• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Narendra Modi Ayodhya Visit Latest News Update: PM Narendra Modi Visit Ayodhya On 5 August To Lay Down Foundation Stone For Ram Mandir

राम मंदिर निर्माण की तैयारी शुरू:प्रधानमंत्री बनने के बाद पहली बार अयोध्या में रामलला के दर्शन करेंगे मोदी; कार्यक्रम को भव्य बनाएंगे संत, इकबाल अंसारी ने जताई पीएम के स्वागत की इच्छा

अयोध्या2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अयोध्या में राम मंदिर का प्रस्तावित मॉडल। - Dainik Bhaskar
अयोध्या में राम मंदिर का प्रस्तावित मॉडल।
  • 5 अगस्त को प्रधानमंत्री तीन घंटे रामनगरी में रहेंगे, 300 लोगों को भेजा जाएगा निमंत्रण
  • संतों में खुशी का माहौल, मंदिर से लेकर मठ तक सभी जगह इस क्षण को ऐतिहासिक बनाने में लगे लोग

सदियों से जिस शुभ घड़ी का इंतजार सनातन धर्मावलंबी कर रहे थे, वह निकट है। प्रधानमंत्री की तरफ से पांच अगस्त को रामलला के मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन की तारीख तय होने से धार्मिक नगरी अयोध्या के संतों में खुशी की लहर दौड़ गई है। पहली बार होगा जब प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी अयोध्या में रामलला के दर्शन करेंगे। वे यहां करीब तीन घंटे रहेंगे। संत इस क्षण को ऐतिहासिक बनाना चाहते हैं। सूत्र बताते हैं कि इस दौरान 300 लोग कार्यक्रम में शामिल होंगे। जिसमें गृहमंत्री अमित शाह, राजनाथ सिंह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत कई राज्यों के राज्यपाल और राम मंदिर आंदोलन से जुड़े विहिप, भाजपा और आरएसएस के लोग शामिल हैं।

हर तरफ पीएम और रामलला की चर्चा 

रविवार सुबह से ही अयोध्या के मठ-मंदिरों में भगवान राम के मंदिर और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन को चर्चा जोरों पर है। संत इस बात पर ज्यादा जोर देते नजर आए कि, ऐसा क्या हो जिससे इस कार्यक्रम की छाप कई सौ वर्षों तक मनमस्तिष्क पर बनी रहे। मंदिर निर्माण की तारीख तय होने पर संत महंतों ने जहां पीएम मोदी के प्रति आभार जताया है वहीं यह भी कहा कि मंदिर निर्माण की खुशी से वे सभी अभिभूत हैं। राम लला मंदिर के प्रधान पुजारी सत्येंद्र दास ने कहा कि वर्षों से रामलला का टाट के मंदिर में पूजा किया। अब भव्य मंदिर में विराजमान देखने की इच्छा पूरी होगी।

दोपहर 12 बजे आएंगे पीएम मोदी
पीएम मोदी 5 अगस्त को 12 बजे दिन में राम मंदिर का भूमिपूजन कर इसके तकनीकी निर्माण का शुभारंभ करेंगे। ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास के उत्तराधिकारी महंत कमल नयन दास ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि पीएम के भूमि पूजन को लेकर तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। दास ने कहा कि पीएम मोदी के कर कमलों से राम मंदिर का शुभारंभ से अयोध्या सहित सारे देश में खुशी का माहौल। अब मंदिर तीन साल में बन कर खड़ा हो जाएगा। लेकिन पीएम के कार्यक्रम होने में बहुत कम समय बचा है। तैयारी बहुत सारी करनी है। 

इकबाल बोले- पीएम मोदी का स्वागत करूं, यही मेरी इच्छा

बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी ने भी मंदिर निर्माण को भाईचारे का संदेश बताकर इसमें भागीदारी करने की इच्छा जाहिर की है। बाबरी मस्जिद के मुद्दई रहे मो. इकबाल अंसारी ने कहा पीएम मोदी का स्वागत करने की इच्छा है। राम मंदिर निर्माण में मैं अयोध्या की जनता वे संतों के साथ हूं। 

विश्व स्तरीय बनेगा अयोध्या धर्मस्थल

अयोध्या संत समिति के अध्यक्ष महंत कन्हैया दास ने कहा कि, मंदिर के लिए 5 सौ साल के संघर्ष का अंत सुप्रीम कोर्ट ने किया। अब संतों की इच्छा को पूरा करने के लिए पीएम मोदी 5 अगस्त को आ रहे हैं। पीएम बधाई के पात्र हैं। वे राम मंदिर निर्माण का शुभारंभ करेंगे। पीएम अयोध्या को करोड़ों की योजनाओं की सौगात भी देंगे। जिससे अयोध्या विश्व स्तरीय धार्मिक तीर्थ स्थल बनेगा। अयोध्या के चहुंमुखी विकास के लिए यूपी सरकार ने भी एक्शन प्लान पर काम शुरू किया है। अयोध्या की प्रस्तावित परियोजनाओं को त्वरित गति से पूरा करने की कवायद शुरू हो गई है। अयोध्या में खुशी का माहौल है।

अयोध्या से 30 किमी दूर की थी जनसभा

साल 2019 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र अयोध्या शहर से 30 किमी दूर अंबेडकरनगर जिले की सीमा में सांसद लल्लू सिंह के प्रचार के लिए रैली की थी। जहां उन्होंने भगवान राम का जिक्र किया था और नारे भी लगाए थे। इससे पहले साल 2014 में भी नरेंद्र मोदी ने फैजाबाद में रैली की थी। लेकिन दोनों बार वे रामलला के दर्शन के लिए नहीं गए थे।