पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Uttar Pradesh Agra Police Covid Protocol Latest Update । UP Police Constable Cut Challan Of Ice Cream Businessman And Take 70 Thousand Rupees Line Hazir In Agra

भारी पड़ा रौब गांठना:आइसक्रीम कारोबारी से चालान के नाम पर अभद्रता, धमकाकर वसूले 70 हजार रुपए, 5 सिपाही लाइन हाजिर

आगरा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अनूप अग्रवाल, जिन्होंने पुलिस पर 70 हजार वसूली का आरोप लगाया है। पुलिस की जांच चल रही है। - Dainik Bhaskar
अनूप अग्रवाल, जिन्होंने पुलिस पर 70 हजार वसूली का आरोप लगाया है। पुलिस की जांच चल रही है।

आगरा में शहर कोतवाली के हींग की मंडी स्थित आइसक्रीम कंपनी के डीलर अनूप अग्रवाल उर्फ मोनू को डरा-धमकाकर 70 हजार रुपए की वसूली के आरोप में घिरे 5 सिपाहियों को लाइन हाजिर कर दिया गया है। CO की जांच में सिपाही अभद्रता और बिना सक्षम अधिकारी के पीड़ित का कोविड प्रोटोकॉल नियमावली के उल्लंघन का चालान काटने के दोषी पाए गए हैं। हालांकि अभी पैसे के लेनदेन के सबूत नहीं मिले हैं। इससे कारोबारी पर भी शक गहराने लगा है।

व्यापारी ने लगाया था ये आरोप

बोदला निवासी व्यापारी अनूप अग्रवाल की एक आइसक्रीम फैक्ट्री चलाते हैं। उनकी कोतवाली क्षेत्र के सेठ गली के पास फर्म है। अनूप अग्रवाल ने 13 मई को शिकायत की थी कि वे रात 9 बजे अपने तीन मित्रों के साथ कार में बैठे थे। तभी एक प्राइवेट कार में सवार थाना कोतवाली के पांच सिपाही आ गए। इसके बाद सेब का बाजार चौकी ले जाकर उन्हें सट्टे के केस में फंसाने की धमकी देकर 70 हजार रुपए छीन लिए।

सिपाही अभय ने काटा था चालान

एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने मामले की जांच के आदेश दिए थे। प्रारंभिक जांच में यह पुष्टि हुई कि प्राइवेट वाहन से सिपाही उन्हें लेकर सेब का बाजार चौकी आए थे और उनका बिना मास्क का चालान भी किया था। सिपाहियों द्वारा बिना अधिकारियों को सूचना दिए कार्य करने और महामारी एक्ट के उल्लंघन के आरोप सिद्ध होने पर उन्हें लाइन हाजिर कर दिया गया। पुलिस लाइन भेजे गए सिपाहियों में यादवेंद्र सिंह, हरीश कुमार, अश्वनी कुमार, शैलेंद्र कुमार और अभय प्रताप शामिल हैं। चालान अभय प्रताप द्वारा काटे गए हैं।

अभी चल रही जांच
मामले में पुलिस को अभद्रता के प्रमाण मिले हैं पर पैसे लेने का कोई सबूत नहीं मिला है। आरोप लगाने वाले व्यापारी के द्वारा गलत कार्यों में लिप्त होने का भी पुलिस को शक है। फिलहाल एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद मामले की जांच पूरी होने पर सही जानकारी देने की बात कह रहे हैं।

खबरें और भी हैं...