• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Uttar Pradesh Breaking News Updates| 29 September 2021 Live News Update, Roadways Bus Collided With Truck On Agra Lucknow Expressway, 5 Including Driver Injured In Accident

UP की आज की बड़ी खबरें:मुरादाबाद में TMU की बस पर हमला, लाठी - डंडों से छात्र-छात्राओं को पीटा, पथराव कर तोड़े बस के शीशे, 20 घायल

लखनऊ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुरादाबाद में बस के टूटे शीशे को दिखाता चालक - Dainik Bhaskar
मुरादाबाद में बस के टूटे शीशे को दिखाता चालक

आगरा हाईवे पर बुधवार शाम हमलावरों ने तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी (TMU) की बस पर हमला बोल दिया। TMU की बस 40 से अधिक छात्र - छात्राओं को लेकर बदायूं जिले के बजीरगंज कस्बे को जा रही थी। ट्रक सवार लुटेरों ने फिल्मी स्टाइल में आगरा हाईवे पर बस को ओवरटेक करके ट्रक उसके आगे खड़ा कर दिया। इसके बाद ट्रक से उतरे 20 से अधिक हमलावरों ने बस में सवार छात्र - छात्राओं को बस से खींचकर उनकी लाठी-डंडों से पिटाई की। पथराव कर बस के शीशे तोड़ दिए। हमले में 20 से अधिक स्टूडेंट घायल हो गए। यहां पढ़ें पूरी खबर

हाईकोर्ट की समीक्षा अधिकारी के साथ अश्लीलता

प्रतीकात्मक फोटो
प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ में हाईकोर्ट में तैनात समीक्षा अधिकारी ने अपने सहकर्मी के खिलाफ छेड़छाड़ और घर पर आकर धमकी देने का मुकदमा दर्ज कराया है। विभूतिखंड थाना पुलिस मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। आरोपी पीड़िता को आफिस में लगातार परेशान कर रहा था। वहीं अधिकारियों के फटकार लगने के बाद पीड़िता के घर जाकर हंगामा करने लगा था। गोमतीनगर निवासी हाईकोर्ट में समीक्षा अधिकारी का आरोप है कि उसका सहकर्मी अभिषेक दुबे बहुत दिनों से गलत नजर रख रहा है। असहज महसूस होने पर परिजनों को इसकी जानकारी दी।

परिजनों के कहने पर पूरी घटना के बारे में अधिकारियों को जानकारी दी। इस पर अधिकारियों ने अभिषेक को हिदायत देते हुए कहा कि दोबारा गलत हरकतें करने पर विभागीय कार्रवाई की जाएगी। अभिषेक इसके बाद भी नहीं सुधरा और ऑफिस में और ज्यादा गलत हरकतें करने लगा। वहीं 27 सितंबर को अभिषेक ने घर पर आकर हंगामा शुरू कर दिया।

अधिकारियों की सूचना के बाद दर्ज कराया मुकदमा, गिरफ्तार

पीड़िता के पिता का आरोप है कि घर पर हंगामा करने का विरोध पर आरोपी मारपीट पर उतारू हो गया। इस पर बेटी ने हाईकोर्ट के प्रोटोकॉल अधिकारी को फोन कर अभिषेक के घर पर आकर हंगामा करने की सूचना दी। प्रोटोकॉल अधिकारी की सूचना पर विभूतिखंड पुलिस मौके पर पहुंची और अभिषेक को पकड़ ले गई। इंस्पेक्टर चंद्रशेखर के मुताबिक अभिषेक दुबे को गिरफ्तार किया गया था। जिसके बाद उसे निजी मुचलके पर जमानत दे दी गई। मामले की जांच की जा रही है। साक्ष्यों के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

फतेहपुर में भीषण सड़क हादसा, 4 की मौत

कार से 2 तमंचे और कारतूस बरामद हुआ है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
कार से 2 तमंचे और कारतूस बरामद हुआ है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

फतेहपुर में बुधवार दोपहर भीषण सड़क हादसा हो गया। बताया जा रहा है कि बाइक पर चार लोग जा रहे थे। बुधवार दोपहर करीब 1 बजे दिनेश कुमार (26) बाइक से सुवावती (55), ननकी देवी (35) और 11 साल की किशोरी के साथ प्रयागराज से अपने गांव असनी जा रहा था। असनी-गेगासो गंगा पुल पर तेज रफ्तार स्कॉर्पियो ने सामने से टक्कर मार दी। जिससे चारों की मौके पर ही मौत हो गई।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। कार को भी कब्जे में ले लिया है। कार से 2 तमंचे और कारतूस बरामद हुआ है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

गाड़ी में लगा है करणी सेना का स्टीकर

गाड़ी में करणी सेना और प्रदेश महामंत्री का स्टीकर लगा हुआ है। हुसैनगंज थाना प्रभारी रणजीत बहादुर सिंह ने बताया कि असनी पुल के उस पार हादसा हुआ है। वह क्षेत्र रायबरेली में लगता है। टीम को भेजा गया है। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

नरेंद्र गिरि सुसाइड केस में आरोपी आनंद गिरि को लेकर CBI टीम हरिद्वार रवाना

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के मामले में आरोपी आनंद गिरि को गिरफ्तार किया गया था। - फाइल फोटो
महंत नरेंद्र गिरि के मौत के मामले में आरोपी आनंद गिरि को गिरफ्तार किया गया था। - फाइल फोटो

अखाड़ा परिषद अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की मौत मामले में आरोपियों की 7 दिन की रिमांड CBI टीम को मिल चुकी है। बुधवार को रिमांड के दूसरे दिन आरोपी शिष्य आनंद गिरि को CBI टीम हरिद्वार लेकर रवाना हुई है। वहां छोटे महंत आनंद गिरि को श्यामपुर के कांगड़ी स्थित उनके आश्रम ले जाया जाएगा। जहां कथित CD की तलाश होगी। बता दें, 27 सितंबर को CBI को तीनों आरोपियों की 7 दिन की रिमांड की मंजूरी मिली है।

टाइम लाइन में जानें कब क्या हुआ

  • 20 सितंबर को महंत नरेंद्र गिरि (72) भोजन के बाद मठ बाघंबरी गद्दी के कमरे में गए थे। कई बार सेवादार के आवाज देने पर भी दरवाजा नहीं खुला। धक्का देने पर कुंडी तोड़कर सेवादार अंदर घुसे तो महंत का शव पंखे के सहारे रस्सी से लटका देखा गया था। पुराने विवादों को लेकर महंत की कथित सुसाइड केस की सुई उनके शिष्य आनंद गिरि पर अटकी। आनन-फानन में उनके शिष्य आनंद गिरि को हरिद्वार से गिरफ्तार कर लिया गया। यूपी पुलिस उसे हरिद्वार से प्रयागराज ले आई।
  • 21 सितंबर को ही इस मामले की जांच के लिए SIT का गठन किया गया। इसके बाद नरेंद्र गिरि का सुसाइड नोट सामने आया। जिसमें महंत ने अपने शिष्य आनंद गिरि, आद्या प्रसाद तिवारी और संदीप तिवारी को लेकर कई बातें लिखी थी। जांच का सिलसिला आगे बढ़ते ही पुलिस ने आद्या तिवारी और संदीप तिवारी को गिरफ्तार कर लिया।
  • - 24 सितंबर को महंत नरेंद्र गिरि केस में CBI ने FIR दर्ज की। यूपी पुलिस से केस लेने के बाद CBI की स्पेशल क्राइम यूनिट की एक 6 सदस्यीय टीम प्रयाग पहुंची और जांच शुरू कर दी। सीबीआई ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट को अपने कब्जे में लिया। क्राइम सीन का पंचनामा हासिल किया। गवाहों के बयान लिए और संदिग्धों से हुई पूछताछ की जानकारी भी यूपी पुलिस से ली। इस बीच तीनों आरोपियों की कस्टडी के लिए CBI सीजेएम कोर्ट के दरवाजे पर पहुंची।
  • 27 सितंबर को CBI को तीनों आरोपियों की 7 दिन की रिमांड की मंजूरी मिली।
  • 28 सितंबर को CBI टीम नैनी सेंट्रल जेल पहुंची। यहां से तीनों आरोपियों आनंद गिरि, आद्या प्रसाद तिवारी और संदीप तिवारी को अपनी कस्टडी में ले लिया। अब CBI टीम को 7 दिन के अंदर ही अपना इंटेरोगेशन पूरा करना है।

पूर्व कैबिनेट मंत्री रंगनाथ मिश्रा को बड़ी राहत, आय से अधिक संपत्ति केस में एमपी-एमएलए कोर्ट ने बरी किया

न्यायालय ने अपने फैसले में माना है कि रंगनाथ मिश्रा के पास जो भी संपत्ति है वह उनकी कुल आय के अनुरूप ही है। इसलिए आय से अधिक संपत्ति का उन पर मामला नहीं बनता है।
न्यायालय ने अपने फैसले में माना है कि रंगनाथ मिश्रा के पास जो भी संपत्ति है वह उनकी कुल आय के अनुरूप ही है। इसलिए आय से अधिक संपत्ति का उन पर मामला नहीं बनता है।

बसपा सरकार में मंत्री रहे रंगनाथ मिश्रा को आय से अधिक संपत्ति मामले में बड़ी राहत मिली है। इलाहाबाद जिला न्यायालय के विशेष एमपी/एमएलए कोर्ट ने उन्हें सुनवाई के बाद इस मामले से बरी कर दिया। रंगनाथ मिश्रा के खिलाफ 2011 में बसपा सरकार के समय आय से अधिक संपत्ति का आरोप लगा था, जिसमें लोकायुक्त ने उन्हें पद से हटाने का सिफ़ारिश की थी। जिसके बाद मायावती ने उनसे इस्तीफा मांग लिया था।

इसके बाद 2013 में सपा सरकार में एफआईआर दर्ज की गई थी। न्यायालय ने अपने फैसले में माना है कि रंगनाथ मिश्रा के पास जो भी संपत्ति है, वह उनकी कुल आय के अनुरूप ही है। इसलिए आय से अधिक संपत्ति का उन पर मामला नहीं बनता है। अभी तक के गवाहों और सबूतों में कही भी अनियमितता सामने नहीं आई है। फैसले के बाद रंगनाथ मिश्रा ने दैनिक भास्कर को बताया कि यह मुक़दमा सिर्फ राजनीतिक साजिश के तहत दर्ज कराया गया था। यह आदेश विरोधियों के मुंह पर एक कड़ा तमाचा है।

प्रियंका गांधी ने गोरखपुर में कारोबारी की मौत पर उठाए सवाल

प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर गोरखपुर में कारोबारी की मौत पर सवाल उठाया। उन्होंने लिखा, गोरखपुर में एक कारोबारी को पुलिस ने इतना पीटा कि उसकी मौत हो गई। इस घटना से पूरे प्रदेश के लोगों में डर का माहौल है। इस सरकार में जंगलराज का ये आलम है कि पुलिस अपराधियों पर नर्म रहती है और लोगों से गलत व्यवहार करती है।

आगरा पुलिस की 3 बदमाशों से मुठभेड़, आमने-सामने फायरिंग में एक के पैर में लगी गोली

पुलिस ने आरोपियों के पास से तीन तमंचे और पांच जिंदा कारतूस बरामद किए हैं।
पुलिस ने आरोपियों के पास से तीन तमंचे और पांच जिंदा कारतूस बरामद किए हैं।

आगरा में लूट के प्रयास व हत्या कांड में 12 दिन से फरार तीन आरोपियों को पुलिस ने बुधवार सुबह मुठभेड़ के बाद दबोचा। बताया जा रहा है कि मुखबिर से मिली सूचना के बाद पुलिस ने पहले घेराबंदी की। उसके बाद बाइक सवार आरोपियों को रोकने का प्रयास किया। इसपर आरोपियों ने फायरिंग शुरू कर दी।

जवाबी कार्रवाई में एक आरोपी राजेश बघेल के पैर में गोली लगी। बाइक बेकाबू होकर गिर गई। आनन-फानन पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से तीन तमंचे और पांच जिंदा कारतूस बरामद हुए हैं। यहां पढ़ें पूरी खबर

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर ट्रक से टकराई रोडवेज बस, हादसे में चालक समेत 5 घायल

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर ट्रक से टकराई रोडवेज बस।
आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर ट्रक से टकराई रोडवेज बस।

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर बुधवार तड़के एक रोडवेज बस ट्रक से टकराई। हादसे में बस सवार लोगों में चालक समेत 5 सवारियां घायल हुई हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस और NHAI की टीम ने घायलों को बस से बाहर निकाला और इलाज के लिए अस्पताल भेजा है। हादसे में बस के परखच्चे उड़ गए। बताया जा रहा है कि बस लखनऊ से मथुरा जा रही थी। यहां पढ़ें पूरी खबर

बाराबंकी और सीतापुर में आज सीएम योगी आदित्यनाथ का दौरा

सीएम सदर, रामनगर और कुर्सी विधानसभा क्षेत्र की 148.85 करोड़ की 186 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे।
सीएम सदर, रामनगर और कुर्सी विधानसभा क्षेत्र की 148.85 करोड़ की 186 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे।

बाराबंकी में आज सीएम योगी आदित्यनाथ का दौरा है। सीएम का हेलिकॉप्टर दोपहर करीब 12:55 बजे केडी सिंह बाबू स्टेडियम में बने हेलीपैड पर उतरेगा। करीब 1 बजे वह जीआईसी में कार्यक्रम स्थल पर पहुंचेंगे। यहां पर वह सदर, रामनगर और कुर्सी विधानसभा क्षेत्र की 148.85 करोड़ की 186 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे। साथ ही ब्रिटानिया बिस्किट एवं बेकरी उत्पाद इकाई के निर्माण को हरी झंडी दिखाएंगे। यहां पढ़ें पूरी खबर

मेरठ में 10 दिन में बुखार से 7 की गई जान, डेंगू के मरीज 400 पार

मेरठ में कालंदी गांव में पिछले 5 दिन में बुखार से दूसरी मौत सामने आई है।
मेरठ में कालंदी गांव में पिछले 5 दिन में बुखार से दूसरी मौत सामने आई है।

कोरोना वायरस की संभावित थर्ड वेव के बीच मेरठ में बुखार का कहर बढ़ता जा रहा है। जहां डेंगू के मरीजों की संख्या 410 पहुंच गई हैं। वहीं, बुखार से मौतों का सिलसिला बना हुआ है। जिले के कालंदी गांव में पिछले 5 दिन में बुखार से दूसरी मौत सामने आई है। लगातार बढ़ रहे बुखार के मरीजों को लेकर स्वास्थ्य विभाग के अफसरों की नींद उड़ी हुई है।

शहर से लेकर देहात तक बुखार कहर बरपा रहा है। अब तक डेंगू के 249 रिकवर हुए हैं, जबकि 161 का इलाज चल रहा है। वहीं, डेंगू से अब तक एक बच्चे की मौत हुई है। उधर, बुखार से 10 दिन में 7 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। यहां पढ़े पूरी खबर

बलिया...चौकी में सीज ट्रक से ड्राइवर ने लगाई फांसी

ट्रक के हुक से रस्सी के सहारे चालक ने लटक कर आत्महत्या कर ली।
ट्रक के हुक से रस्सी के सहारे चालक ने लटक कर आत्महत्या कर ली।

बलिया के संवरा पुलिस चौकी के बाहर मंगलवार को खड़े ट्रक के चालक रोहित (21) पुत्र भोला निवासी कंदवा चंदौली ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। मौके से एक सुसाइड नोट मिला है। पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दी है।

बताया जा रहा है कि सेल्स टैक्स विभाग ने ट्रक का चालान कर 80 हजार रूपया जुर्माना लगाकर ट्रक को सीज कर संवरा पुलिस चौकी के बाहर खड़ कर दिया गया था। जिसकी जानकारी ट्रक मालिलक ने फटकार लगाई थी। इसी के तनाव के चलते मंगलवार देर रात चालक ने ट्रक के हुक से रस्सी के सहारे लटक कर आत्महत्या कर ली। यहा पढ़ें पूरी खबर

खबरें और भी हैं...