मुजफ्फरनगर...बेटे को 10 व मां को 3 साल की सजा:5 साल पहले किशोरी को कमरे में बंद कर किया था रेप

मुजफ्फरनगर2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो

मुजफ्फरनगर में किशोरी का किडनैप कर रात भर रेप करने वाले आरोपी बेटे और उसका साथ देने वाली मां को कोर्ट ने सजा सुना दी। बेटे को 10 व मां को 3 साल की सजा सुनाई। विशेष पाक्सो एक्ट कोर्ट की जज आरती फौजदार की अदालत ने ये फैसला सुनाया।

थाना क्षेत्र चरथावल के एक गांव में पांच साल पहले एक किशोरी का किडनैप कर लिया गया था। आरोप था कि एक महिला ने अपने बेटे से ये सब करवाया था। इसके बाद बेटे ने पीड़िता को कमरे में बंद कर रेप किया था। अभियोजन के अनुसार, घटना का मुकदमा विशेष पाक्सो एक्ट कोर्ट की जज आरती फौजदार के समक्ष चला।

उन्होंने बताया कि अभियोजन ने घटना साबित करने के लिए कोर्ट में सात गवाह पेश किए। दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद विशेष पाक्सो एक्ट कोर्ट ने आरोपी को दुष्कर्म का दोषी पाते हुए सजा सुनाई। कोर्ट ने दोषी पर 16 हजार रुपए का अर्थदंड भी लगाया। जबकि दुष्कर्म कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने का दोषी पाते हुए आरोपित की मां को भी तीन साल की सजा सुनाई गई। महिला पर तीन हजार रुपए का अर्थदंड भी लगाया गया।

चर्चा का विषय बन गया था 2016 का यह मामला
13 साल की किशोरी का अपहरण कर दुष्कर्म किए जाने के मामले ने तूल पकड़ लिया था। दुष्कर्म में आरोपित की मां के शामिल होने के कारण सामाजिक रुप से भी इस घटना को बहुत ही खेद जनक बताया गया था। पीड़िता के गांव में भी तनाव का माहौल पैदा हो गया था।

खबरें और भी हैं...