कानपुर: मर्डर का खुलासा / आपत्तिजनक हालत में देखने के बाद बहन ने प्रेमी के साथ मिलकर भाई का रेत दिया था गला, माता-पिता ने साक्ष्य मिटाने में मदद की

ये तस्वीर कानपुर की है। यहां युवक की हत्या का पुलिस ने खुलासा किया। मृतक के अपनों ने ही उसे मौत के घाट उतारा था। पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। ये तस्वीर कानपुर की है। यहां युवक की हत्या का पुलिस ने खुलासा किया। मृतक के अपनों ने ही उसे मौत के घाट उतारा था। पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।
X
ये तस्वीर कानपुर की है। यहां युवक की हत्या का पुलिस ने खुलासा किया। मृतक के अपनों ने ही उसे मौत के घाट उतारा था। पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।ये तस्वीर कानपुर की है। यहां युवक की हत्या का पुलिस ने खुलासा किया। मृतक के अपनों ने ही उसे मौत के घाट उतारा था। पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

  • अनवरगंज के कुलीबाजार का मामला
  • 24 मई की रात युवक की हुई थी हत्या

दैनिक भास्कर

Jun 01, 2020, 03:51 PM IST

कानपुर. सात दिन पूर्व अनवरगंज थाना क्षेत्र में 24 वर्षीय युवक की हुई संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के मामले में पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। पुलिस के अनुसार, युवक ने अपनी बहन को उसके प्रेमी के साथ आपत्तिजनक हालत में बाथरूम में देख लिया था। यह अवैध रिश्ता सरेआम न हो जाए, इसलिए बहन ने प्रेमी के साथ मिलकर भाई को दबोच लिया और फिर गला रेत दिया था। मृतक के परिजन भी इसे खुदकुशी करार देकर मामले को दबाने में जुटे थे। पुलिस ने प्रेमी युगल समेत पांच लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। आलाकत्ल चाकू भी बरामद कर लिया गया है। 

अनवरगंज थाना क्षेत्र के कुलीबाजार निवासी हाफिज मोहम्मद रईस की बेटी तस्लीम का पड़ोस में रहने वाले तौसीफ अहमद के साथ अफेयर था। तस्लीम और तौसीफ अक्सर छिपकर एक दूसरे से मिला करते थे। भाई जफर को बहन के प्रेम संबधों की जानकारी थी। इसलिए वह कई दिनों से उस पर नजर रख रहा था। बीते 24 मई की देर रात तौसीफ तस्लीमा से मिलने के लिए उसके घर गया था। दोनों बाथरूम में आपत्तिजनक हालत में थे। 

एसपी राजकुमार अग्रवाल ने बताया कि, अगले दिन 25 मई को हाफिज मोहम्मद रईस ने सूचना दी थी कि उनके बेटे जफर ने ब्लेड से गला काटकर आत्महत्या कर ली है। जब अनवरगंज थाने की पुलिस मौके पर पहुंची तो पाया गया कि इतनी गहरी चोट गले पर ब्लेड से संभव नहीं है, यह किसी धारदार हथियार से ही संभव थी। मृतक के परिजनों ने जिस बाथरूम में घटना का होना बताया था। वहां ब्लड के सैंपल नहीं मिले थे। बल्कि दूसरे बाथरूम में ब्लड के सैंपल थे।

 

फॉरेंसिक टीम और पोस्टमार्टम की रिपोर्ट व सख्ती से पूछताछ करने पर पाया गया कि परिवार के सदस्य झूठ बोल रहे हैं। पूछताछ में यह बात सामने आई कि मृतक जफर ने अपनी बहन तस्लीम को पड़ोसी तौसीफ के साथ बाथरूम में आपत्तिजनक हालत में देख लिया था। जब जफर ने इसका विरोध किया तो बहन ने प्रेमी के साथ मिलकर उसपर चाकू से हमला कर दिया। जिससे उसकी मौत हो गई।

एसपी ने बताया कि, मृतक के परिवार वालों ने साक्ष्य मिटाने का काम किया है। इस घटना में तस्लीमा, तौसीफ, हाफिज मो रईस, वसीम बानों और सैफ को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। अन्य फरार लोगों की तलाश जारी है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना