पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • 4 Children Died Of Suffocation Inside A Car In Baghpat Uttar Pradesh, One Is In Critical Condition; Gates Were Closed Due To Autolock

UP के बागपत में दर्दनाक हादसा:कार के अंदर दम घुटने से 4 बच्चों की मौत, एक गंभीर; खेलते-खेलते गाड़ी में जाकर बैठ गए थे, ऑटोलॉक हुए गेट

बागपत2 महीने पहले

उत्तर प्रदेश के बागपत जिले में शुक्रवार को दम घुटने से 4 बच्चों की जान चली गई। घटना चांदीनगर इलाके के सिगौली तगा गांव की है। एक बच्चे की हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस के मुताबिक, ये बच्चे खेल-खेल में घर के बाहर खड़ी कार में बैठ गए थे। ऑटोलॉक होने के चलते गेट बंद हो गया। जिसमें 4 साल की वंदना, अक्षय, 7 साल की कृष्णा और 8 साल की नियति ने दम तोड़ दिया।

धूप के चलते घर के लोग अंदर थे, बच्चे बाहर खेल रहे थे
पुलिस के मुताबिक, घटना दोपहर की है। तेज धूप के चलते सभी बड़े लोग घर के अंदर थे। कई घरों के बच्चे बाहर खेल रहे थे। बच्चे कार में बैठे और अंदर से गेट ऑटोलॉक हो गया। धूप के चलते कार के अंदर गर्मी बढ़ गई और दम घुटने से 4 बच्चों की मौत हो गई। एक अन्य बच्चे को गंभीर हालत में पुलिस ने कार के अंदर से निकाला।

परिजन ने गाड़ी के मालिक पर आरोप लगाया
पुलिस के मुताबिक, ये गाड़ी गांव के ही हैप्पी पुत्र राजकुमार की है। बच्चों के परिजन का आरोप है कि ये घटना कार के मालिक की लापरवाही से हुई है। सिविल अस्पताल लखनऊ के डॉ. एनबी सिंह का कहना है कि गर्मी के दिनों में देर तक गाड़ी धूप में खड़ी हो तो उसका तापमान बाहर के तापमान से और ज्यादा होता है।

ऐसे में यदि कार के गेट ऑटोलॉक हो जाएं तो वहां दम घुटने लगता है। गेट बंद होने से बच्चों को ऑक्सीजन नहीं मिली होगी, उनके दम घुटने की यही बड़ी वजह रही होगी। हालांकि पोस्टमार्टम के बाद ही मौत की असली वजह सामने आ पाएगी।

खबरें और भी हैं...