पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फुल पैकेज बाद टेस्टिंग का बिल वसूला:कानपुर में मिन्नतें करता रहा परिवार; बिना पैसा जमा किए प्राइवेट अस्पताल ने नहीं दिया शव; FIR दर्ज

कानपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सेक्टर मजिस्ट्रेट की शिकायत पर रेलबाजार थाने में महामारी एक्ट की धाराओं पर केस दर्ज हुआ है। - Dainik Bhaskar
सेक्टर मजिस्ट्रेट की शिकायत पर रेलबाजार थाने में महामारी एक्ट की धाराओं पर केस दर्ज हुआ है।

एक तरफ जहां कोरोना के संकट काल में मानव जीवन खतरे में है, वहीं कुछ लोग इस आपदा को अवसर मान बैठे हैं। अस्पतालों में लूट मची हुई है। ऐसा ही एक मामला कानपुर में सामने आया है। यहां कृष्णा अस्पताल में संक्रमित मरीज के इलाज का 4.85 लाख रुपए बनाया गया। 5 लाख में ही इलाज का पैकेज बताया गया था। लेकिन मरीज की मौत हो गई तो अस्पताल प्रबंधन ने शव को सौंपने से इंकार कर दिया। कहा गया कि बकाया 2.40 लाख रुपए जमा होंगे, तभी शव मिलेगा। परिवार ने पूरे पैसे जमा किए तो उन्हें शव दिया गया। इसकी शिकायत परिवार ने डीएम से की।

मामला जिलाधिकारी तक पहुंचा तो उनके आदेश अवैध वसूली और शव देने से इंकार करने के आरोप में अस्पताल संचालक के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। सेक्टर मजिस्ट्रेट की शिकायत पर रेलबाजार थाने में महामारी एक्ट की धाराओं पर केस दर्ज हुआ है।

जांच के नाम पर 2.40 लाख जोड़े थे

एसीएमओ डा. एपी मिश्रा की तहरीर के अनुसार मंगलवार को केशवनगर निवासी महेश चंद्र मिश्रा की टाटमिल चौराहा स्थित कृष्णा अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। आरोप है कि अस्पताल प्रबंधन ने बिल का भुगतान न करने पर शव देने से इंकार कर दिया था। महेश चंद्र के बेटे विकास मिश्रा ने शिकायत की थी। एसीएमओ ने पीड़ित को मृतक महेश चंद्र का शव दिलवाया। दूसरे दिन बुधवार को एसीएमओ की जांच में पता चला कि महेश चंद्र का पूरा बिल करीब 4.85 लाख का बना था। मृतक के तीमारदार ने 2.45 लाख रुपए जमा कराए गए थे। बाकी 2.40 लाख रुपए की पैथालॉजी, एक्सरे चार्ज, साधारण चार्ज समेत अन्य थे। यह पूरी तरह से अवैध थे।

अस्पताल में भर्ती अन्य मरीजों के तीमारदारों से पूछताछ में पता चला कि फतेहपुर निवासी रमाकांत पांडेय की पत्नी शारदा देवी संक्रमित होने के बाद 19 अप्रैल से अस्पताल में भर्ती है। आठ लाख रुपए देने के बाद भी भर्ती किए हैं और ज्यादा रकम की मांग की जा रही है। एसीएमओ ने रेलबाजार थाने में कृष्णा अस्पताल के व्यवस्थापक के खिलाफ मामला दर्ज कराया। रेलबाजार इंस्पेक्टर रवि श्रीवास्तव ने बताया कि मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

ओवर बिलिंग पर कार्रवाई जारी रहेगी

एडीएम सिटी अतुल कुमार ने बताया कि कृष्णा हॉस्पिटल में ‌ओवर बिलिंग को लेकर शिकायतें प्राप्त हो रही थी। एसीएम प्रथम समेत अन्य एसीएम की टीम बनाकर जांच कराई गई। मामला सही पाया गया। एफआईआर दर्ज करा विधिक कार्रवाई की जा रही है।

खबरें और भी हैं...