गई थी मोहित की हत्या

परिजनों के अनुसार 35 वर्षीय मोहित पुत्र रविंद्र सैनी को गांव का ही उसका एक दोस्त गुरुवार देर रात घर से बुलाकर ले गया था। इसके बाद मोहित को गोली मार दी थी।घायल अवस्था में मोहित किसी तरह घर पहुंचा था। मोहित के शरीर से खून बहता देख घर पर कोहराम मच गया। आनन फानन में परिजन उसे सीएचसी लेकर पहुंचे। जहां से उसे जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। जिला अस्पताल ले जाते देर रात रास्ते में घायल मोहित की मौत हो गई। आरोपी मौके से फरार हो गया।

मिठाई बांटने के बहाने घर से बुलाकर ले गया था सतीश
परिजनों ने बताया कि मोहित गुरुवार रात घर पर था। आरोप है कि करीब 10 बजे उसका दोस्त गांव तालड़ा निवासी सतीश पुत्र धर्मवीर घर आया। मिठाई बांटने की बात कहते हुए मोहित को घर से ले गया। बताया कि कुछ देर बाद ही जांघ में गोली लगने से घायल मोहित घर पहुंचा, जिसकी बाद में मौत हो गई। मोहित के पिता रविंद्र सैनी ने उसके दोस्त सतीश के विरुद्ध हत्या का नामजद मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

उपचार में देरी भी बनी घायल मोहित की मौत का कारण
पेट के पास जांघ में गोली लगने से गंभीर घायल मोहित घर पहुंच गया था। लेकिन, एंबुलेंस आने में देरी के चलते मोहित के शरीर से काफी खून बह गया। उसके पिता के अनुसार, एंबुलेंस आई तो परिजन मोहित को सीएचसी जानसठ लेकर पहुंचे, लेकिन पुलिस के देर से पहुंचने के चलते भी उपचार में देरी हुई। गंभीर हालत जान डॉक्टर ने मोहित को रेफर कर दिया। तब तक मोहित के शरीर से काफी खून बह चुका था।

खबरें और भी हैं...