• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Uttar Pradesh Big Breaking News Updates। 18 October 2021 Live Today News Updates Lucknow Agra Kanpur Varanasi Prayagraj Meerut

UP की आज की बड़ी खबरें:यूपी विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष सुखदेव राजभर का निधन, अखिलेश और योगी ने जताया दुख

लखनऊ9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सुखदेव राजभर ने साल 2012 में लालगंज निर्वाचन क्षेत्र से अपना पहला विधानसभा चुनाव लड़ा और 24 वोटों के काफी कम अंतर से जीत हासिल की थी। - Dainik Bhaskar
सुखदेव राजभर ने साल 2012 में लालगंज निर्वाचन क्षेत्र से अपना पहला विधानसभा चुनाव लड़ा और 24 वोटों के काफी कम अंतर से जीत हासिल की थी।

लंबे समय से बीमार चल रहे यूपी विधान सभा के पूर्व अध्यक्ष सुखदेव राजभर (70) का सोमवार को निधन हो गया। आजमगढ़ के दीदारगंज से वह बसपा से विधायक रहे। सुखदेव राजभर यूपी के पूर्वांचल के बड़े नेताओं में आते थे। दो महीने पहले सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव उनसे में गोमती नगर स्थित आवास पर गए थे।

सुखदेव राजभर ने बेटे कमलकांत को सपा में राजनीति करने को लेकर चर्चा चल रही थी। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू,भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र, सीएम योगी देव ने सोशल मीडिया पर दुख जताया है। बताया जा रहा है कि उनकी लखनऊ के निजी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई।

लखीमपुर हिंसा में शामिल आशीष मिश्र के दोस्त सुमित जायसवाल समेत 4 को SIT ने किया गिरफ्तार

लखीमपुर हिंसा में सोमवार को पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी। पुलिस ने सुमित जायसवाल उर्फ मोदी को गिरफ्तार कर लिया है। SIT ने सुमित के साथ ही उसके साथी नंदन, शिशुपाल और एक अन्य व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया है। अब माना जा रहा है कि मामले में जल्द ही नए खुलासे हो सकते हैं। सूत्रों के अनुसार सुमित उसी थार जीप में सवार था जिसने किसानों को कुचला था। जीप से उतरकर भागते समय उसका वीडियो भी किसी ने बनाया था जो बाद में वायरल हो गया था। हालांकि अभी से स्पष्ट नहीं हो सका है कि उसे कहां से गिरफ्तार किया गया है।

वीडियो वायरल होते ही हो गया फरार
लखीमपुर हिंसा के बाद जब घटना का वीडियो वायरल हुआ तो सुमित जायसवाल फरार हो गया था। जिसके बाद पुलिस को उसकी तलाश थी। मगर, उसके बारे में कुछ पता नहीं चल पा रहा था। यहां तक की उसकी लोकेशन भी पुलिस को नहीं मिल पा रही थी। सोमवार सुमित की गिरफ्तार से माना जा रहा है कि कई और नाम सामने आ सकते हैं। साथ ही ये भी स्पष्ट हो सकेगा कि घटना के समय गाड़ी में कौन-कौन मौजूद थे।

आज रात से प्रदेश को 340 मेगावॉट बिजली मिलेगी, बिजली संकट को लेकर नियामक आयोग का बड़ा फैसला

यूपी में बिजली संकट के बीच अभी से कुछ घंटों बाद हाइड्रो पावर की 340 मेगावॉट बिजली मिलना शुरू हो जाएगी।
यूपी में बिजली संकट के बीच अभी से कुछ घंटों बाद हाइड्रो पावर की 340 मेगावॉट बिजली मिलना शुरू हो जाएगी।

बिजली संकट के बीच आज रात से उत्तर प्रदेश को हाइड्रोपावर की 340 मेगावॉट बिजली मिलना शुरू हो जाएगी। नियामक आयोग ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है। जिसमें बताया गया है कि आज से यूपी को 5.57 रुपए प्रति यूनिट के हिसाब से बिजली मिलेगी। उपभोक्ता परिषद् ने नियामक आयोग के चेयरमैन आरपी सिंह का आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि इस संकट में आयोग के इस आदेश से उपभोक्ताओं को बड़ी राहत मिलेगी।

चंदौली में मालगाड़ी पटरी से उतरी, रूट पर ट्रेनों की आवाजाही ठप

मालगाड़ी को पटरी पर लाने की मशक्कत चल रही है।
मालगाड़ी को पटरी पर लाने की मशक्कत चल रही है।

चंदौली में पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेल रूट पर अलीनगर थाना क्षेत्र के मतकुट्टा गांव के पास एक मालगाड़ी ट्रैक से उतर गई। ट्रेन के पटरी से उतरने के बाद डीडीयू जंक्शन से गया रेल रूट पूरी तरह ठप हो गया है। लगभग 1 घंटे से रेल का संचालन ठप है।

घटना की जानकारी होते ही मौके पर डीडीयू रेल डिवीजन के डीआरएम राजेश कुमार पांडेय, एडीआरएम और आरपीएफ कमांडेंट आशीष मिश्रा घटना स्थल पर पहुंच गए। चंदौली के पुलिस अधीक्षक अमित कुमार भी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। मालगाड़ी को पटरी पर लाने का प्रयास किया जा रहा है।

दो दिन पहले कानपुर में उतरी थी ट्रैक से ट्रेन
कानपुर में नई-दिल्ली हावड़ा रेलवे रूट पर शुक्रवार सुबह एक मालगाड़ी के 22 डिब्बे अचानक पटरी से उतर गए थे। इससे इस रूट पर ट्रेनों का संचालन ठप हो गया था। अप और डाउन दोनों ट्रैक बाधित हो गए थे। हावड़ा-राजधानी, कानपुर-शताब्दी समेत कई ट्रेनें रद कर दी गई थीं। कई गाड़ियों का रूट बदल दिया गया था।

शाहजहांपुर में कोर्ट की तीसरी मंजिल पर वकील की गोली मारकर हत्या

शाहजहांपुर में दुस्साहसिक वारदात हुई है। यहां कचहरी की तीसरी मंजिल पर वकील भूपेंद्र प्रताप सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई। वारदात को अंजाम उस वक्त दिया गया जब वकील भूपेंद्र किसी काम से कोर्ट के रिकॉर्ड रूम में गए हुए थे। तभी उनको गोली मारी गई। गोली मारने के बाद बदमाश तमंचा मौके पर छोड़कर भाग निकला।

मौके पर भारी पुलिस बल तैनात है। कचहरी के सभी गेट पर भारी सुरक्षा व्यवस्था लगा दी गई है। मामला थाना सदर बाजार कोर्ट का है। पुलिस CCTV फुटेज खंगाल रही है। अभी हत्या का कारण भी स्पष्ट नहीं हो सका है।

रायबरेली में यूनाइटेड बैंक में लगी आग

आग पर काबू पाने का प्रयास करते पुलिसकर्मी।
आग पर काबू पाने का प्रयास करते पुलिसकर्मी।

रायबरेली में ऊंचाहार स्थित यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया की ब्रांच में सोमवार सुबह 8 बजे आग लग गई। इससे बैंक में लगे उपकरण समेत अन्य सामान जल गए। सूचना पाकर पहुंचे दमकल कर्मी आग बुझाने में जुटे हुए हैं। अग्निकांड की वजह शॉर्ट सर्किट बताई जा रही है।

सुबह बैंक पर नजर पड़ी तो बैंक से धुआं उठता देख आसपास के लोगों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने फायर ब्रिगेड को बुलाकर स्थानीय लोगों की मदद व फायर ब्रिगेड की मदद से आग पर काबू पाने का प्रयास किया जा रहा है।

लखनऊ में 50 हजार का वांटेड बांग्लादेशी डकैत पुलिस से मुठभेड़ में ढेर

डकैत हमजा।- फाइल फोटो
डकैत हमजा।- फाइल फोटो

लखनऊ में रविवार की रात बांग्लादेशी डकैतों से पुलिस की मुठभेड़ हुई। इस दौरान 50 हजार के इनामी डकैत पुलिस की गोली से घायल हो गया। उसे सिविल अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। मृतक डकैत की शिनाख्त हमजा के रूप में हुई है। वह लखनऊ में कई डकैतियों में शामिल रह चुका है।

यह मुठभेड़ गोमतीनगर इलाके में सहारा ओवरब्रिज के पास रात 2:20 बजे हुई। पुलिस के अनुसार 5-6 बदमाश डकैती की वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे। पुलिस टीम ने सभी की घेराबंदी की और रोकने का प्रयास किया। पुलिस पर बदमाशों ने फायर किया। जवाब में हमजा को गोली लगी, बाकी छिपते हुए भाग निकले। हमजा को सीने के पास गोली लगी थी। उसे इलाज के लिए सिविल में एडमिट कराया गया। लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

हमजा के पास से 1 पिस्टल, खोखा कारतूस व 1 आईडी जिस पर हमजा नाम लिखा हुआ है, बरामद हुई है। मुठभेड़ के दौरान पुलिस टीम के तीन पुलिसकर्मी हेड कांस्टेबल नागेंद्र बहादुर, कांस्टेबल रामनिवास और मुकेश चौधरी घायल हुए। इनका इलाज कराया गया है।

सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में टॉर्च की रोशनी में इलाज

रायबरेली जिला अस्पताल में टॉर्च की रोशनी में मरीजों का इलाज।
रायबरेली जिला अस्पताल में टॉर्च की रोशनी में मरीजों का इलाज।

रायबरेली में जिला अस्पताल में बत्ती गुल हो जाने पर इमरजेंसी में मरीज का इलाज टॉर्च की रोशनी में होता है। रविवार रात भी कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला। मरीज का इलाज मोबाइल की टॉर्च की रोशनी में हुआ। आरोप है कि बिजली जाने के बाद भी अस्पताल में समय से जनरेटर नहीं चलाया जाता है।

कर्मचारियों ने कहा- जनरेटर चलाने में हो जाती है देरी
बता दें कि सोमवार भोर 4 बजे एक मरीज जिला अस्पताल की इमरजेंसी में पहुंचा। उस समय अस्पताल में लाइट कट गई थी। इमरजेंसी में तैनात डॉक्टर ने जनरेटर चलवाना मुनासिब नहीं समझा और टॉर्च की रोशनी में मरीज का इलाज करने लगे। अस्पताल के कर्मचारियों का कहना है कि ट्रिपिंग के दौरान कभी-कभी जनरेटर चलाने में देर हो जाती है, इसके चलते दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

खबरें और भी हैं...