पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अयोध्या में राम मंदिर:राम मंदिर निर्माण समिति की दो दिवसीय बैठक जारी; नींव निर्माण को हरी झंडी मिलने की उम्मीद; रेलवे GM ने भी किया दौरा

अयोध्या6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अयोध्या के सर्किट हाउस में रिटायर्ड IAS नृपेंद्र मिश्र। - Dainik Bhaskar
अयोध्या के सर्किट हाउस में रिटायर्ड IAS नृपेंद्र मिश्र।
  • समिति के चेयरमैन व रिटायर्ड IAS नृपेंद्र मिश्र रविवार को अयोध्या पहुंचे थे
  • सोमवार की सुबह 11 बजे से समिति की बैठक चल रही, चंपत राय भी मौजूद

राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन व रिटायर्ड IAS नृपेंद्र मिश्र अयोध्या के दौरे पर हैं। वे रविवार की शाम अयोध्या पहुंचे थे। सोमवार की सुबह 11 बजे नृपेंद्र की अगुवाई में मंदिर निर्माण समिति की बैठक शुरू हुई, जो अभी भी जारी है। उम्मीद है कि इस बैठक में हरी झंडी मिलने के बाद कार्यदायी संस्था लार्सन एंड टुब्रो (L&T) मंदिर की नींव के निर्माण का काम शीघ्र शुरू कर देगी। बता दें कि 5 सितंबर को PM नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए शिला पूजन किया था।

बैठक में आर्किटेक्ट आशीष सोमपुरा भी शामिल

राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण समिति की बैठक सर्किट हाउस में सुबह 11 बजे शुरू हुई। जिसमें श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय, कोषाध्यक्ष आचार्य गोविंद देव, सदस्य डॉक्टर अनिल के अलावा टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, L&T, व मंदिर निर्माण की तकनीकी टीम, आर्किटेक्ट आशीष सोमपुरा शामिल हुए। इस बैठक में मंदिर निर्माण के अगले चरण में मंदिर नींव के 1200 पिलर्स का निर्माण शुरू करने पर मंथन हो रहा है। जिसमें तकनीकी अधिकारी व विज्ञानी सरयू नदी की सतह से निकट मंदिर स्थल के नीचे 2 सौ फीट पर मिली रेत की सतह पर मजबूत नींव खड़ी करने को अपने राय देंगे।

एक हजार साल तक खड़ा रहेगा मंदिर

1200 पिलर की 1 हजार साल तक मजबूती बरकरार रह सके, इसी को लेकर मंथन हो रहा है। अब तक के तीन महीने तक टेस्ट पिलर्स की पाइलिग व इसकी लोड टेस्टिंग की सारी रिपोर्ट टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज को सभी निर्माण से जुड़ी इकाइयों ने सौंप दी है। अब टाटा कंसल्टेंसी के इंजीनियरों की रिपोर्ट पर भी सभी विशेषज्ञ चर्चा कर मंदिर निर्माण को लेकर अंतिम निष्कर्ष निकालने में जुटे हैं।

अयोध्या स्टेशन के मॉडल का अवलोकन करते GM आशुतोष।
अयोध्या स्टेशन के मॉडल का अवलोकन करते GM आशुतोष।

उत्तर रेलवे के GM ने किया अयोध्या का दौरा
उत्तर रेलवे के GM आशुतोष गंगल आज अयोध्या रेलवे स्टेशन के कार्य प्रगति का निरीक्षण करने पहुंचे। उन्होंने रामलला व हनुमान गढ़ी का दर्शन किया। अयोध्या स्टेशन के माडल को देखा और जानकारी हासिल की। उन्होंने कहा कि 104 करोड़ की लागत से बन रहा अयोध्या स्टेशन भव्य तो होगा ही पर इसमें यात्रियों की सुविधा को प्रमुखता दी जा रही है। पहले चरण के निर्माण में ही 25 हजार यात्रियों के रुकने की क्षमता रहेगी। जीएम गंगल ने सांसद लल्लू सिंह के साथ रेल अधिकारियों की बैठक की। इस दौरान ट्रेन सुविधाओं में इजाफा किए जाने पर भी मंथन हुआ।