• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Cyclone Tauktae Uttar Pradesh Latest Update; Rain Warning In UP Meerut Muzaffarnagar Shamli Ghaziabad Saharanpur

यूपी में 'ताउ ते' की दस्तक:झांसी में बूंदाबांदी जारी; पश्चिमी यूपी के 12 जिलों में अलर्ट जारी, सब्जी और फूलों की खेती को नुकसान की संभावना

मेरठ2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
यह फोटो झांसी की है। मंगलवार को यहां बूंदाबांदी हुई। वहीं, 19 मई को तूफान ताउ ते पश्चिमी यूपी में दस्तक देगा और इसका असर 20 मई तक रहेगा। - Dainik Bhaskar
यह फोटो झांसी की है। मंगलवार को यहां बूंदाबांदी हुई। वहीं, 19 मई को तूफान ताउ ते पश्चिमी यूपी में दस्तक देगा और इसका असर 20 मई तक रहेगा।

अरब सागर से उठे समुद्री तूफान ताउ ते का असर कल यानी 19 मई को पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अपना असर दिखाएगा। इसको लेकर मेरठ, मुजफ्फरनगर समेत 12 जिलों में तेज बूंदाबांदी और बिजली भी गिरने के आसार हैं। वहीं बुंदेलखंड के झांसी में बूंदाबांदी जारी है। बीते 24 घंटे में 21 मिमी बारिश हुई है। विशेषज्ञों का मानना है कि अगले एक सप्ताह तक इसी तरह जैसे मौसम बना रहेगा।

पूर्वी उत्तर प्रदेश से लेकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में आज रात से ताऊ ते सक्रिय हो जाएगा। मौसम वैज्ञानिकों ने किसानों को अलर्ट जारी कर दिया गया है। 19 और 20 मई को भारी बारिश की संभावना जताई जा रही है। सरदार वल्लभभाई पटेल कृषि विवि में मौसम वेधशाला के प्रभारी यूपी शाही के अनुसार 19 मई को तूफान ताउ ते वेस्ट यूपी में दस्तक देगा और इसका असर 20 मई तक रहेगा। इस दौरान 30 से 40 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से हवाएं चलेगी और बारिश होगी।

वहीं, झांसी में मौसम बदल गया है। सुबह से शाम तक रुक रुक कर झमाझम बारिश का दौर जारी है। रुक-रुक कर हो रही बारिश से मौसम में ठंडक आ गई। न्यूनतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस पर आ गया, जो सामान्य से 6 डिग्री कम रहा। इससे मौसम से फिलहाल उमस गायब हो गई। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में अच्छी बारिश के आसार जताए हैं।

ताऊ ते के साथ पश्चिमी विक्षोभ होगा सक्रिय
मौसम वैज्ञानिक एन सुभाष के अनुसार पश्चिमी यूपी में ताऊ ते के साथ पश्चिमी विक्षोभ भी सक्रिय होगा। इसका असर मेरठ सहित सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, बागपत, गाजियाबाद, रामपुर व मुरादाबाद में दिखेगा। तेज हवाओं के साथ तेज बारिश होगी।

सब्जियों, फूलों की खेती को होगा भारी नुकसान
ताऊ ते से गन्ना तो नहीं लेकिन मौसमी सब्जियों को भारी नुकसान होगा। इस तूफान का असर भिंडी, मिर्च, बैंगन, टमाटर सहित छोटे पौधे की सब्जी को होगा। तेज़ हवा आंधी के कारण सब्जी की पौध टूट जाती है। वहीं गेंदे की खेती भी प्रभावित होगी। तेज हवा से गेंदा भी झड़ जाता है।

खबरें और भी हैं...