पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

UP के ग्रामीण इलाकों का सच:गाजीपुर के गांव में खांसी-बुखार से 10 दिन में 16 मौतें; 15 हजार आबादी वाले गांव में टीम पहुंची, 71 टेस्ट किए

गाजीपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से सटे गाजीपुर जिले की सौरम ग्राम पंचायत में लोग कोरोना की दहशत में जी रहे हैं। यहां पिछले 10 दिनों में 16 मौतें हो चुकी हैं। हालात बिगड़ते देख गांव की प्रधान सीमा जायसवाल ने डीएम को पत्र लिखकर मामले की जानकारी दी। उन्होंने गांव में कोरोना से मौतें होने की आशंका जताई।

उन्होंने लिखा कि गांव में मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। इसकी वजह कोरोना महामारी हो सकती है। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की एक टीम गांव में टेस्ट करने पहुंची। वहीं, जिला प्रशासन का कहना है कि अभी यह साफ नहीं है कि ये मौतें कोरोना से हुई हैं। गांव में जांच की जा रही है। रिपोर्ट्स आने के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा।

बुखार आया, खांसी हुई और मौत हो गई
गांव के मनोज जायसवाल ने बताया कि गांव में पिछले दस दिनों से लगातार मौतें हो रही हैं। गांववालों का कहना है कि इनमें किसी को बुखार हुआ तो किसी को खांसी हुई। कोई अस्पताल पहुंच कर दम तोड़ गया तो कोई अस्पताल भी नहीं पहुंच पाया।

मनोज ने बताया मरने वालों के परिवार में कई की आर्थिक स्थिति बहुत खराब है। ऐसे में घर के कमाने वाले सदस्य की मौत होने से पूरे परिवार के लिए मुश्किल हो गई है। मनोज जायसवाल ने बताया कि बीमारी से मरने वाले 16 लोगों में से 8 महिलाएं हैं। 9 लोग तो सौरम गांव के है, बाकी 7 अगल-बगल के हैं। अब जाकर प्रशासन ने इस मसले पर ध्यान दिया है।

मेडिकल टीम ने जांच शुरू की
ग्राम प्रधान का पत्र मिलने के बाद जिला प्रशासन ने स्वास्थ्य विभाग की टीम को गांव भेजा। इस गांव की आबादी लगभग 15 हजार है। सोमवार से यहां जांच शुरू हो गई है। सभी का कोरोना टेस्ट किया जा रहा है। मौके पर पहुंचे डॉक्टर्स ने बताया कि सभी का एंटीजन टेस्ट किया जा रहा है। दोपहर 3 बजे तक 71 लोगों का टेस्ट किया गया है। अभी टेस्टिंग चलेगी। पूरे गांव का टेस्ट होने तक यह ड्राइव चलती रहेगी।

जिले में 18,600 से ज्यादा केस
गाजीपुर जिले में अब तक कोरोना के 18,607 केस आ चुके हैं। रविवार को यहां 370 नए केस मिले। जिले में अब तक 168 लोग संक्रमण से जान गंवा चुके हैं। यह डेटा covid19india.org वेवसाइट से लिया गया है। जिले में हाल ही में पंचायत चुनाव खत्म हुए हैं। इसके बाद से जिले के गांवों में मरीजों की संख्या बढ़ गई है। हालांकि, सभी का टेस्ट न होने से यह नहीं कहा जा सकता कि इनमें कोरोना के कितने मामले हैं।

खबरें और भी हैं...