पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सावधान... यूपी में सक्रिय हैं लुटेरी दुल्हनें:खूबसूरत लड़कियों की तस्वीरें दिखाकर शादी कराता है गिरोह; गहने-नकदी लेकर फरार हो जाती लुटेरी दुल्हनें

लखनऊ23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोनाकाल में लॉकडाउन की वजह से सैकड़ों लोग बेरोजगार हुए हैं। यही वजह है कि जहां तीन चार साल पहले कभी कभार ऐसी घटनाएं सामने आती थी। अब वह लगातार सामने आ रही हैं। - Dainik Bhaskar
कोरोनाकाल में लॉकडाउन की वजह से सैकड़ों लोग बेरोजगार हुए हैं। यही वजह है कि जहां तीन चार साल पहले कभी कभार ऐसी घटनाएं सामने आती थी। अब वह लगातार सामने आ रही हैं।

आप किसी लड़की वाले के यहां रिश्ता करने जा रहे हैं तो पहले गहन पड़ताल कर लें। यूपी में लुटेरी दुल्हनों का गिरोह सक्रिय है, जो खूबसूरत लड़कियों की तस्वीरें दिखाकर रिश्ता तय करता है। इस गिराेह में कई लड़कियां और उनके परिजन बनकर सामने आने वाले फरेबी शामिल हैं। इनकी ठगी के शिकार परिवारों का कहना है कि यह गिरोह विधिवत शादी और विदाई कराता है। ये लड़कियां कुछ दिन तक ससुराल में रहती हैं। इस दौरान पूरे परिवार को भरोसे में ले लेती हैं। इसके बाद खाने-पीने की किसी वस्तु में नशीला पदार्थ मिलाकर परिवार को बेहोश कर देती हैं। घर में रखी नकदी, जेवर आदि लेकर फरार हो जाती हैं। होश आने पर परिजन थानों के चक्कर लगाते रहते हैं। प्रदेश में पिछले चार पांच दिनों में 10 से ज्यादा ऐसे केस सामने आ चुके हैं। ताजा मामला हाथरस जिले का है। यहां एक लुटेरी दुल्हन नकदी और जेवर लेकर फरार हो गई है।

हाथरस: खाने में नशीला पदार्थ दिया, सारा माल लेकर फरार

हाथरस के अजय की शादी के लिए उनके परिजन काफी दिनों से लड़की ढूंढ रहे थे। आखिरकार उनकी तलाश हाथरस में ही पूरी हुई। भावना नाम की लड़की से अजय की शादी हुई। भावना ने कुछ दिनों तक एक अच्छी बहू की तरह घर का सारा काम संभाला। सास-ससुर की देखभाल की। शनिवार रात तक सब कुछ बहुत अच्छे से चल रहा था। लेकिन रविवार सुबह जब परिजनों की आंख खुली तो सब अवाक रह गए। पता चला भावना लुटेरी दुल्हन थी। रात के खाने में नशे की गोलियां डालकर सबको खाना खिलाया और जब सब बेहोशी में सो गए तो नकदी और जेवर समेत घर का सामान लेकर रफू चक्कर हो गई। अब अजय और उसके परिजन थाने के चक्कर काट रहे हैं। उसके गांव के तो परिजन भी वहां नहीं थे।

कौशांबी: तीसरी शादी करते पुलिस के हत्थे चढ़ गई

कौशांबी में जैसमिन नाम की युवती पुलिस हत्थे चढ़ी है। जैसमिन मूलरूप से गाजीपुर की रहने वाली है। लगभग साल भर पहले जैसमिन घर से अपने बॉयफ्रेंड के साथ भागी थी। इसके कुछ महीनों बाद प्रेमी उसे धोखा देकर भाग गया। वह घर लौटी तो परिजनों ने अपनाने से इंकार कर दिया। फिर जैसमिन इधर-उधर भटकती रही। इसी दौरान सुमन और अर्जुन नाम के दो शख्स इसके संपर्क में आए और फिर जैसमिन लुटेरी दुल्हन बन गई। जैसमिन ने पुलिस को बताया, कानपुर में तीन महीने पहले एक युवक को प्रेम जाल में फंसा कर शादी की पेशकश की, सगाई में मिले जेवरात कपड़े और नकदी लेकर वहां से फरार हो गई। प्रयागराज में दो माह पहले शादी के नाम पर युवक से मोटी रकम वसूल भाग निकली थी। कौशाम्बी में शनिवार को वह एक परिवार से मिलने के लिए ढाबे पर इंतजार कर रही थी तभी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

आगरा: नौ तोला सोना और नकदी ले गई दुल्हन

आगरा के बाह थाना क्षेत्र के बृजभूषण ने अपने बेटे उपेंद्र का विवाह बड़ी हसरतों से 7 मई को किया था। शालिनी को पाकर उपेंद्र बहुत ही खुश था। परिवार उसे बहू नहीं बल्कि बेटी की तरह रख रहा था। इन खुशियों के बीच 10 मई को शालिनी की चाची की मौत हो गई। ससुर बृजभूषण ने बहू की संवेदनाओं को तरजीह दी और उसे मायके ले गए। वह तो लौट आए लेकिन बहू और दामाद सीधे तेरहवीं के बाद 24 मई को लौटे। उसी रात बहू ने परिजनों को पीने के लिए दूध दिया और जब सुबह घर वालों की आंखें खुली तो दुल्हन गायब थी। शादी के 17वें दिन उनकी खुशियां काफूर हो चुकी थी। दुल्हन 9 तोले सोने के जेवर और नकदी लेकर फरार हो गई थी। अब परिजन पुलिस के चक्कर काट रहे हैं। अभी तक पुलिस की गिरफ्त में दुल्हन नहीं आई है।

आगरा में पुलिस तहरीर के आधार पर सर्विलांस की मदद से मामले की जांच कर रही है।
आगरा में पुलिस तहरीर के आधार पर सर्विलांस की मदद से मामले की जांच कर रही है।

गोरखपुर: 15 लाख के जेवर लेकर फरार हुई

गोरखपुर के मनीष की शादी 27 अप्रैल को हुई थी। लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए शादी हुई और दुल्हन के साथ वह घर आ गए। हर आदर्श बहू की तरह उनकी पत्नी गंगा भी रह रही थी। शादी के 15वें दिन जब मनीष सुबह उठे तो उन्होंने पत्नी को आवाज लगाई, लेकिन रोज जो पत्नी तुरंत सामने आ जाती थी दो चार आवाज पर भी सामने नही आई। मनीष ने घर मे जाकर देखा तो सभी परिजन जो सुबह उठ जाते हं वह सभी सो रहे थे। फिर सबको जगाया गया। देखा गया तो पता चला कि लुटेरी दुल्हन नकदी, जेवर, कपड़े वगैरह मिलाकर 15 लाख का सामान ले उड़ी। उसका कारनामा सीसीटीवी में भी दर्ज हुआ है।

लॉकडाउन के कारण बढ़ रही ठगी

पूर्व पुलिस महानिदेशक एके जैन कहते हैं कि कोरोनाकाल में लॉकडाउन की वजह से सैकड़ों लोग बेरोजगार हुए हैं। यही वजह है कि जहां तीन-चार साल पहले कभी कभार ऐसी घटनाएं सामने आती थी, वह अब लगातार सामने आ रही हैं। अभी की ज्यादातर घटनाओं के पीछे यही मूल वजह है कि लोगों का रोजगार छिन गया है। ऐसे में इस तरह से लोगों से ठगी के मामले सामने आ रहे हैं। कहीं गैंग काम कर रहा है तो कहीं बेरोजगार बॉयफ्रेंड शादीशुदा गर्लफ्रेंड के बहाने लोगों को लूट रहा है। हमें यह भी देखना होगा कि सबसे खराब हालत तो उस लड़की की होती है, जिसकी बार-बार शादी होती है।

कैसे बचाव करें

पूर्व पुलिस महानिदेशक एके जैन कहते हैं कि ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए हमें पुराने तरीकों की ओर जाना होगा।

#शादी तय करते समय हमें परिवार के बारे में पूरी जानकारी रखनी चाहिए। बीच मे कोई सगा-संबंधी बिचौलिया हो तो बेहतर होगा।
#ऑनलाइन शादी करे तो घर परिवार और अगल बगल वालों से पूरी जानकारी कर शादी तय करें।
#एक दम से कांटेक्ट में आए परिवारों पर पूरा भरोसा न करें। यह हानिकारक हो सकता है। पहले पूरी तफ्तीश कर लें तभी शादी जैसे निर्णय के लिए आगे बढ़ें।
#अभी भी ऐसे कई केस हैं जो बदनामी की वजह से सामने नहीं आ पाते हैं। ऐसी कोई घटना हो तो तुरंत पुलिस को सूचित करें ताकि आपको तो इंसाफ मिले ही अन्य कोई परिवार इनकी धोखाधड़ी का शिकार न हो।