कानपुर / पेट्रोल-डीजल की कीमतों में हुई वृद्धि को लेकर हुआ था प्रदर्शन; कांग्रेसी विधायक और पुलिसकर्मी के बीच हुई झड़प के मामले में केस दर्ज

कानपुर में सोमवार को प्रदर्शन के दौरान पुलिसकर्मी और कांग्रेसी विधायक के बीच झड़प हुई थी।
X

  • जिले में सोमवार को विधायक सुहैल अंसारी ने समर्थकों संग किया था प्रदर्शन
  • पुलिसकर्मियों ने पोस्टर जलाने से रोकने का प्रयास किया था, तभी हुई थी झड़प

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 01:54 PM IST

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर में मंगलवार को कांग्रेस विधायक सुहैल अंसारी और उनके आधा दर्जन से अधिक समर्थकों पर कोतवाली पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। दरअसल सोमवार को विधायक सुहैल अंसारी अपने समर्थकों के साथ कोतवाली चौराहे पेट्रोल और डीजल के दामों की गई बढ़ोतरी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। कांग्रेस कार्यकर्ता पेट्रोलियम मंत्री के पोस्टर जलाने जा रहे थे , वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने पोस्टर जलाने से रोका तो विधायक और समर्थकों की बीच बहस शुरू हो गई। इससे नाराज विधायक पुलिस पर भड़क गए और अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया।

कैंट विधायक सुहैल अंसारी , नगर अध्यक्ष हरप्रकाश अग्निहोत्री समेत बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता कोतवाली चौराहे पर पेट्रोलियम पर्दार्थो में की गई मूल्य वृद्धि का विरोध करने के लिए पहुंचे थे। विरोध प्रदर्शन के दौरान पुलिस पोस्टर जलाने रोकने के बाद सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने का पाठ पढ़ाने लगी। इसी बीच विधायक और पुलिस ने बहस शुरू हो होने लगी।

प्रदर्शन के दौरान पुलिसकर्मी और विधायक के बीच हुई थी झड़प 

विरोध प्रदर्शन के दौरान पुलिस और विधायक के बीच हुई बहस में विधायक सुहैल अंसारी एक पुलिसकर्मी पर भड़क गए और कहने लगे कि तुम्हारा ज्यादा दिमाग खराब है। पुलिसकर्मी को ठीक करने की धमकी देने लगे। सिपाही पर तमतमाए विधायक कहने लगे कि ‘इसको हटाओ पहले यहां से यह कहते हुए वो चिल्लाने लगे। बंद करोगे मुझे चलो बंद करो। इतना कुछ होने के बाद कांग्रेस कार्यकर्ता सभी को धक्का देते हुए वहां से दूर ले गए।

कोतवाली में तैनात एसआई शिवराज सिंह विधायक और उनके समर्थकों के खिलाफ तहरीर दी है। प्रदर्शन के दौरान कांग्रेसियों ने पेट्रोलिय मंत्री के पोस्टर को आग के हवाले कर दिया था। इसके साथ ही प्रदर्शनकारियों ने कोरोना संकटकाल में सरकार द्वारा बनाई गई गाइड लाइन का पालन नहीं किया गया। कोतवाली पुलिस ने विधायक समेत उनके समर्थकों पर आईपीसी की धारा 186, 188, 269, 271 में एफआईदर्ज की गई है।   

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना