• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur Shootout Chaubepur Police Latest News And Updates: Havan Pujan At Chaubepur Police Station After Gangster Vikas Dubey Encounter In Kanpur Uttar Pradesh

कानपुर शूटआउट के 60 दिन बाद हवन-पूजन:गैंगेस्टर विकास दुबे के प्रभाव वाले चौबेपुर थाने में शुद्धि कराई गई, फरियादी करते रहे इंतजार

कानपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कानपुर के चौबेपुर थाने में आयोजित हवन पूजन में शामिल पुलिसकर्मी। - Dainik Bhaskar
कानपुर के चौबेपुर थाने में आयोजित हवन पूजन में शामिल पुलिसकर्मी।
  • एसपी ग्रामीण बोले- यह एक सामान्य हवन पूजन
  • नहीं करना पड़ा किसी को इंतजार

कानपुर जिले में चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरु गांव में बीते 2 जुलाई को गैंगस्टर विकास दुबे ने सीओ समेत 8 पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी। इसके बाद पुलिस की कार्यप्रणाली पर तमाम सवाल उठे थे। हालांकि, शूटआउट के 8वें दिन एसटीएफ ने विकास दुबे का एनकाउंटर कर दिया था। मंगलवार को मामले में वांछित आखिरी आरोपी 50 हजार का इनामी रामू बाजपेयी भी पकड़ में आ गया। इसके बाद मंगलवार को चौबेपुर थाने में हवन-पूजन किया गया, ताकि क्षेत्र में क्राइम कंट्रोल रहे और शांति बनी रहे। इस दौरान फरियादी अपनी फरियाद लिए पुलिसकर्मियों के हवन पूजन से उठने का इंतजार करते नजर आए।

थाने के बाहर बैठे फरियादी।
थाने के बाहर बैठे फरियादी।

आज मंगलवार, एक सामान्य पूजा थी

एसपी ग्रामीण बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि आज मंगलवार था और सामान्य हवन पूजन हो रहा था। जैसा कि आपको बता दूं कि हर थाने में मंदिर बने होते हैं और उनकी पूजा-अर्चना रोजाना होती है और यह एक सामान्य पूजा थी। किसी भी शिकायतकर्ता को बाहर इंतजार करने के लिए नहीं कहा गया था।

गैंगस्टर विकास दुबे।- फाइल फोटो
गैंगस्टर विकास दुबे।- फाइल फोटो

दो जुलाई की रात को हुआ था बिकरु कांड

2 और 3 जुलाई की रात पुलिस की एक टीम विकास दुबे के घर दबिश देने गई थी, जिसकी जानकारी भनक विकास दुबे को पहले ही पुलिस के द्वारा लग गई थी। इसके बाद विकास दूबे ने पुलिस वालों पर हमला कर दिया, जिसमें उसके कई साथी मौजूद थे। इस हमले से पुलिस के 8 जवान शहीद हो गए थे। हत्याकांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे को उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार कर लिया गया था। उत्तर प्रदेश आते समय कानपुर के पास पुलिस की गाड़ी पलट गई। इसी बीच भागने के दौरान एनकाउंटर में मारा गया। इस प्रकरण में विकास समेत उसके पांच साथी मारे गए थे। जबकि, 26 से ज्यादा लोगों को जेल भेजा गया है। सात बदमाशों ने कोर्ट में सरेंडर किया है।

खबरें और भी हैं...