भास्कर की ग्राउंड रिपोर्ट:झांसी के भूतिया स्वास्थ्य केंद्र की सच्चाई? दरवाजे पर लटके ताले, खंडहर में तब्दील स्वास्थ्य भवन

झांसी2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
झांसी के करारी गांव में स्थित स्वास्थ्य केंद्र की बदहाली की तस्वीर। यहां लंबे समय से न तो किसी डॉक्टर की नियुक्ति हुई है और न ही यहां कोई कर्मचारी आता है। - Dainik Bhaskar
झांसी के करारी गांव में स्थित स्वास्थ्य केंद्र की बदहाली की तस्वीर। यहां लंबे समय से न तो किसी डॉक्टर की नियुक्ति हुई है और न ही यहां कोई कर्मचारी आता है।

अगर आप को बताया जाए की किसी स्वास्थ्य केंद्र में भूत रहता है तो शायद आप चौक जाएंगे। जब भास्कर को इस बात की जानकारी हुई तो ग्राउंड जीरो पर पहुंच कर जायजा लिया तो पाया कि, उत्तर प्रदेश के झांसी जनपद के करारी गांव की स्वास्थ्य सेवाएं के नाम मात्र दिखावा मात्र है। यहां मरीजों के इलाज के लिए स्वास्थ्य केंद्र तो बनाए गए है, लेकिन स्वास्थ्य केंद्र अब खंडहर में तब्दील हो गया हैं। यहां दरवाजे पर लटके ताले और धूल फांक रहा भवन का ढांचा बेहतर स्वास्थ्य सेवा की गवाही दे रहे हैं।

मरीजों को दी जाने वाली सुविधाएं नदारद

शौचालय टूटे हुए हैं। मरीजों को दी जाने वाली लगभग सभी सुविधाएं नदारद हैं। लगभग पांच हजार की आबादी वाले इस गांव के लोगों का आरोप है कि गाँव में डॉक्टर और कर्मचारी कभी भी अस्पताल नहीं पहुंचे हैं। स्वास्थ्य केंद्र कम भूतों का वास अधिक लगता है। गांव वालों का तो यहां तक कहना है कि डॉक्टर यहां आना नहीं चाहते इस लिए अफवाह उड़ा दी कि इस स्वस्थ केंद्र में कोई भूत है इस लिए डॉक्टर यहां नहीं आते।

कारारी गांव में बने स्वास्थ्य केंद्र की हालत।
कारारी गांव में बने स्वास्थ्य केंद्र की हालत।

गांव में न तो कोविड की जांच , न टीकाकरण
यहां गांव में ना तो कोविड-19 की जांच की जा रही ना तो टीकाकरण हो रहा। यहां के जमीनी हालत बहुत कुछ बयां करते है। सरकार तो सुविधाओं के नाम पर पैसा दे रही है, लेकिन जिम्मेदार अपनी जिम्मेदारी ठीक प्रकार से नहीं निभा रहे हैं। नतीजा यह है कि, न तो मरीजों को इलाज मिल पा रहा है और न ही यहां कोई रख रखाव व डॉक्टरों की उपस्थिति है।

गांव में प्रवेश करने से पहले स्वास्थ्य केंद्र के पास हाईवे पर हवा डालने और साइकिल सुधारने का बांस का टपरा मैं साइकिल सुधार रहे सतीश से स्वास्थ्य केंद्र के बारे में पूछा तो उसने बताया इसकी सच्चाई यह है कि लोगों ने पहले अफवाह फैला दी थी के यहां भूत है पिछले कई सालों से यह बंद पड़ा है।

कारारी गांव में बने स्वास्थ्य केंद्र की हालत। यह अफवाह फैलाई गई है कि यहां भूतों का वास है। इसीलिए डर के मारे यहां का ताला आजतक नहीं खुला।
कारारी गांव में बने स्वास्थ्य केंद्र की हालत। यह अफवाह फैलाई गई है कि यहां भूतों का वास है। इसीलिए डर के मारे यहां का ताला आजतक नहीं खुला।