किसान महापंचायत पर हेलीकॉप्टर से पुष्पवर्षा को अनुमति नहीं:रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी हेलीकॉप्टर से किसानों पर बरसाना चाहते थे फूल, ट्वीट करके पूछा- किसानों के सम्मान से सरकार को क्या खतरा है

मुजफ्फरनगर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुजफ्फरनगर के जीआईसी ग्राउंड में किसानों के लिए बड़ा पंडाल लगाया गया है। दावा है कि महापंचायत में लाखों किसान आएंगे। - Dainik Bhaskar
मुजफ्फरनगर के जीआईसी ग्राउंड में किसानों के लिए बड़ा पंडाल लगाया गया है। दावा है कि महापंचायत में लाखों किसान आएंगे।

मुजफ्फरनगर में पांच सितंबर को आयोजित किसान मजदूर महापंचायत मेंकिसानों पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा के रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी के कार्यक्रम को देर रात तक जिला प्रशासन से अनुमति नहीं मिल पाई है। जयंत चौधरी ने ट्वीट करके कहा- 'बहुत माला पहनी हैं, मुझे जनता ने बहुत प्यार, सम्मान दिया है। अन्नदाताओं पर पुष्प बरसाकर उनका नमन और स्वागत करना चाहता था। डीएम, एडीजी, सिटी मजिस्ट्रेट, प्रिंसिपल सेकेटरी सीएम, सबको सूचित किया लेकिन अनुमति नहीं दे रहे। किसानों के सम्मान से सरकार को क्या खतरा है'।

रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी के कार्यालय ने पुष्पवर्षा की अनुमति डीएम से मांगी थी।
रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी के कार्यालय ने पुष्पवर्षा की अनुमति डीएम से मांगी थी।

पत्र में कहा था- हेलीकॉप्टर मुजफ्फरनगर में नहीं उतारेंगे

दरअसल, राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष जयंत चौधरी के निजी सहायक समरपाल सिंह ने शनिवार दोपहर में एक पत्र डीएम मुजफ्फरनगर को भेजा। इसमें बताया गमया कि नई दिल्ली के पालम एयरपोर्ट से रविवार दोपहर साढ़े 12 बजे हेलीकॉप्टर उड़ेगा। 1.20 बजे से 2 बजे तक यह हेलीकॉप्टर जीआईसी ग्राउंड मुजफ्फरनगर में हो रही किसान महापंचायत पर पुष्प वर्षा करेगा और वापस दिल्ली लौट आएगा। पत्र में साफ तौर पर यहभी बताया गया कि हेलीकॉप्टर मुजफ्फरनगर में किसी भी स्थान पर नहीं उतरेगा और दोपहर 3 बजे पालम एयरपोर्ट पर वापस पहुंच जाएगा। शनिवार रात जयंत चौधरी ने ट्वीट करके जानकारी दी है कि हेलीकाप्टर से पुष्पवर्षा के कार्यक्रम को अभी तक अनुमति नहीं दी गई है।

हालांकि मुजफ्फरनगर के मुख्य अग्निशमन अधिकारी (सीएफओ) रमाशंकर तिवारी ने शनिवार शाम 'दैनिक भास्कर' को बताया था कि हेलीकॉप्टर से पुष्पवर्षा के कार्यक्रम को फायर विभाग से एनओसी दे दी गई है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा था कि सम्पूर्ण अनुमति जिला प्रशासन से ही मिलेगी।