देखें आज का चुनावी पोस्टर:यूपी कांग्रेस कमेटी ने रिलीज की चुनावी फिल्म- महिला ओलिंपिक

उत्तर प्रदेश11 दिन पहले
  • चुनाव के खेल में कांग्रेस ने उतारे 4 ऐसे चेहरे, जिनकी कहानियां आपको चौंकाएंगी...पढे़ं

कांग्रेस की 125 प्रत्याशियों की पहली लिस्ट में 50 महिलाएं हैं और इन महिलाओं में हैं संघर्ष के चेहरे। कहीं सत्ता, कहीं समाज और कहीं रूढ़ियों के खिलाफ इन महिलाओं की लड़ाई की कहानी भी किसी फिल्म की कहानी से कम नहीं। शाहरुख खान की ब्लॉकबस्टर ‘चक दे’ की हॉकी टीम की हर महिला तो आपको याद ही होगी। कांग्रेस की इस महिला टीम की कहानी भी ‘चक दे उत्तर प्रदेश’ फिल्म की स्क्रिप्ट है।

संघर्ष की ऐसी ही 4 कहानियों से हम आपको रू-ब-रू करवा रहे हैं...

उन्नाव सदर से आशा देवी: बेटी से दुष्कर्म हुआ, पति को मार दिया गया; मगर लड़ाई नहीं छोड़ी
संघर्ष की टीम का सबसे प्रमुख चेहरा हैं- आशा देवी। राज्य के सबसे चर्चित उन्नाव रेप कांड की पीड़िता की मां को कांग्रेस ने उन्नाव सदर से टिकट दिया है। आशा देवी की कहानी दहला देने वाली है। उनकी बेटी ने 2017 में परिवार को बताया कि विधायक कुलदीप सेंग ने दुष्कर्म किया है। परिवार ने आवाज उठाई तो आशा देवी के पति को हवालात में डालकर इतना प्रताड़ित किया गया कि उनकी मौत हो गई।

इस कांड की पीड़िता आशा देवी की बेटी ने आवाज उठाई तो सुप्रीम कोर्ट की पहल पर सीबीआई जांच शुरू हुई। इसी बीच रायबरेली में एक सड़क हादसे में पीड़िता और आशा देवी की बहन की मौत हो गई। इतनी मुश्किलों के बाद भी आशा देवी ने न्याय के लिए संघर्ष नहीं छोड़ा। विधायक सेंगर को 20 दिसंबर 2019 को उम्रकैद की सजा हो गई है। मगर परिवार अब भी खतरे के साये में है।

शाहजहांपुर सदर से पूनम पांडेय: मानदेय बढ़ाने को प्रदर्शन किया तो सीएम के सामने जूतों से पीटा गया
आपको फिल्म ‘आर्टिकल 15’ याद है...मजदूरी बढ़ाने मांग करने वाली दो दलित बच्चियों को दुष्कर्म के बाद पीट-पीट कर मार डाला गया था। शाहजहांपुर सदर से कांग्रेस का टिकट पाने वाली पूनम पांडे की कहानी इतनी एक्सट्रीम नहीं, मगर अपमान कुछ वैसा ही है। पूनम पांडे आशा बहू हैं। बीते 8 नवंबर को मुख्यमंत्री योगी की जनसभा में मानदेय बढ़ाने को लेकर अपने साथियों के साथ जनसभा में प्रदर्शन करने पहुंची थी। जहां पुलिस ने इन्हें बेरहमी से सीएम के सामने ही पीटा था। लाठियों से और जूतों से पिटाई हुई थी। फिर थाने ले जाया गया।

कांग्रेस पदाधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद उन्हें छोड़ा गया, मगर अगले ही दिन पुलिस ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली। अब कांग्रेस ने उन्हें राजनीति के मंच से अपना संघर्ष आगे बढ़ाने का मौका दिया गया है।

मोहम्मदी से रितु सिंह: ब्लॉक प्रमुख का नामांकन करने गई तो भरे बाजार साड़ी खींची गई, दौड़ा कर पीटा गया

किसान हिंसा कांड से पहले लखीमपुर का नाम राष्ट्रीय मीडिया में बीते साल जुलाई में उछला था। वजह थीं-रितु सिंह। उस दौरान चल रहे ब्लॉक प्रमुख चुनाव में उन्हें भी नामांकन भरना था। मगर सत्ता पक्ष के कार्यकर्ता अपने उम्मीदवारों के अलावा किसी को नामांकन ही नहीं करने दे रहे थे। लखीमपुर खीरी के पसगवां ब्लॉक में सपा की ओर से नामांकन करने पहुंची रितु सिंह के साथ भाजपा कार्यकर्ताओं ने बदसलूकी की। साड़ी खींची, दौड़ाकर पीटा। इसका वीडियो वायरल हो गया। उस वक्त सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी दोनों उनसे मिले थे। बाद में रितु सिंह ने सपा पर अनदेखी का आरोप लगाते हुए कांग्रेस का दामन थाम लिया। अब कांग्रेस ने उन्हें ब्लॉक प्रमुख की लड़ाई से सीधे विधानसभा में एंट्री की लड़ाई में उतार दिया है।

लखनऊ सेंट्रल से सदफ जाफर: सीएए पर आंदोलन किया तो 19 दिन की जेल, सरकार ने पोस्टर पर लगा दिया चेहरा

लखनऊ सेंट्रल से कांग्रेस का टिकट पाने वाली सदफ जाफर की कहानी सुनें तो लगता है ‘तांडव’ जैसी किसी वेब सीरीज का एपिसोड है। 19 दिसंबर, 2019 को लखनऊ में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान पथराव हुआ। उस दौरान सदफ वहां से फेसबुक लाइव कर रहीं थीं। राज्य के और शहरों में भी दंगे भड़के। पुलिस ने सदफ को ही उपद्रवी बता गिरफ्तार कर लिया। उन पर जानलेवा हमला करने, दंगा भड़काने जैसे आरोप लगाए गए और 19 दिन तक जेल में बंद रखा। सदफ एक सिंगल मदर हैं। उनका आरोप था कि जेल में उन्हें बच्चों से नहीं मिलने दिया गया। जेल में उनसे मारपीट भी हुई। अब कांग्रेस ने उन्हें लखनऊ से ही मैदान में उतारा है।

चुनाव से जुड़ी यह खबरें भी पढ़ें-

कल का चुनावी पोस्टर:उत्तर प्रदेश में राजनीतिक उठापटक पर रिलीज होने के लिए तैयार है फिल्म- बदलापुर

धर्म सिंह सैनी का इस्तीफा, ये BJP के तीसरे मंत्री:आज 4 विधायकों ने भाजपा छोड़ी, स्वामी प्रसाद ने कहा- भाजपा को UP से खत्म कर दूंगा

कांग्रेस के 125 नामों की पूरी लिस्ट:उन्नाव रेप पीड़िता की मां, चीरहरण कांड की पीड़िता को टिकट दिया, तो दूसरी तरफ बिकिनी गर्ल को भी उतारा

14 जनवरी को जारी होगी भाजपा उम्मीदवारों की सूची:योगी अयोध्या, केशव सिराथु से होंगे उम्मीदवार, निषाद पार्टी को पूर्वांचल की 18 सीटें मिलेंगी

गजब बन रहे हैं यूपी इलेक्‍शन पर गाने:आपने यूपी की टॉप 5 पार्टियों के गाने सुने? बादशाह के गाने भी फीके पड़ जाएंगे

खबरें और भी हैं...