• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Palghar Mob Lynching | Yogi Adityanath Speaks To Maharashtra Chief Minister Uddhav Thackeray Over Palghar Mob Lynching Incident

पालघर मॉब लिंचिंग मामला:योगी ने उद्धव से बात की, कहा- साधुओं के हत्यारों को कतई बख्शा न जाए

लखनऊ2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सीएम योगी ने महाराष्ट्र के सीएम उद्वव ठाकरे से फोन पर की बात। - Dainik Bhaskar
सीएम योगी ने महाराष्ट्र के सीएम उद्वव ठाकरे से फोन पर की बात।
  • यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार रात महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे से फोन पर बातचीत की थी
  • यूपी सरकार की ओर से बताया गया कि महाराष्ट्र सरकार ने आरोपियों पर कठोर कार्रवाई का आश्वासन दिया

महाराष्ट्र के पालघर में जूना अखाड़े के दो साधुओं और उनके ड्राइवर की मॉब लिंचिंग के मामले में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार रात वहां के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से फोन पर बातचीत की। योगी ने दोषियों पर कठोर कार्रवाई की मांग की। इस पर सीएम उद्धव ने दोषियों को नहीं बख्शने का आश्वासन दिया है। सीएम योगी ने साधुओं की हत्या पर शोक संवेदना प्रकट की है। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को ट्वीट किया-

अब तक पुलिस ने 110 को किया गिरफ्तार
महाराष्ट्र के पालघर के गड़चिनचले गांव में दो साधुओं समेत तीन की पीट-पीटकर हत्‍या कर दी गई। यह पूरी घटना वहां मौजूद कुछ पुलिसकर्मियों के सामने हुई। आरोपियों ने साधुओं के साथ पुलिसकर्मियों पर भी हमला किया। इसके बाद साधुओं को अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस ने मामले 110 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

अंतिम संस्कार में शामिल होने सूरत जा रहे थे साधु
वैन चालक दोनों साधुओं को लेकर कांदिवली से सूरत जा रहा था। वहां एक अंतिम संस्कार में शामिल होना था। उन्होंने वैन किराए पर ली थी। लॉकडाउन के बीच वे 120 किमी का सफर तय कर चुके थे। गड़चिनचले के पास वन विभाग के एक संतरी ने उन्हें रोक दिया। साधुओं की निर्मम हत्या का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

अखाड़ा परिषद की चेतावनी, कार्रवाई नहीं हुई तो आंदोलन करेंगे
उधर अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी ने कहा कि महाराष्ट्र के पालघर जिले के एक गांव में ब्रह्मलीन संत को समाधि देने जाते साधु-संतों पर पुलिस की मौजूदगी में एक धर्म विशेष के लोगों ने हमला कर दो साधुओं की हत्या कर दी। उन्होंने बताया कि पालघर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से फोन पर बात कर अखाड़ा परिषद ने अपना विरोध जताया है और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की है। उन्होंने महाराष्ट्र सरकार को चेताया कि अगर सरकार ने हत्यारों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की तो सभी अखाड़े बैठक कर महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ आंदोलन का शंखनाद करेंगे।

खबरें और भी हैं...