पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Uttar Pradedh Panchayat Chunav Cirme Latest Update । Seven Years Old Innocent Killed In Gorakhpur; Clash In Two Group In Hathras

UP में चुनाव खत्म होते ही क्राइम बढ़ा:गोरखपुर में घर के बाहर खेल रहे 7 साल के बच्चे को अगवा किया, गला रेतकर हत्या; हाथरस में पथराव-फायरिंग

गोरखपुर/हाथरसएक महीने पहले
बच्चा आलोक मंगलवार को घर से लापता हुआ था।- फाइल फोटो

एक तरफ जहां उत्तर प्रदेश कोरोना की महामारी से जूझ रहा है। वहीं पंचायत चुनाव खत्म होते ही क्राइम भी बढ़ने लगा है। गोरखपुर में चुनावी रंजिश में अपहरण के बाद सात साल के बच्चे की गला रेतकर हत्या कर दी गई। वह अपने परिवार का इकलौता बेटा था। वहीं, हाथरस में दो गुटों के बीच मारपीट के बाद पथराव और फायरिंग हुई। इसमें 6 लोग गंभीर रुप से घायल हुए हैं। पुलिस ने 9 लोगों को हिरासत में लिया है।

दो दिन से लापता था बच्चा
गोरखपुर में बांसगांव क्षेत्र के विशुनपुरवा गांव में 7 साल के बच्चे की गला रेतकर हत्या कर दी गई। शुक्रवार सुबह उसका शव घर से कुछ दूरी पर झाड़ियों में मिला। मंगलवार की शाम घर के बाहर खेल रहा मासूम आलोक अचानक गायब हो गया। घरवालों ने उसकी तलाश की लेकिन कहीं पता न चला। थक हारकर घरवालों ने थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। 2 दिन से पुलिस मासूम की तलाश कर रही थी। आज घर से कुछ दूरी पर झाड़ियों में बच्चे की लाश मिली।

रिश्वतेदारों का कहना है कि घर के सदस्य द्वारा प्रधानी का चुनाव लड़ा गया था। इस दौरान गांव के ही कुछ लोगों से कहासुनी हुई थी। जिसको लेकर उन्होंने धमकी भी दी थी। शक है कि इसी वजह से मासूम की हत्या हुई है। बच्चे के चाचा शिव कुमार का कहना है कि हमें कुछ नहीं पता किसने और क्यों हत्या की। किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी। परिवार में कल चाचा के लड़के की शादी है। चुनाव संपन्न होने के बाद घर के सभी लोग शादी की तैयारी में लगे हुए थे। शिव कुमार ने रोते हुए कहा हम दो भाइयों के बीच आलोक ही घर का एक मात्र चिराग था।

थाना प्रभारी बांसगांव छवीनाथ सिंह का कहना है कि घरवालों ने दो दिन पहले गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखाई थी। पुलिस बच्चे की तलाश कर रही थी। इसी दौरान झाड़ी में लाश मिलने की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे। बच्चे की लाश झाड़ियों के बीच मिली। फॉरेंसिक टीम को बुलाया गया है। जांच की जा रही है।

हाथरस: चुनावी रंजिश में बदला जमीन का विवाद

गांव में तैनात फोर्स।
गांव में तैनात फोर्स।

हाथरस जिले में हसायन कोतवाली क्षेत्र के बरसा मई गांव में एक भूखंड को लेकर दो लोगों में काफी दिनों से विवाद है। दोनों पक्षों ने पंचायत चुनाव में प्रधानी पद का चुनाव लड़ा था। जिसमें से एक पक्ष से प्रत्याशी को जीत मिली है। चुनाव जीतने के बाद भूखंड का विवाद चुनावी रंजिश में बदल गया। गुरुवार की शाम दोनों पक्ष जमीन पर कब्जे को लेकर आमने-सामने आ गए। इसके बाद दोनों पक्षों में मारपीट हो गई। दोनों पक्षों की ओर से पथराव व फायरिंग भी की गई।

घटना की सूचना देने के बाद भी पुलिस समय से नहीं पहुंची। मारपीट में दोनों पक्ष के 6 लोग घायल हो गए। मारपीट के बाद पहुंची पुलिस ने घायलों को घायलों को उपचार के लिए अस्पताल भिजवाया। पुलिस ने 9 लोगों को हिरासत में लिया है।

क्षेत्राधिकारी सुरेंद्र सिंह ने बताया कि हसायन कोतवाली क्षेत्र के गांव बरसा मई में भूखंड के विवाद को लेकर दो पक्षों में मारपीट हुई है। पथराव और फायरिंग भी हुई है। पुलिस ने घटना में घायल लोगों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है। दोनों पक्षों की तहरीर के आधार पर कार्रवाई की जा रही है। घटना में शामिल 9 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

खबरें और भी हैं...