मुजफ्फरनगर..आंदोलनकारियों की आइडी देख लें एक भी किसान नहीं:श्रम कल्याण परिषद अध्यक्ष सुनील भराला भड़के, कहा किसानों की राजनीति करने वाले जो सपने दिखा रहे हैं वे कभी पूरे नहीं होंगे

मुजफ्फरनगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
श्रम कल्याण परिषद अध्यक्ष सुनील भराला विभागीय योजनाओं की जानकारी देते हुए। - Dainik Bhaskar
श्रम कल्याण परिषद अध्यक्ष सुनील भराला विभागीय योजनाओं की जानकारी देते हुए।

श्रम कल्याण परिषद अध्यक्ष सुनील भराला ने कहा कि आंदोलनकारियों की आइडी देख ली जाए तो उनमें एक भी किसान नहीं मिलेगा। उन्होंने पीडब्लूडी गेस्ट हाउस पर कहा कि पीएम ने इतिहास में इतना बड़ा काम किया, जो कोई आज तक नहीं कर सका। उन्होने कहा था कि किसानों के लिए ये तीनों कानून बनाए गए हैं। किसान एक साल तक इन कानूनों को देख ले। किसानों को समझाने का प्रयास किया गया। लेकिन हम किसानों को समझा नहीं पाए।

सुनील भराला ने कहा कि इसलिए ही प्रधानमंत्री ने किसानों की उग्रता को देखकर उक्त कानून वापस ले लिये। वापस लेने के बावजूद हम कह सकते हैं कि वे कानून किसानों के हित मेंं थे। उन्होंने कहा कि जो लोग 2022 में किसानों को मुंगेरी लाल के हसीन सपने दिखा रहे है, उनके सपने कभी पूरे नहीं होंगे। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री ने किसानों को आश्वावसन दिया था कि उनके व किसानों के बीच एक फोन काल की दूरी हे। किसान नहीं माने तो फिर प्रधानमंत्री ने तीनों कृषि कानून वापस ले लिये। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में श्रम कल्याण परिषद की आठ योजनाएं प्रचलित हैं। चार योजनाएं योगी सरकार के नेतृत्व में चलाई जा रही है। बताया कि पिछले दिनों उनके नेतृत्व में श्रवण कुमार तीर्थ यात्रा योाजना का शुभारंभ किया गया। पंडित सुनील भराला ने कहा कि सरकार जन कल्याण योजनाएं चला रही है। जिनका लाभ विभिन्न वर्ग के श्रमिकों सहित अन्य लोगों को भी मिल रहा है।

खबरें और भी हैं...