• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Red Martyr Of Muzaffarnagar Of UP In Jammu And Kashmir, Wave Of Mourning In Village After Information Of Martyrdom

यूपी:जम्मू-कश्मीर में मुजफ्फरनगर का लाल शहीद, शहादत की सूचना के बाद गांव में शोक की लहर

मुज़फ्फरनगरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहीद प्रशांत शर्मा- फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
शहीद प्रशांत शर्मा- फाइल फोटो
  • पुलवामा में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हो गए प्रशांत शर्मा
  • प्रशांत को घायलअवस्था में आर्मी अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई

उत्तर प्रदेश के मुज़फ्फरनगर जिले का एक और लाल देश की रक्षा करते हुए सीमा पर शहीद हो गया। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा के जूदर क्षेत्र में शुक्रवार की रात को एक सर्च ऑपरेशन के दौरान आतंकियों ने अचानक सेना के जवानों पर हमला बोल दिया। इस दौरान मुजफ्फरनगर के लाल बुढाना मोड़ निवासी प्रशांत शर्मा बुरी तरह से जख्‍मी हो गए, उन्‍हें आर्मी अस्‍पताल ले जाया गया जहां पर उन्‍होंने दम तोड़ दिया।

जम्‍मू से सेना के अधिकारी ने मुजफ्फरनगर में शहीद प्रशांत के घरवालों को उनकी शहादत की जानकारी दी। इस समाचार से पूरा परिवार स्‍तब्‍ध रह गया। प्रशांत की शहादत की खबर से पूरे क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई। जवान प्रशांत और उनके अन्‍य साथियों ने शहादत से पहले तीन आतंकी मार गिराए थे।

शहीद प्रशांत शर्मा बागपत के गांव बिजरोल के मूल निवासी थे। 15 साल पहले परिवार मुज़फ्फरनगर जिले के बुढ़ाना मोड़ पर शिफ्ट हो गया था। प्रशांत के पिता आर्मी से रिटायर हैं। प्रशांत की शहादत के बारे में शनिवार की सुबह ही परिजनों के पास जम्मू से आर्मी के अफसर का फोन आया है।

प्रशांत दो साल पहले ही भारतीय सेना में भर्ती हुए थे। 15 साल पहले इनके पिता शीशपाल आर्मी से रिटायर हुए थे, तभी से वह परिवार के साथ बुढाना मोड़ पर रह रहे हैं। प्रशांत की बड़ी बहन की शादी मेरठ में हुई है जबकि छोटा भाई अभी पढ़ रहा है।