यूपी में 7 फेज में 25 दिन में होंगे चुनाव:10 फरवरी को पहले फेज में होगा मतदान, 10 मार्च को आएगा रिजल्ट; रैली, रोड शो पर 15 जनवरी तक रोक

लखनऊएक वर्ष पहले

यूपी की 403 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव 7 चरण में होंगे। चुनाव आयोग ने कहा है कि कोविड नियमों के साथ राज्य में चुनाव कराए जाएंगे। यूपी में पहले चरण के लिए 14 जनवरी को नोटिफिकेशन जारी होगा। 10 फरवरी को वोट डाले जाएंगे। 5 मार्च को आखिरी चरण में वोट डाले जाएंगे। 10 मार्च को रिजल्ट आएगा। वहीं, चुनाव आयोग ने 15 जनवरी तक सभी तरह की रैली, सभाओं और रोड शो पर रोक लगा दी है। इस तरह यूपी में चुनाव 25 दिन में संपन्न हो जाएंगे।

यूपी में मतदान की तारीखें-

  1. पहला फेज- 10 फरवरी
  2. दूसरा फेज- 14 फरवरी
  3. तीसरा फेज- 20 फरवरी
  4. चौथा फेज- 23 फरवरी
  5. पांचवां फेज- 27 फरवरी
  6. छठा फेज- 3 मार्च
  7. 7वां फेज- 5 मार्च
  • रिजल्ट- 10 मार्च को

मैप में देखिए... किस सीट पर किस फेज में चुनाव

चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस की बड़ी बातें-

  • 15 जनवरी के बाद जिला प्रशासन की अनुमति के बाद ही नेता रैली और सभा कर सकेंगे।
  • 15 जनवरी तक नुक्कड़ सभा पर रोक, जीत के बाद भी कोई शो नहीं कर सकेंगे।
  • किसी भी तरह की पद यात्रा, साइकिल यात्रा और रोड शो भी नहीं कर सकते हैं।
  • यूपी में 90% लोगों को वैक्सीन लग चुकी है।
  • डोर-टू-डोर कैंपेन में सिर्फ 5 लोगों को इजाजत मिलेगी।
  • चुनाव में फ्रंटलाइन वर्कर्स को बूस्टर डोज लगाई जाएगी।
  • 80 वर्ष से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांगों और कोविड-19 पॉजिटिव व्यक्ति पोस्टल बैलेट से मतदान कर सकते हैं।
  • आपराधिक आरोप वाले उम्मीदवारों की जानकारी पार्टियों को चुनाव आयोग को देनी होगी।
  • प्रत्याशियों के लिए चुनाव खर्च की लिमिट बढ़ाकर 40 लाख रुपए कर दी गई है।
  • हर बूथ पर मास्क और सैनिटाइजर की व्यवस्था की जाएगी।
  • बूथ पर पोस्टल बैलेट और व्हीलचेयर की भी व्यवस्था की जाएगी।
  • राजनीतिक दलों के लिए सुविधा ऐप बनाया गया है। इसके जरिए वे कहीं से भी कोई शिकायत कर सकते हैं।
  • इलेक्शन कमीशनर ने कहा कि समय पर चुनाव कराना हमारी जिम्मेदारी है।
  • कोरोना में सुरक्षित चुनाव कराने के लिए आयोग पूरी तरह तैयार है।
  • इसके लिए 5 राज्यों में पहले चुनावी तैयारियों की समीक्षा की गई।
  • अलग-अलग पार्टियों के नेताओं से फीडबैक भी लिया गया।
  • चुनाव आयोग ने एक दिन पहले ही यूपी को केन्द्रीय सुरक्षा की 150 कंपनियां एलॉट की हैं।
  • चीफ इलेक्शन कमीश्नर सुशील चंद्रा प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया।

यूपी में पिछली बार 7 चरण में हुए थे चुनाव
पिछली बार यूपी में 17वीं विधानसभा के लिए 403 सीटों पर चुनाव 11 फरवरी से 8 मार्च 2017 तक 7 चरणों में हुए थे। इनमें लगभग 61% मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इनमें 63% से ज्यादा महिलाएं थीं, जबकि पुरुषों का प्रतिशत करीब 60% रहा। चुनाव में भाजपा ने 312 सीटें जीतकर पहली बार यूपी विधानसभा में तीन चौथाई बहुमत से सरकार बनाने में सफल रही।

मई में खत्म होगा यूपी विधानसभा का कार्यकाल
यूपी में मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल मई में समाप्त हो जाएगा, जबकि अन्य 4 राज्यों में विधानसभाओं का कार्यकाल मार्च में अलग-अलग तारीखों पर समाप्त हो रहा है।

यूपी कों 150 केंद्रीय बलों की कंपनियां मिलीं
केंद्र से यूपी को केंद्रीय बलों की 150 कंपनी मिली हैं। इनमें सबसे ज्यादा 4 कंपनी प्रयागराज को दी गई हैं। इसके बाद आगरा, अलीगढ़, प्रतापगढ़, बरेली, मुरादाबाद, मथुरा, मैनपुरी, फिरोजाबाद, एटा, फतेहपुर, बदायूं, शाहजहांपुर, रामपुर, देवरिया, कुशीनगर, महाराजगंज, बस्ती, सिद्धार्थनगर, गोंडा, बहराइच, कन्नौज, झांसी, हरदोई, मिर्जापुर, सोनभद्र, नोएडा कमिश्नरेट, चंदौली, बागपत, मुजफ्फरनगर, मऊ, बुलंदशहर, गाजियाबाद, बाराबंकी, इटावा, बिजनौर को दो-दो कंपनी सीआरपीएफ दी गई है, जबकि बाकी जिलों को एक-एक कंपनी दी गई है।

खबरें और भी हैं...