पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • More Than 56 Lakh Masks, Prepared With The Help Of Rural Women, Said Government Help In The Midst Of Crisis, Even More Employment Is Expected

लॉकडाउन के बीच राहत:ग्रामीण महिलाओं की मदद से तैयाए हुए 56 लाख से ज्यादा मास्क, बोलीं- संकट के बीच सरकार ने की मदद, आगे भी ऐसे ही रोजगार मिलने की अपेक्षा भी

लखनऊ4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
उप्र सरकार ने स्वयंसेवी सहायता संस्थाओं के जरिए हुनरमंद महिलाओं को मास्क बनाने के काम में लगाया है। सरकार का कहना है कि इससे महिलाओं को संकट के समय में रोजगार मिल रहा है जिससे उनकी जरूरतें भी पूरी हो रही हैं।
  • बीकेटी ब्लॉक के गंगा सहायता समूह ने अब तक 40 हजार मास्क, 443 पीपीई किट बनाए हैं
  • उत्तर प्रदेश सरकार ने सभी लोगों को मास्क लगाकर बाहर निकलने की गाइडलाइन तय की है

उत्तर प्रदेश में बाहर से आए प्रवासी मजूदरों को लॉकडाउन के बीच सरकार रोजगार देने का दावा कर रही है। इस बीच सरकार ने स्वयं सेवी संस्थाओं की मदद से स्किल्ड महिलाओं को मास्क बनाने के काम में लगाया है। इन संस्थाओं की मदद से महिलाओं को हुनर का फायदा भी मिल रहा है। सरकार का दावा है कि प्रदेश में 12 हजार 709 स्वयं सहायता समूह द्वारा करीब 56 लाख 34 हजार 939 मास्क बनाए गए हैं। जिनमें से करीब 43 लाख 5 हजार 822 मास्क बिक चुके हैं। वहीं प्रदेश में सरकार की मदद से 373 स्वयं सहायता समूहों ने करीब 26 हजार 901 पीपीई किट भी तैयार की हैं।

महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास 

महिलाओं को रोजगार देकर उन्हें आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास सरकार कर रही है।
महिलाओं को रोजगार देकर उन्हें आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास सरकार कर रही है।

उत्तर प्रदेश सरकार गांवों में स्वयं सहायता समूहों को बढ़ावा दे रही है, जिसके चलते अब गांवों में भी महिलाओं का सरकार के प्रति विश्वास बढ़ा है। उत्तर प्रदेश सरकार ने हर किसी को मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया है। ऐसे में हर किसी को मास्क और डॉक्टरों को पीपीई किट मिल सके इसके लिए गांवों में स्वयं सहायता समूह दिन रात मेहनत कर मास्क बना रही है। लॉकडाउन के कारण आर्थिक दिक्कतों से जूझ रहे ग्रामीण परिवारों को रोजगार से जोड़ने के लिए एसआरएलएम ने बड़ी योजना पर काम शुरु किया है। सरकार ने भी महिलाओँ के हुनर की सराहना करते हुए उन्हें रोजगार से जोड़ दिया है।

लखनऊ के बीकेटी में महिलाओं ने तैयार किए 40 हजार मॉस्क

बीकेटी में मास्क बनाने की काम में जुटी एक महिला। स्वयं सेवी संस्थाओं की मदद से महिलाएं अपने हुनर से खर्चा निकाल रही हैं।
बीकेटी में मास्क बनाने की काम में जुटी एक महिला। स्वयं सेवी संस्थाओं की मदद से महिलाएं अपने हुनर से खर्चा निकाल रही हैं।

लखनऊ के बीकेटी ब्लॉक के गंगा सहायता समूह ने अब तक 40 हजार मास्क, 443 पीपीई किट बनाए हैं। यही नहीं इनके गांव नवादा में कुल 9 समूह कार्य कर रहे हैं। जिनमें करीब 40 मशीनें और 100 महिलाओं को रोजगार मिल रहा है। एक दिन में करीब 1500 मास्क ये लोग तैयार कर लेते हैं।गंगा स्वयं सहायता समूह में सखी व सदस्य के तौर पर काम रही सरिता यादव ने बताया कि सरकार द्वारा दिए गए खादी के कपड़े से यह लोग मास्क बनाने का काम कर रहे हैं। जिससे इनको काफी फायदा हुआ। यही नहीं सरकार द्वारा पीपीई किट के लिए भी कपड़ा उपलब्ध कराया गया है। जिससे उन्होंने पीपीई किट भी बनाई हैं। उन्होंने सीएम योगी को धन्यवाद देते हुए कहा उन्हें सरकार ऐसी हो जो आगे भी उन्हें रोजगार मुहैया कराती रहे।

वहीं गंगा स्वयं सहायता समूह में सदस्य के तौर पर काम रही सोना देवी ने भी lसीएम योगी आदित्यनाथ को धन्यवाद दिया। दरअसल सोना देवी के पति की तीन साल पहले एक सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थे। रोजगार का कोई साधन नहीं था जिसके बाद उन्हें अपने परिवार वालों से ही स्वयं सहायता समूह के बारे में पता चला।

पति की मौत के बाद रोजगार पाकर खुश हैं सोना देवी

सोना देवी करीब डेढ़ साल से इस समूह में काम कर रही हैं। लॉकडाउन के दौरान उन्हें करीब 10 हजार रुपये का रोजगार मिला है। ऐसे ही लक्ष्मी स्वयं सहायता समूह की सदस्य सुनिता यादव ने कहा कि हमारे समूह से जुड़ी महिलाएं पहले स्कूल की ड्रेस बनाने का काम कर रही थी। लॉकडाउन में सरकार ने सभी बेरोजगार महिलाओं को काम दिया है। जिसे वह पूरी मेहनत के साथ कर रही हैं। ऐसे ही समूह की सदस्य लल्ली ने भी सीएम योगी को धन्यवाद देते हुए कहा कि लॉकडाउन में उन्होंने मास्क और पीपीई किट बनाई है जिससे उन्हें अधिक मुनाफा हुआ है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप धैर्य व विवेक का उपयोग करके किसी भी समस्या को सुलझाने में सक्षम रहेंगे। आर्थिक पक्ष पहले से अधिक सुदृढ़ स्थिति में रहेगा। परिवार के लोगों की छोटी-मोटी जरूरतों का ध्यान रखना आपको खुशी प्र...

और पढ़ें