• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur Vikas Dubey News: Wanted Poster Of Fugitive Gangster And His Wife Richa Dubey Have Been Put Up In Bihar Border

कानपुर शूटआउट:बिहार बॉर्डर पर मोस्ट वांटेड विकास दुबे और उसकी पत्नी के पोस्टर चस्पा कराए, चंदौली में मिली थी ऋचा की आखिरी लोकेशन

चंदौली3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
यह तस्वीर चंदौली जिले की है। यहां बिहार बॉर्डर पर पुलिस ने कुख्यात विकास दुबे और उसकी पत्नी ऋचा के पोस्टर चस्पा कराए गए। - Dainik Bhaskar
यह तस्वीर चंदौली जिले की है। यहां बिहार बॉर्डर पर पुलिस ने कुख्यात विकास दुबे और उसकी पत्नी ऋचा के पोस्टर चस्पा कराए गए।
  • यूपी-बिहार बॉर्डर पर ऑटोमैटिक हथियारों से लैस पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया
  • आने जाने वालों के साथ आमजनों को बांटे गए बदमाश विकास और उसकी पत्नी के पोस्टर
  • एनकाउंटर में मारे गए अमर की पत्नी-पिता समेत विकास के सात करीबियों की गिरफ्तारी हुई

कानपुर शूटआउट की जांच कर रही उत्तर प्रदेश एसटीएफ की जांच में सामने आया है कि पांच लाख के इनामी बदमाश विकास दुबे ने अपने सहयोग जय बाजपेयी से वारदात से पहले फोन पर बात की थी। विकास ने बताया था कि बड़ी घटना होने वाली है। पत्नी ऋचा और बेटे को सुरक्षित जगह पहुंचा दिया। कहा जा रहा है कि, इसी के बाद जय ने ऋचा और उसके बेटे को अपनी गाड़ी चंदौली भिजवाया था। ऋचा की आखिरी लोकेशन चंदौली में मिली थी। लेकिन, तब से उसका फोन बंद आ रहा है।

अमर की पत्नी-पिता समेत विकास के सात करीबी गिरफ्तार

विकास के करीबी अमर दुबे को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया है। उसकी मौत के बाद पुलिस ने उसकी पत्नी खुशी दुबे, पिता संजू उर्फ संजीव दुबे, शांति देवी, विनय कुमार, श्यामू बाजपेयी, जहान यादव व केके शर्मा को गिरफ्तार कर लिया है।

नौबतपुर में अस्थाई चौकी बनी

एसटीएफ जय बाजपेयी से लखनऊ में पूछताछ कर रही है। वहीं, चंदौली जिले में यूपी-बिहार बार्डर पर पुलिस जवानों की मुस्तैदी बढ़ा दी गई है। चंदौली जनपद बिहार की सीमा से सटा हुआ है। इस कारण बिहार से सटे इलाकों में चंदौली पुलिस काफी मुस्तैद है और बिहार जाने वाली वाहनों की लगातार चेकिंग की जा रही है। बॉर्डर पर सैयदराजा कोतवाली के नौबतपुर में पुलिस लगातार चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। जवानों को ऑटोमैटिक हथियारों से लैस किया गया है। पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल द्वारा नौबतपुर में एक अस्थाई चौकी की स्थापना कर दी गई है। आरोपी विकास दुबे उसकी पत्नी और अन्य वांछितों के पोस्टर यूपी-बिहार सीमा पर चिपकाए गए हैं। बॉर्डर से सटे इलाकों में लोगों में फोटोयुक्त पोस्टर बांट भी जा रहा है।

विकास की तलाश में 3 राज्यों में छापे
दो जुलाई की रात कानपुर के बिकरू गांव में सीओ बिल्हौर देवेंद्र मिश्र की अगुवाई में तीन थानों की फोर्स गैंगस्टर विकास दुबे को गिरफ्तार करने पहुंची थी। लेकिन, पहले से सतर्क बदमाशों ने पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया था। जिसमें सीओ समेत आठ पुलिस वालों की मौत हो गई थी। उसके बाद से विकास और उसकी पत्नी की तलाश में बुधवार को राजस्थान, हरियाणा और दिल्ली में छापा मारा गया। सूत्रों के मुताबिक विकास और उसका साथी प्रभात फरीदाबाद के सेक्टर-87 में रिश्तेदार श्रवण के घर रुके थे। पहले उन्होंने होटल में रूम बुक करवाने की कोशिश की, लेकिन आईडी में फोटो क्लियर नहीं होने की वजह से बुकिंग नहीं कर पाए। सूचना मिलने पर पुलिस ने छापा मारा, पर विकास पहले ही भाग गया। पुलिस ने श्रवण, उसके बेटों अंकुर और प्रभात को गिरफ्तार कर लिया है। इनके पास 4 पिस्टल मिली हैं, इनमें से 2 यूपी पुलिस की हैं।