लाइन में फाल्ट से दिल्ली-सहारनपुर रेल ट्रैक ठप:मुजफ्फरनगर में रोहाना-देवबंद के बीच था फाल्ट, 7 घंटे परेशान रहे यात्री

मुजफ्फरनगर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतिकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतिकात्मक फोटो।

मुजफ्फरनगर में रोहाना-देवबंद के बीच ट्रेन के इंजन का पेंटो हाईटेंशन तार से टकराने के कारण फाल्ट हो गया। इसके चलते रात से सुबह तक 12 से अधिक ट्रेनों का आवागमन दिल्ली-सहारनपुर रेल ट्रैक पर बाधित हुआ।

इस दौरान दैनिक यात्रियों के साथ ही रेल से सफर करने वाले लोगों को स्टेशनों पर इंतजार करना पड़ा। पेंटो के टकराने से हाईटेंशन लाइन में हुए फाल्ट के कारण छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस करीब 7 घंटा प्रभावित हुई।

देवबंद और उससे आगे के स्टेशनों पर रोकी गईं ट्रेन

शुरूआत में बताया गया कि मुजफ्फरनगर के पास ही दिल्ली-देहरादून रेलवे ट्रैक में तकनीकी खराबी से सहारनपुर से दिल्ली रेलवे ट्रैक ठप हो गया। इसको ठीक करने में करीब छह घंटे का समय लगा।

फाल्ट के कारण कई ट्रेनों को देवबंद और इससे आगे रेलवे लाइन पर स्टे दे दिया गया। वहीं, सुबह के समय मुजफ्फरनगर से दिल्ली जाने वाले दैनिक यात्री ट्रेनों के इंतजार में कई स्टेशनों पर खड़े रहे।

ट्रैक की ये ट्रेन फाल्ट से हुई प्रभावित

प्रभावित होने वाली ट्रेन में मुख्य रूप से छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस, नंदा देवी एक्सप्रेस, उधमपुर-इलाहाबाद एक्सप्रेस, अमृतसर-बिलासपुर एक्सप्रेस, शालीमार, सुपर, जनशताब्दी, इण्टरसिटी, उत्कल और जालन्धर नई दिल्ली एक्सप्रेस ट्रेन भी घंटों तक प्रभावित रहने के कारण यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा।

स्टेशन अधीक्षक विपिन कुमार त्यागी ने बताया कि गुरुवार सुबह करीब दो बजे सहारनपुर-दिल्ली रेल खंड पर रोहना और देवबंद स्टेशन के बीच ही हाईटेंशन विद्युत लाइन में फाल्ट के कारण रेल यातायात प्रभावित रहा।

उन्होंने बताया कि यह फाल्ट डाउन लाइन में आने के कारण सहारनपुर और देहरादून से दिल्ली की ओर जाने वाली रेलगाड़ियां अपने समयानुकूल नहीं चल पाई और प्रभावित रही।

छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस को देवबंद और रोहाना के बीच स्टे दिया गया था, वह करीब 7 घंटे की देरी से स्टेशन पर पहुंची। जबकि मुजफ्फरनगर स्टेशन से 12402 नंदा देवी एक्सप्रेस और 22432 उधमपुर एक्सप्रेस ट्रेन लेट हुई हैं।

इनमें नंदा देवी 1 घंटा 20 मिनट और उधमपुर एक्सप्रेस 60 मिनट की देरी से रवाना हुई है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा अन्य ट्रेन दूसरे स्टेशनों के स्तर से ही देरी से रवाना की गयी।

स्टेशन अधीक्षक ने बताया कि फाल्ट तलाशने में काफी देरी हुई और करीब साढ़े आठ बजे यह फाल्ट दूर हो पाने के कारण 9 बजे से गाड़ियों का डाउन लाइन पर संचलन शुरू किया गया था।

इससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। फाल्ट किस कारण आया, यह पता नहीं चल पाया है। उन्होंने बताया कि इतना ही पता चल पाया है कि ओवर हेड विद्युत लाइन में फाल्ट आया था।

खबरें और भी हैं...