मुजफ्फरनगर में करंट लगने से किशोर की मौत:पशुओं के लिए चारा काटते समय मशीन में उतरा करंट लगा

मुजफ्फरनगर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
करंट लगने से कार्तिक की मौत हो गई। फाईल फोटो। - Dainik Bhaskar
करंट लगने से कार्तिक की मौत हो गई। फाईल फोटो।

मुजफ्फरनगर में एक किशोर को पशुओं के लिए चारा काटते हुए मशीन से करंट लग गया। किशोर की मौके पर ही मौत हो गई। असमय मौत के चलते परिवार में कोहराम मच गया। जनपद में करंट लगने से एक वर्ष के भीतर कई किसानों की मौत हो चुकी है।

करंट लगने से कार्तिक की मौत पर परिवार में कोहराम।
करंट लगने से कार्तिक की मौत पर परिवार में कोहराम।

चारा काटने की मशीन में आ रहा था करंट

शनिवार को जनपद के थाना भोपा क्षेत्र के गांव मजलिस तौफीर के मजरा महाराजपुर निवासी एक किशोर की करंट लगने से मौत हो गई। पारिवारिक सूत्रों के अनुसार 15 वर्षीय कार्तिक पुत्र सतीश सुबह खेत से पशुओं के लिए चारा लेकर आया था। जब वह अपने घर में लगी मशीन से चारा काट रहा था।

उसी समय मशीन में उतरा करंट कार्तिक को लग गया। कार्तिक को अचानक इतना तगड़ा झटका लगा कि वह दूर जाकर गिरा। परिवार के लोगों ने कार्तिक को उठाया। लेकिन तब तक उसकी सांसे थम चुकी थी। निकट के एक चिकित्सक को बुलाकर दिखाया गया, लेकिन उन्होंने कार्तिक को मृत घोषित कर दिया। जिससे परिवार में कोहराम मच गया।

करंट लगने से पहले भी हुई कई किसानों की मौत

बारिश के दिनों में करंट लगने से अक्सर किसानों की मौत होती रही है। कहीं लापरवाही तो कहीं ऊर्जा निगम की गलती हादसों का वजह बनी। कई बार किसानों ने ऊर्जा निगम के विरुद्ध धरना प्रदर्शन भी किया लेकिन कुछ नहीं हुआ। अक्सर बारिश के दिनों में अर्थिंग तथा अन्य कारणों से विद्युत उपकरणों में करंट आ जाता है, सुरक्षा के उपाए नहीं किये जाने से जानि नुकसन उठाना पड़ता है।

सगाई वाले दिन करंट से हुई थी अंकित की मौत

7 मई 2022 को थाना मंसूरपुर क्षेत्र के गांव निजामपुर निवासी अंकित प्रजापति (24) पुत्र रोशन की सगाई होनी थी। घर पर मेहमान आए हुए थे। सुबह के करीब छह बजे अपने घर पर पशुओं के लिए बिजली की मशीन से चारा काटने के दौरान अंकित करंट की चपेट में आ गया। जिसमें वह गंभीर रूप से झुलस गया। परिजनों ने उसे बेगराजपुर मेडिकल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था।

करंट लगने से हुई थी किसान संजीव की भी मौत

11 जून 2022 को भोपा थाना क्षेत्र के गांव कादीपुर निवासी किसान संजीव कुमार 48 वर्ष रात में खेत पर नलकूप से सिंचाई करने गए थे। सुबह खेत पर गए किसानों ने संजीव को नलकूप पर मृत पड़ा देखा था। शरीर पर विद्युत करंट लगने से झुलसने के निशान थे। स्वजन समेत सैकड़ों ग्रामीण जंगल में पहुंचे तो उन्होंने हाइटेंनशन लाइन का तार टूटा देखा। जानकारी में आया कि एचटी लाइन टूटने से एलटी में फाल्ट हुआ। जिससे किसान की मौत हो गई।

खबरें और भी हैं...