वाराणसी का मामला:पेड़ से लटकता मिला बुनकर का शव, परिवार ने हत्या की आशंका जताई, एक दिन पहले पुलिस ने गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखी थी

वाराणसीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
वाराणसी में बुनकर द्वारा सुसाइड किए जाने के बाद रोते बिलखते परिजन। - Dainik Bhaskar
वाराणसी में बुनकर द्वारा सुसाइड किए जाने के बाद रोते बिलखते परिजन।
  • लोहता थाना क्षेत्र का मामला, पावरलूम चलाता है परिवार

वाराणसी जिले के लोहता थाना क्षेत्र में सोमवार को एक बुनकर का शव पेड़ से लटकता मिला। परिजन ने हत्या की आशंका जताई है। पुलिस इसे सुसाइड मान रही है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।

रोते बिलखते परिजन।
रोते बिलखते परिजन।

रविवार को गुमशुदगी की रिपोर्ट पुलिस ने लिखी थी

लोहता थाना क्षेत्र के केराकतपुर गांव निवासी त्रिभुवन मौर्य रविवार को बिना बताए घर से कहीं चला गया था। परिजन ने उसकी खोजबीन की, लेकिन जब नहीं पता चला तो उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट थाने में लिखाई गई। लेकिन सुबह गांव के बाहर बाग में पेड़ से सहारे उसका शव लटकता मिला। फांसी गमछे से लगाई गई थी। राहगीरों ने देखा तो बात परिवार तक पहुंची। वहीं, पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पेड़ से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

त्रिभुवन पहले सूरत में बुनकरी का काम करता था। मृतक पांच भाईयों व दो बहनों मे दूसरे नंबर पर था। मृतक की दो लड़कियां और एक लड़का है। पत्नी गायत्री देवी का रो-रो कर बुरा हाल हो गया है। मृतक पावरलूम चलाता था। परिवार के लोगों ने हत्या की आशंका जताई है।

पहले भी घर से भाग चुका था त्रिभुवन

लोहता एसओ विश्वनाथ प्रताप सिंह ने बताया कि छानबीन में पता चला है कि कर्ज के चलते त्रिभुवन 7 साल पहले घर से भाग गया था। परिजनों ने किसी तरह खोजा और कर्ज चुकता किया था। हालांकि, इस बार अभी तक कर्ज और किसी विवाद की बातें सामने नही आई हैं।

खबरें और भी हैं...