पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शामली में दबंगई से परेशान ब्राह्मण परिवारों का पलायन:70 परिवारों ने घर के बाहर मकान बिकाऊ है का पोस्टर लगाया, कहा- वोट नहीं दिया तो प्रधान परेशान करता है

शामली8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ग्रामीणों का आरोप है कि प्रधानपति उन्हें छोटे छोटे मामलों में फंसाने की धमकी देता है। जिसकी वजह से हम यह गांव छोड़ना चाहते हैं। - Dainik Bhaskar
ग्रामीणों का आरोप है कि प्रधानपति उन्हें छोटे छोटे मामलों में फंसाने की धमकी देता है। जिसकी वजह से हम यह गांव छोड़ना चाहते हैं।

उत्तर प्रदेश के शामली जिले में गांव वालों विरोध का अनोखा तरीका निकाला है। मामला बाबरी थाना क्षेत्र के गांव गोगवान जलालपुर का है। यहां प्रधानपति जयप्रकाश पर उत्पीड़न का आरोप लगाकर गांव के करीब 70 ब्राह्मण परिवारों ने घर के बाहर 'मकान बिकाऊ है' का पोस्टर चिपका दिया है।

पीड़ित परिवारों का का कहना है कि प्रधानपति उनसे छोटे-छोटे मामलों में अपने गुर्गों के साथ लड़ाई झगड़ा करता है और उन्हें परेशान करता है। यही वजह है कि पीड़ित ब्राह्मण परिवार अब गांव से पलायन करना चाह रहे हैं। पीड़ित परिवारों ने कलक्ट्रेट पहुंच कर डीएम को ज्ञापन भी दिया है।

वोट न देने की सजा मिली

गांव के मेघनाथ शर्मा बताते हैं कि हम लोगों ने प्रधानी के चुनाव में दूसरे कैंडिडेट का सपोर्ट किया था। जिससे नवनियुक्त प्रधानपति जयप्रकाश नाराज है। यही वजह है कि कभी नाली को लेकर झगड़ा करता है तो कभी हैंडपंप को लेकर हम लोगों को अपने गुर्गों से पिटवाता है। यही नहीं हमें जान से मारने की धमकी भी देता है। जिसकी वजह से हम लोग काफी परेशान हैं। सुमन शर्मा कहती है वह यही कहता है कि वोट नहीं दिया तो गांव में क्यों रहते हो। यही वजह है कि हम लोग अब गांव छोड़ना चाहते हैं।

पीड़ित परिवारों का कहना है कि आज आखिरी बार कलक्ट्रेट में हम ज्ञापन जिलाधिकारी को देने आये हैं।
पीड़ित परिवारों का कहना है कि आज आखिरी बार कलक्ट्रेट में हम ज्ञापन जिलाधिकारी को देने आये हैं।

पुलिस भी नहीं कर रही है सुनवाई

ग्रामीणों का आरोप है कि हम लोगों ने इसकी शिकायत स्थानीय थाने में भी की थी लेकिन हमारी सुनवाई नहीं हुई। चूंकि प्रधानपति दबंग है। इसलिए स्थानीय पुलिस हमारी सुनवाई नहीं कर रही है। यही वजह है कि हम लोग अब गांव से पलायन करना चाह रहे हैं। पीड़ित परिवारों का कहना है कि आज आखिरी बार कलक्ट्रेट में हम ज्ञापन जिलाधिकारी को देने आये हैं। हमारी सुनवाई न हुई तो हम गांव से पलायन कर जायेंगे।

घरों के दरवाजे पर दबंग प्रधान की वजह से मकान बिकाऊ है का पोस्टर लगाया गया है।
घरों के दरवाजे पर दबंग प्रधान की वजह से मकान बिकाऊ है का पोस्टर लगाया गया है।

गांव में 6 हजार से ज्यादा हैं वोटर

गांव गोगवान जलालपुर की आबादी लगभग 8 से 10 हजार के बीच है। जानकारी के मुताबिक गांव में 5 हजार से ज्यादा वोटर हैं। गांव में लगभग 480 ब्राह्मण परिवार है। जिनमे से 70 ब्राह्मण परिवारों ने विरोध के चलते अपने घर के बाहर मकान बिकाऊ है का पोस्टर लगाया है।

खबरें और भी हैं...