• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • UP CM Yogi Adityanath Uttarakhand Visit LIVE Updates | Uttar Pradesh CM Yogi Adityanath On His Father And Mother

योगी 5 साल बाद उत्तराखंड अपने घर पहुंचे:मां के पैर छुए, तीनों बहन और भाई मिलने पहुंचे; संन्यास के 28 साल बाद घर में गुजरेगी रात

4 महीने पहलेलेखक: आशीष उरमलिया

उत्तर प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ तीन दिन के उत्तराखंड के दौरे पर हैं। वे 5 साल बाद मंगलवार को अपने गांव पंचूर पहुंचे। यहां मां सावित्री से मिलने से पहले उन्होंने भैरव मंदिर में पूजा अर्चना की। इसके बाद मां से मिले। मां ने योगी के सिर पर हाथ रखकर उन्हें आशीर्वाद दिया। यह मां-बेटे के लिए काफी भावुक क्षण था।

योगी ने मां से मुलाकात का फोटो भी ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने महज एक शब्द 'मां' लिखा है। योगी से मिलने के लिए उनकी तीन बहनें पहले ही घर पहुंच चुकी थीं। वहीं, उनके तीनों भाई भी घर पर थे। सीएम के स्वागत के लिए गांव में उत्सव का माहौल था।

भावुक हुए योगी
इससे पहले पंचूर से 2 किमी दूर बिथ्याणी में योगी ने महायोगी गुरु गोरखनाथ राजकीय महाविद्यालय में गुरु अवेद्यनाथ की प्रतिमा का अनावरण किया। गुरु को याद करते हुए योगी भावुक हो गए। उन्होंने कहा, "आज मुझे अपने गुरुओं का सम्मान करने का सौभाग्य मिला। मैं 35 साल बाद अपने अध्यापकों से मिल पा रहा हूं। मैं आज जो कुछ भी हूं माता-पिता और गुरु अवेद्यनाथ की वजह से हूं।" इस दौरान वे बोलते-बोलते भावुक हो गए और उनकी आंखें भर आईं।

5 साल बाद मां से मिले योगी आदित्यनाथ

यह फोटो उत्तराखंड में योगी के पैतृक गांव पंचूर की है। योगी ने अपनी मां से मुलाकात की।
यह फोटो उत्तराखंड में योगी के पैतृक गांव पंचूर की है। योगी ने अपनी मां से मुलाकात की।

योगी बोले- जो बातचीत से नहीं मानेंगे, वे कानून से मानेंगे
योगी ने यूपी में लाउडस्पीकर हटाए जाने का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा,"यूपी में लाउडस्पीकर का शोर खत्म हुआ है। एक लाख से अधिक लाउडस्पीकर उतारे गए हैं। कहीं पर भी सड़क पर नमाज नहीं पढ़ी जा रही है। यूपी में गुंडागर्दी नहीं होती है। जो लोग संवाद से नहीं मानेंगे, वे कानून से मानेंगे। आस्था का सम्मान जरूरी, लेकिन समस्या नजरअंदाज नहीं होनी चाहिए। उत्तर प्रदेश में माफिया की कमर अब टूट चुकी है। अब वो सीधे खड़े नहीं हो पा रहे हैं।"

अपने गांव पंचूर पहुंचने के बाद परिवार के साथ बैठे सीएम योगी आदित्यनाथ।
अपने गांव पंचूर पहुंचने के बाद परिवार के साथ बैठे सीएम योगी आदित्यनाथ।

योगी के गांव की ओर जाने वाले रास्ते पर सुरक्षा बढ़ाई गई

ये रास्ता बिथ्याणी से योगी के गांव पंचूर की तरफ जाता है। योगी के कार्यक्रम की वजह से कुछ देर तक के लिए मीडिया को यहां से आगे जाने की इजाजत नहीं दी गई।
ये रास्ता बिथ्याणी से योगी के गांव पंचूर की तरफ जाता है। योगी के कार्यक्रम की वजह से कुछ देर तक के लिए मीडिया को यहां से आगे जाने की इजाजत नहीं दी गई।

योगी के इस कार्यक्रम को कवर करने के लिए देशभर से मीडिया पहुंचा हुआ है। हालांकि, उत्तराखंड प्रशासन ने योगी के गांव से एक किमी पहले ही मीडिया को कुछ देर तक के लिए रोक दिया।

कार्यक्रम के दौरान योगी ने यह भी कहा, "उत्तराखंड में भाजपा सरकार न बनती तो शायद मैं यहां आज भी नहीं आ पाता। शायद मैं अपने गांव भी नहीं आ पाता। कोरोना काल में हमने लोगों को फ्री चिकित्सा की सुविधाएं दीं। ऐसी ही व्यवस्था हमें अब उत्तराखंड में नजर आती हैं, जब से हमारी भाजपा सरकार यहां आई है।"

स्कूल के 6 शिक्षकों को शॉल देकर सम्मानित किया

महायोगी गुरु गोरखनाथ राजकीय महाविद्यालय में शिक्षकों को शॉल पहनाते सीएम योगी।
महायोगी गुरु गोरखनाथ राजकीय महाविद्यालय में शिक्षकों को शॉल पहनाते सीएम योगी।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने स्कूल के शिक्षकों को सम्मानित किया। 6 शिक्षकों को शॉल देकर उन्हें धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि मैं यहां कक्षा 1 से 9 तक पढ़ा हूं। मुझे याद है कि 1940 से 2014 तक मेरे गुरु यहां नहीं आ पाए। जबकि उनका जन्म यहीं हुआ था।

सीएम पुष्कर धामी ने कहा - उत्तराखंड की माटी के लाल का स्वागत है

उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने राम मंदिर निर्माण कार्य में तेजी के लिए सीएम योगी की तारीफ की।
उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने राम मंदिर निर्माण कार्य में तेजी के लिए सीएम योगी की तारीफ की।

उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि आज महंत अवैद्यनाथ की मूर्ति का अनावरण आज अक्षय तृतीया के दिन उनके शिष्य यूपी योगी आदित्यनाथ ने किया है, इसके गर्व ज्यादा गर्व की बात और क्या होगी। महंत अवैद्यनाथ ने हिंदू धर्म को सशक्त करने और समाज में पीछे छूटे लोगों को बराबरी का दर्जा देने के लिए बड़े स्तर पर काम किया। आज योगी अपने जन्मस्थान पर आए हैं। मैं उत्तराखंड की माटी के लाल का स्वागत करता हूं।

त्रिवेंद्र बोले, राम जन्मभूमि के लिए महंत अवेद्यनाथ का समर्पण हमेशा याद रहेगा
उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि राम जन्मभूमि के लिए महंत अवेद्यनाथ की भूमिका सराहनीय थी। उनके मार्गदर्शन में योगी ने कार्य किया था। यह बहुत ही गर्व की बात है कि सीएम योगी से मिलने के लिए पौड़ी के दूर-दराज इलाकों के अलावा आस-पास के जिलों से भी लोग आए हैं।

गुरु अवेद्यनाथ की मूर्ति का अनावरण किया

बिथ्यानी के महायोगी गुरु अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय में अपने गुरु अवेद्यनाथ की मूर्ति का अनावरण करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
बिथ्यानी के महायोगी गुरु अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय में अपने गुरु अवेद्यनाथ की मूर्ति का अनावरण करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

योगी आदित्यनाथ ने बिथ्यानी के महायोगी गुरु अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय में अपने गुरु अवेद्यनाथ की मूर्ति का अनावरण किया। इस दौरान मंच पर उनके साथ पूर्व मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत, त्रिवेंद्र सिंह रावत और पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज आदि मौजूद थे।

देखिए सीएम योगी के उत्तराखंड दौरे की कुछ और खास तस्वीरें

सीएम योगी के स्वागत के लिए कतार में खड़ी कॉलेज की छात्राएं उत्तराखंड की पारंपरिक वेशभूषा में तैयार होकर आई थीं।
सीएम योगी के स्वागत के लिए कतार में खड़ी कॉलेज की छात्राएं उत्तराखंड की पारंपरिक वेशभूषा में तैयार होकर आई थीं।
अपने गुरु अवेद्यनाथ की मूर्ति का अनावरण करने से पहले सीएम योगी ने उनकी पूजा की।
अपने गुरु अवेद्यनाथ की मूर्ति का अनावरण करने से पहले सीएम योगी ने उनकी पूजा की।
सीएम योगी ने उत्तराखंड के सीएम पुष्कर धामी और पूर्व मुख्यमंत्रियों के साथ गुरु अवेद्यनाथ की प्रतिमा का अनावरण किया।
सीएम योगी ने उत्तराखंड के सीएम पुष्कर धामी और पूर्व मुख्यमंत्रियों के साथ गुरु अवेद्यनाथ की प्रतिमा का अनावरण किया।
महायोगी गुरु गोरखनाथ राजकीय महाविद्यालय के परिसर में सजाया गया योगी के कार्यक्रम का भव्य पंडाल।
महायोगी गुरु गोरखनाथ राजकीय महाविद्यालय के परिसर में सजाया गया योगी के कार्यक्रम का भव्य पंडाल।

इस स्टोरी में विकास सिंह ने भी मदद की है। विकास दैनिक भास्कर के साथ इंटर्नशिप कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...