मुजफ्फरनगर..जेल भेजा गया सभासद:बोर्ड बैठक में नगर स्वास्थ्य अधिकारी से सभासद प्रवीण पीटर ने की थी मारपीट

मुजफ्फरनगर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में आरोपी सभासद प्रवीण पीटर। - Dainik Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में आरोपी सभासद प्रवीण पीटर।

मुजफ्फरनगर में नगर पालिका परिषद की एक नवंबर को हुई बोर्ड बैठक में नगर स्वास्थ्य अधिकारी के साथ मारपीट करने वाले सभासद को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। शनिवार को उसे जेल भेज दिया गया।

एक नवंबर को नगर पालिका बोर्ड बैठक में जमकर बवाल हुआ था। शहर में सफाई काे लेकर वार्ड सभासदों ने नगर स्वास्थ्य अधिकारी की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए थे। इस दौरान भाजपा से वार्ड सभासद विपुल भटनागर ने बोर्ड बैठक में शहर की सफाई व्यवस्था दुरस्त न रहने तथा इस मामले में नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा. अतुल कुमार की लापरवाही पर नाराजगी जताई थी। वार्ड सभासद प्रवीण पीटर ने भी बार-बार कहने के बावजूद सफाई व्यवस्था में सुधार न होने की बात कहते हुए नगर स्वास्थ्य अधिकारी को आड़े हाथ लिया था। आरोप था कि बोर्ड बैठक के दौरान ही उन्होंने नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा. अतुल कुमार से गाली-गलौज करते हुए मारपीट की थी। जिसके बाद नगर स्वास्थ्य अधिकारी ने शहर कोतवाली में सभासद प्रवीण पीटर तथा सभासद विपुल भटनागर पर बोर्ड बैठक के दौरान मारपीट, गाली-गलौज व धमकी देने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी थी। जिसके उपरांत एक नवंबर को ही पुलिस ने दोनों सभासदों के विरुद्ध एससी-एसटी सहित सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर दोनों की तलाश शुरू कर दी थी। प्रभारी निरीक्षक शहर कोतवाली आनंद देव मिश्रा ने बताय कि शुक्रवार देर रात आरोपी सभासद प्रवीण पीटर को गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि प्रवीण पीटर को शनिवार अपरान्ह दो बजे रिमांड मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया। जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

शहर कोतवाली का हिस्ट्रीशीटर है आरोपी

शहर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक आनंद देव मिश्रा ने बताया कि दबोचा गया आरोपी सभासद प्रवीण पीटर शहर कोतवाली का हिस्ट्रीशीटर है। उन्होंने बताया कि प्रवीण पीटर की शहर कोतवाली में हिस्ट्रीशीट एचएस-68 खुली हुई है। उन्होंने बताया कि उसको उसके घर से गिरफ्तार किया गया।

देर रात तक कोतवाली में रहा लोगों का जमावड़ा

गिरफ्तार सभासद को छुड़ाने के लिए देर रात तक शहर कोतवाली में सभासदों का जमावड़ा रहा। प्रवीण पीटर की गिरफ्तारी की खबर सुनते ही सभासद कोतवाली पहुंचाना शुरू हो गए थे। सभासदों के साथ पालिका अध्यक्ष अंजु अग्रवाल के पुत्र अभिषेक अग्रवाल ने भी शहर कोतवाली पुलिस से आरोपी सभासद को छोड़ने की कही थी। लेकिन पुलिस ने साफ इंकार कर दिया था।

खबरें और भी हैं...