पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हाईकोर्ट की सख्ती के बाद एक्शन में पुलिस:मेरठ में बिना मास्क निकले लोगों पर 500-500 रुपए का जुर्माना लगा; दोपहिया से लेकर रोडवेज बसों की चेकिंग हुई

मेरठ10 महीने पहले
मेरठ में चेकिंग के दौरान पुलिस वालों से लोगों ने झड़प भी की।
  • सीएम योगी ने मेरठ मंडल की समीक्षा के दौरान पुलिस को एक्शन प्लान का निर्देश दिया था
  • शहर से लेकर देहात क्षेत्रों में चल रहा पुलिस का अभियान, मास्क पहनने की सलाह दी जा रही

उत्तर प्रदेश के हर जिले में कोरोनावायरस का संक्रमण बढ़ रहा है। इसके बावजूद लोग लापरवाही बरत रहे हैं। जबकि इससे बचाव का एक मात्र तरीका सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनना है। इसी कड़ी में मेरठ में मास्क न पहनने वालों पर जिला प्रशासन सख्त हो गया है। सोमवार को सड़क पर बिना मास्क लगाकर निकलने वालों पर शिकंजा कसा गया। शहर और देहात में मास्क को लेकर एक साथ अभियान चलाया गया। इस दौरान जो व्यक्ति बिना मास्क नजर आए। उन पर 500 रुपए का जुर्माना लगाया जा रहा है।

बेगमपुल चौराहे पर चला सघन अभियान
दरअसल, इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को कोविड-19 से बचाव को लेकर सख्ती बरतने के निर्देश दिए हैं। कहा है कि बिना मास्क के घर से बाहर निकलने वालों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जाए। हाल ही में सीएम योगी आदित्यनाथ ने समीक्षा के दौरान कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए पुलिस को एक्शन प्लान बनाने का निर्देश दिया था। इसी क्रम में सोमवार को शहर के मुख्य चौराहों पर चेकिंग अभियान चलाया गया। एएसपी बेगमपुर चौराहे पर खुद उतरे। इस दौरान बस से लेकर दोपहिया वाहनों पर चलने वालों को चेक किया गया। साथ ही मास्क न लगाने पर जुर्माना लगाया गया।

चेकिंग के दौरान लोग रुमाल से चेहरा ढंकते नजर आए।
चेकिंग के दौरान लोग रुमाल से चेहरा ढंकते नजर आए।

जिले में अब तक 9 हजार से अधिक पॉजिटिव केस मिले
मेरठ जिले में अब तक 9323 पॉजिटिव केस मिल चुके हैं। इनमें 2,574 एक्टिव केस हैं। जबकि 6,522 संक्रमित इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं। अब तक कोरोना के संक्रमण से 227 लोगों की जान जा चुकी है।

खबरें और भी हैं...