• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • People Trapped In The Flat Were Brought Down From The Ladder, The Fire Brigade And The Police Team Did The Rescue For 4 Hours

चार घंटे लपटों से घिरा रहा परिवार:लखनऊ में शॉपिंग मॉल में लगी आग, 10 लोगों को बचाया गया, एक को कंधे पर उठाकर लाए FSO

लखनऊ22 दिन पहले
रेस्क्यू ऑपरेशन में धुएं की वजह से एक शख्स की हालत बिगड़ गई।

पुराने लखनऊ के नक्खास मार्केट में स्थित सिटी कार्ट शापिंग मॉल में शनिवार रात भीषण आग लग गई। मॉल के ऊपर बने फ्लैट में रहने वाले 10 लोग फंस गए। फायर ब्रिगेड और पुलिस वालों ने लोगों को सीढ़ी के जरिए सुरक्षित बाहर निकाल लिया। रेस्क्यू ऑपरेशन में धुएं की वजह से एक शख्स की हालत बिगड़ गई। FSO चौक आरके यादव अपने कंधे पर लादकर शख्स को नीचे उतारकर लाए। देर रात आग पर काबू पा लिया गया।

ग्राहक कर रहे थे खरीदारी, तब धुआं भरने लगा
शनिवार रात करीब नौ बजे मॉल में ग्राहक मौजूद थे। अचानक धुआं और आग की लपटे देखकर लोग बाहर की तरफ भागे। मॉल के अंदर धुआं भरने लगा। आग को काबू करने के लिए लोगों ने पानी डालना शुरू किया। लेकिन, कामयाबी नहीं मिली। फायर ब्रिगेड की गाड़ी चौक फायर स्टेशन से पहुंच गईं। इंस्पेक्टर चौक रत्नेश सिंह भी बचाव कार्य में डट गए।

कंधे पर उठाकर फ्लैट में फंसे शख्स को नीचे उतारा गया।
कंधे पर उठाकर फ्लैट में फंसे शख्स को नीचे उतारा गया।

तीसरी मंजिल पर फंसे लोग चिल्ला रहे 'बचाओ-बचाओ'
मॉल में तीसरी और चौथी मंजिल पर फ्लैट बने हैं। यहां परिवार रहते हैं। आग लगने के बाद लोग सीढ़ियों से नीचे उतरे। लेकिन, धुआं भरने के बाद तकरीबन 10 लोग तीसरी मंजिल पर ही फंस गए। बचाओ... बचाओं का शोर सुनकर फायर ब्रिगेड कर्मचारियों ने बाहर से सीढ़ी लगा दी। इसकी मदद से चार लोगों को नीचे उतारा गया, जबकि कुछ लोगों को सुरक्षित मॉल की छत पर ले जाया गया।

सीढ़ियों के सहारे फ्लैट में फंसे परिवार को नीचे उतारा गया।
सीढ़ियों के सहारे फ्लैट में फंसे परिवार को नीचे उतारा गया।

शार्ट सर्किट से लगी थी आग

मॉल के चौथी मंजिल पर रहने वाले कम्बर मिर्जा धुआं की वजह से बेसुध हो गए। FSO आरके यादव आग की लपटों के बीच ऊपर पहुंच गए। वहां से कम्बर मिर्जा को कंधे पर उठाकर एक कर्मचारी की मदद से बचाकर नीचे लेकर आए। देर रात तक बचाव के काम जारी थे। आग लगने की वजह शार्ट सर्किट बताई जा रही है। अब सोमवार को फायर विभाग आग लगने के कारण की रिपोर्ट तैयार करेगा।