पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मेरठ में हादसा:बैडमिंटन पावर कोटिंग स्टीमर फैक्ट्री में हुए धमाके में तीन मजदूर झुलसे, छत के उड़ गए परखच्चे

मेरठ8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ताया जा रहा है कि फैक्ट्री  का संचालन अवैध रूप से किया जा रहा था।इस दौरान वहां ब्यालर तेज धमाके की आवाज के साथ फट गया। इस हादसे में तीनों मजदूर गंभीर रूप से झुलस गए।  - Dainik Bhaskar
ताया जा रहा है कि फैक्ट्री  का संचालन अवैध रूप से किया जा रहा था।इस दौरान वहां ब्यालर तेज धमाके की आवाज के साथ फट गया। इस हादसे में तीनों मजदूर गंभीर रूप से झुलस गए। 
  • अवैध रूप से चल रही थी पॉवर कोटिंग स्टीमर फैक्ट्री
  • घायलों को आनन फानन में अस्पताल में भर्ती कराया गया

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में थाना कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र में अवैध रूप से चल रही बैडमिंटन की पावर कोटिंग स्टीमर फैक्ट्री में बुधवार देर शाम तेज धमाका हो गया। हादसे में फैक्ट्री में काम कर रहे तीन मजदूर घायल हो गए। तीनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

जानकारी के मुताबिक यह फैक्ट्री कंकरखेड़ा निवासी कपिल गुगलानी की बतायी गई है। कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र में यह फैक्ट्री रोहटा रोड स्थित जवाहर नगर में संचालित हो रही थी। फैक्ट्री का संचालन अवैध रूप से किया जा रहा था। बुधवार को फैक्ट्री में केसरगंज निवासी तौसीफ, मोहसिन और कालू में काम कर रहे थे। इस दौरान वहां ब्यालर में धमाका हो गया।

हादसे के बाद मौके पर पहुंची पुलिस। फैक्ट्री के बारे की जा रही पूरी जानकारी
हादसे के बाद मौके पर पहुंची पुलिस। फैक्ट्री के बारे की जा रही पूरी जानकारी

पड़ोसियों के घरों के शीशे भी टूटे
धमाके से पड़ोसी के घर के शीशे भी टूट गए। चपेट में आकर सागर की चार साल की बेटी घायल हो गई। धमाका इतना तेज था कि आस पास रहने वाले लोगों में दहशत फैल गई। लोग डर कर अपने घरों से बाहर निकलकर भागने लगे। इस दौरान मलबे में दबे घायलों को बचाने के लिए भी लोग मौके की और दौड़े। जानकारी मिलने पर सीओ दौराला संजीव दीक्षित, एसीएम सुनीता सिंह और कंकरखेड़ा पुलिस मौके पर पहुंची। धमाके से फैक्ट्री की छत पर बिछी सीमेंट की चादर टूटकर दूर तक बिखर गई। मलबा आसपास के घरों में भी जा गिरा।

घायल मजदूर को अस्पताल में भर्ती कराया गया।
घायल मजदूर को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

फैक्ट्री की जांच करने के बाद होगी कार्रवाई
सीओ दौराला संजीव ​दीक्षित का कहना है कि रिहायशी इलाके में फैक्टरी चल रही थी। हादसे में तीन मजदूर घायल हुए हैं, तीनों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फैक्ट्री रिहायशी इलाके में कैसे चल रही थी इसकी जांच करायी जा रही है। अभी किसी ने रिपोर्ट दर्ज नहीं करायी है, रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। एसीएम सुनीता सिंह ने बताया कि फैक्ट्री के संबंध में संबधित विभागों से जानकारी मांगी जा रही है, पता लगाया जा रहा है कि यह फैक्ट्री मानकों के अनुसार चल रही थी या न हीं इसकी जांच कर कार्रवाई की जाएगी।