पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आगरा में अमानवीयता:चलती ट्रेन के आगे भाई ने ही मासूम को फेंका; इमरजेंसी ब्रेक लगाकर लोको पायलट ने जान बचाई, वीडियो वायरल

आगराएक महीने पहले
आगरा रेलवे स्टेशन पर एक किशोर ने दो साल के मासूम को उछालकर रेलवे ट्रेक पर फेंक दिया। हालांकि मालगाड़ी के पायलट की सूझबूझ से मासूम की जान बच गई।
  • लोको पायलट ने आला अधिकारियों को घटनाक्रम की जानकारी दी है
  • अधिकारियों ने पायलट की सराहना की, मंगलवार दोहपर में हुई घटना

कहते हैं कि 'जाको राखे साईयां मार सके न कोय।' यह कहावत उस समय चरितार्थ हो गई जब बल्लभगढ़ रेलवे स्टेशन के पास एक दो साल के मासूम को उसके ही भाई ने चलती ट्रेन के सामने फेंक दिया। गनीमत रही कि लोको पायलट ने हिम्मत दिखाकर इमरजेंसी ब्रेक लगा दिए और बच्चे की जान बचा ली। उसे सकुशल उसकी मां को सौंप दिया। बाद में जब ट्रेन आगरा पहुंची तो उसने इसकी लिखित जानकारी आगरा रेलवे मंडल के अधिकारियों को दी। जिसके बाद डीसीएम ने लोको पायलट की जमकर तारीफ की।

बताया जा रहा है कि यह मालगाड़ी 21 तारीख को फरीदाबाद से चली थी। इसी दौरान बल्लभगढ़ स्टेशन के पास अचानक ही एक 15 साल के लड़के ने 2 साल के मासूम को उछाल कर ट्रैक पर फेंक दिया। ट्रेन में तैनात आगरा मंडल के लोको पायलट दीवान सिंह ने तत्काल ब्रेक लगाकर बच्चे को बचा लिया। रेस्क्यू के दौरान का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। लोको पायलट ने आला अधिकारियों को घटनाक्रम की जानकारी दी।

लोको पायलट ब्रेक लगाने पर उतरा तो बच्चा पहियों के बीच फंसा था
लोको पायलट ने तत्काल ब्रेक लगाया और गाड़ी से उतरा। बच्चा ट्रेन के इंजन के पहियों के बीच फंसा था। हालांकि, सकुशल था और बहुत डर गया था। लोको पायलट ने उसे इंजन से निकाल कर मां के सपुर्द कर दिया। इस पूरी घटना की जानकारी उसने आगरा छावनी स्टेशन पर वरिष्ठ मंडल विद्युत अभियंता उत्तर मध्य रेलवे को वीडियो समेत लिखित जानकारी दी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर जाने का प्रोग्राम बन सकता है। साथ ही आराम तथा आमोद-प्रमोद संबंधी कार्यक्रमों में भी समय व्यतीत होगा। संतान को कोई उपलब्धि मिलने से घर में खुशी भरा माहौल ...

और पढ़ें